HerZindagi पर #HerVoice

के माध्यम से अपने सपनों को जीएं।

अपने शब्दों के माध्यम से लाखों पाठकों तक पहुंचें। कुकिंग, सजावट, फैशन, फाइनेंस या ट्रैवल में अपने जुनून को बढ़ावा दें और अपनी फेवरेट वुमेन लाइफस्‍टाइल वेबसाइट HerZindagi.com पर प्रकाशित अपनी कहानी देखें। यह आपके सपनों को पाने का एक महत्वपूर्ण कदम हो सकता है, उस रेसिपी की किताब की तरह जिसे आप हमेशा लिखना चाहती थीं या जिस फैशन ब्लॉग को आप जल्‍द शुरू करना चाहती हैं! HerZindagi को उस यात्रा का हिस्सा बनाएं और अन्य महिलाओं को भी ऐसा करने के लिए इंस्‍पायर करें।

हम आपको अपनी पर्सनल कहानियां, आपकी राय और सलाह शेयर करने के लिए भी प्रोत्साहित करते हैं। यदि आप अपने बारे में बताना नहीं चाहती हैं तो हम इसका भी पूरा ध्‍यान रखेंगे। अन्यथा हम आपके काम को फैन्‍स के साथ पूरी तरह से पब्लिश और शेयर करेंगे! तो अभी से शुरू करें!

P.S- अपनी तस्वीरें और सोशल मीडिया हैंडल को अपने ब्लॉग के साथ सबमिट करना न भूलें। हम आपको आपकी कहानी के साथ हमारे सोशल प्लेटफॉर्म पर टैग करेंगे :)

Guidelines

+

Guidelines

#HerVoice में आपका स्वागत है। हमारा ये सेक्शन आपको निमंत्रण देता है कि बतौर पाठक आप हमारे इस क्रिएटिव प्रोसेस का हिस्सा बनें।

HerZindagi.com एक मंच है जहां आप अपनी आवाज़, अपनी कहानियां और अपनी रूचियां बता सकते हैं और आपके अलावा ऐसा कोई भी नहीं है जो आपकी कहानी को उसी अंदाज़ में बताए। तो हमें बताएं कि आपको क्या पसंद है? आपके ट्रैवल, फैशन और कुकिंग हैक्स क्या हैं? क्या आपके पास कोई निजी कहानी है? तो अपने दिल की बात शब्दों में बयान करने का ये है एक मौका। नीचे दी गयी कुछ गाइडलाइन्स हैं जो आपको HerVoice से जुड़ने में मदद करेंगी।

कैसे करें शुरुआत?

अपना टॉपिक चुनें और ध्यान रहे कि आपको ओरिजनल टॉपिक चुनना है। उन टॉपिक्स के बारे में लिखें जिनसे आप ज्यादा जुड़ाव महसूस करते हैं। अपनी राय और विशेषता को शेयर करें। ध्यान रहे, अपने लेखन में आप किसी जाति, धर्म, समाज के खंड का अपमान या उन्हें निशाना न बनाएं।

तय करें कि आप दुनिया को क्या बताना चाहती हैं। ये आपकी खास रेसिपी या फिर किचन हैक हो सकता है। हो सकता है कि आप अपनी कहानी के माध्यम से हज़ारों HerZindagi के पाठकों को प्रेरित भी करना चाहें। हमारे साथ उन कठिनाइयों को साझा करें जिन्होंने आपको मजबूत बनाया है। ये कुछ भी हो सकता है, किसी भावनात्मक परेशानी से लेकर किसी आर्थिक दिक्कत तक। हो सकता है कि आपको अपने परिवार से वो अनुमोदन या समर्थन न मिला हो जिसकी आपने आस रखी हो या फिर अपने खुद के अस्तित्व को ही छला हुआ महसूस किया हो। हमें अपने जीवन के उस ख़ास पल का हिस्सा बनाएं जिसने आपको नए सिरे से परिभाषित किया है।

प्रक्रिया-

जैसे ही आप अपनी कॉपी हमारे ईमेल - herzindagi@gmail.com या info@herzindagi.com पर, विषय पंक्ति में #HerVoice के साथ जमा कर देते हैं, हमारी टीम के राइटर्स आपकी प्रस्तुतियां पढ़ेंगे और कुछ स्टैंडर्ड चेक्स के बाद ये HerZindagi.com पर आपकी तस्वीर और क्रेडिट के साथ पब्लिश की जाएंगी।

हम किसकी खोज में हैं?

  • आपके सबमिशन्‍स ओरिजनल होने चाहिए और कहीं से भी कॉपी नहीं होना चाहिए।
  • ना ही आपकी स्‍टोरी किसी अन्य वेबसाइट पर पब्लिश होनी चाहिए।
  • हम आपको आपके जैसे, बिलकुल वास्तविक और विशुद्ध देखना और जानना चाहते हैं।

आर्टिकल कितना लम्बा होना चाहिए?

हम आपकी कहानी को विस्तार से पढ़ना पसंद करेंगे। कृपया 500-1000 शब्दों की लंबाई बनाए रखें। इसके अलावा, कहानी से संबंधित कोई भी चित्र साझा करें जिसे आप अपनी कॉपी के साथ देखना चाहेंगे।

यदि आपके मन में अभी भी कोई संदेह या सुझाव या कुछ भी है जिसे आप जानना चाहते हैं, तो कृपया हमसे संपर्क करें herzindagi@gmail.com या info@herzindagi.com पर, और विषय पंक्ति में #HerVoice का उल्लेख करना न भूलें।

आपकी कहानियों का इंतजार है!

Love
Team HerZindagi

हर वॉइस

Muskan Rajkotia hervoice main

किचन स्टोरीज

खाना बनाना नहीं है आसान, अब समझ में आया

कभी कुछ बनाने की फरमाइश तो कभी कुछ, लेकिन लॉकडाउन में समझ आया कि खाना बनाने के लिए कितने धैर्य और समर्पण की जरूरत होती है।  

sushma singh Hervoice peom

मातृत्व

मां जैसी कोई नहीं; आखिर क्यों इतनी ख़ास होती है मां?

मां बनकर ही मैंने समझा कि आखिर मां इतनी खास क्‍यों होती है। आइए आप भी इस कविता के माध्‍यम से जानें। 

sushma singh Hervoice main

नारीत्व

जानें कौन हैं कुसुम ताई जिनसे मिलकर दिखी बापू की झलक

जब कुसुम ताई से एक मुलाकात पर मुझे लगा कि मैं गांधी जी से मिलकर आई हूं। इससे जुड़े मेरे एक्सपीरियंस के बारे में जानें-    

daughters are special hervoice m

मातृत्व

सर्दियों में गुनगुनाती धूप-सी होती हैं बेटियां

बेटियों के बारे में यूं तो बहुत कुछ है जो पहले भी कहा जा चुका है, पर फिर भी ऐसा बहुत कुछ है जो कहने के लिए रह गया है। पढ़ें मेरी ये खास कविता-

deepali kiran Hervoice main

लाइफ हैक्स

कोराना काल में मदद के नाम पर क्‍या आप पर भी चढ़ गए ये एहसान?

आइए उन एहसानों के प्रकार के बारे में जानते हैं जो लोगों ने कोरोना काल में जताने शुरू कर दिए।

charu sharma Hervoice main

लाइफ हैक्स

कुछ रंग जो बनाते हैं फैशन को बेहद ख़ास, पहनने का सही तरीका जानें

कुछ रंग ऐसे होते हैं जो आपकी पर्सनालिटी को निखार सकते हैं। ऐसे ही कुछ रंगों के बारे में मेरे साथ आप भी जानें। 

pindi chhole recipe hervoice m

किचन स्टोरीज

पिंडी छोले की स्‍पेशल रेसिपी, घर में आसानी से मिनटों में बनाएं

छोले हर जगह एक खास अंदाज में बनाए जाते हैं फिर चाहे वो दिल्ली हो या चेन्नई। पढ़ें मेरी ये स्पेशल पिंडी चना रेसिपी जो आपके खाने में एक अलग स्वाद ले आएगी।

manju goresia Hervoice main

नारीत्व

रिटायरमेंट के बाद ख्वाहिशों को जीने के ये तरीके भी हो सकते हैं खास

बढ़ती उम्र में जिंदगी रूकती नहीं हैं, बल्कि रिटायरमेंट के बाद भी आप बहुत कुछ सीख सकती हैं। इस आर्टिकल में जानें मेरा एक्‍सपीरियंस-   

meena gupta recipe  for Hervoice main

किचन स्टोरीज

घर में बची हुई रोटी को फेंकने की जगह, बनाएं आसान पकवान

अगर रोटी बच जाए, तो उसका इस्‍तेमाल इस आर्टिकल में बताए स्वादिष्ट व्यंजन को बनाकर करें।

tirthan travel diary hervoice

ट्रेवल स्टोरीज

एक अनोखा अहसास: दिलकश नजारों और सपनों की घाटी है तीर्थन

हर शख्स अपनी ज़िन्दगी के कुछ खास लम्हे, खास यादें अपने हर सफर में साथ ले जाता है। ऐसी ही कहानी कुछ मेरी भी है।

manali personal trip tips Hervoice main

ट्रेवल स्टोरीज

हर मौसम में घूमने के लिए जन्नत है मनाली हिल स्टेशन

मनाली में जब चिड़ियों की चहचहाहट कानों में पड़ी तो मानो मैं किसी जन्नत के सफ़र पर निकल पड़ी हूं।