हाई ब्‍लड प्रेशर या हाइपरटेंशन दुनिया भर में प्रचलित स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं में से एक है। इस समस्‍या के होने पर धमनियों में ब्‍लड का प्रेशर बढ़ जाता है। इस समस्‍या का इलाज अगर समय पर ना किया जाए तो यह स्‍ट्रोक, हार्ट, किडनी और आंखों की अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का कारण बन सकती है। अगर आपका ब्‍लडप्रेशर लगातार हाई या 120/80 mmHg से ज्‍यादा रहता है, तो तुरंत डॉक्‍टर से सलाह लेनी चाहिए। दवाओं के अलावा आप लाइफस्‍टाइल में आसान से बदलाव करके भी हाई ब्‍लड प्रेशर आसानी से कंट्रोल कर सकती हैं। 

जी हां नमक का सेवन कम करना, पोटेशियम से भरपूर फूड्स ज्‍यादा लेने, जंक फूड, स्‍मोकिंग और एल्‍कोहल से बचने और वजन को कंट्रोल जैसे कुछ बदलाव को करके आप हाई ब्‍लड प्रेशर को आसानी से कंट्रोल कर सकती हैं। इसके अलावा एक सुपरफूड भी है जो हाई बीपी से परेशान महिलाओं के लिए वरदान की तरह है और इसका नाम फ्लैक्‍ससीड्स यानि अलसी है।

इसे जरूर पढ़ें: सिर्फ 3 खजूर और 1 महीने में High BP को कहें अलविदा

high blood pressure control flaxseeds inside

हाई बीपी को कंट्रोल करता है अलसी

सुपरफूड में बीपी लेवल को कट्रोल करने के अलावा कई तरह के हेल्‍थ बेनिफिट्स होते है। जी हां फ्लैक्ससीड्स में वज़न कम करने वाले तत्व होते हैं इसलिए यह वज़न कम करने में आपकी हेल्‍प करता है। जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया है कि हाई बीपी को कंट्रोल करने के लिए वेट को कंट्रोल करना बेहद जरूरी है क्‍योंकि मोटापा इस बीमारी के आम कारणों में से एक है। इसके अलावा अलसी के बीजों में पोटैशियम की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है जो हाई बीपी रोगियों के लिए अमृत का काम करती है क्‍योंकि यह नमक के प्रभाव को कम करती है। इसके अलावा शरीर में अतिरिक्त सोडियम पानी के संतुलन को बिगाड़ता है और इससे हाई बीपी होता है।

पोटेशियम सामग्री वासोडिलेटर के रूप में काम करती है और यूरीन के माध्यम से एक्‍स्‍ट्रा सोडियम को दूर करता है। क्या आप जानती हैं कि 100 ग्राम फ्लैक्ससीड्स में 813 मिलीग्राम पोटेशियम होता है। और शायद यह बात आप नहीं जानती थी। इतना ही नहीं, ये बीज ब्‍लड ग्‍लूकोज और कोलेस्‍ट्रॉल के लेवल को कंट्रोल में रखने में हेल्‍प करता है। 

Recommended Video

2016 में आयोजित एक अध्ययन के अनुसार, जिन प्रतिभागियों ने हेल्‍दी डाइट के साथ फ्लैक्ससीड लिया, उनमें सिस्टोलिक और डायस्टोलिक प्रेशर कम पाया गया। एक यादृच्छिक मेटा-विश्लेषण पर आधारित एक अन्य अध्ययन के अनुसार, यह भी पता चला है कि अलसी का सेवन विशेष रूप से पूरा खाने से ब्‍लड प्रेशर को पॉजिटीव रुप से प्रभावित करता है।

इसे जरूर पढ़ें: हाई ब्‍लड प्रेशर में भरपूर नींद लेने से मिलेगा जबरदस्‍त फायदा, जानिए कैसे

high blood pressure control one remedy inside

हाई बीपी को कंट्रोल करने के लिए अलसी ही क्‍यों?

पोटेशियम के अलावा, अलसी के बीज ओमेगा -3 फैटी एसिड और फाइबर से भी भरपूर होते हैं और हम इस बात को बहुत अच्‍छी तरह से जानते हैं कि ये पोषक तत्‍व हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कितने जरूरी है। अलसी मे मौजूद अल्फा-लिनोलेनिक एसिड और लिगनान भी हाई बीपी को कंट्रोल में रखने में हेल्‍प करते हैं। ये लिगनेन डाइजेशन हेल्‍थ, डायबिटीज के जोखिम और खराब कोलेस्ट्रॉल में भी सुधार करते हैं।

आप चाहे तो इसे ऐसे ही पानी में भिगोकर ले सकती हैं या चाहे तो इसको पीसकर पाउडर बनाकर भी दही, ओटमील, स्‍मूदी और बेक्‍ड चीजों में इस्‍तेमाल कर सकती है। अगर आप अलसी का बहुत ज्‍यादा फायदे पाना चाहती हैं तो अंकुरित अलसी लें क्‍योंकि इसमें प्रोटीन और ओमेगा-3 फैटी एसिड की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है।