स्वास्थ्य को केवल एक के शरीर के आकार से परिभाषित नहीं किया जा सकता है और कई अन्य पहलुओं को शामिल किया जाता है। अच्छा स्वास्थ्य एक व्यक्ति की धरोहर है जो आपके शारीरिक स्वास्थ्य, मानसिक स्वास्थ्य, भावनात्मक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य का गठन करता है। जीवन का भरपूर आनंद लेने के लिए हमें स्वस्थ, और मजबूत होना चाहिए। रोगग्रस्त मन या बीमार शरीर जीवन के असंख्य अनुभवों को याद नहीं कर पाता है। यही कारण है कि हमें अपनी भलाई के लिए पोषण और देखभाल करने की आवश्यकता है। इसमें मन, शरीर और आत्मा के सभी विभिन्न पहलुओं का ध्यान रखना शामिल है।

योग की मदद से हम शारीरिक रूप से फिट, मानसिक रूप से सतर्क, भावनात्मक रूप से संतुलित और आध्यात्मिक रूप से आनंदित हो सकते हैं। यह प्राचीन और दिव्य विज्ञान है जो हमारे पूरे अस्तित्व का ख्याल रखता है। जब हम सकारात्मक ऊर्जा से भर जाते हैं तब हम अच्छे स्पंदनों को विकीर्ण कर सकते हैं और शांति के साथ दिन को संभाल सकते हैं। हमारे स्वस्थ मानसिक और भावनात्मक अवस्थाओं का एक प्रतिबिंब शांत, संयमित और जागरूक रहने की क्षमता है। यहां 3 आसन हैं जिनके अभ्यास से आप इन सभी पहलुओं का लाभ ले सकते है। इन योगासन की सबसे अच्‍छी बात यह है कि इसके बारे में हमें योगा मास्टर, फिलांथ्रोपिस्ट, धार्मिक गुरू और लाइफस्टाइल कोच ग्रैंड मास्टर अक्षर जी बता रहे हैं। 

प्रसारिता पादोत्तानासन

Prasarita Padottanasana. inside

  • इसे करने के लिए अपने पैरों को चौड़ा और पैर की उंगलियों को अंदर की ओर इंगित करें।
  • अपने घुटनों को सीधा रखें।
  • हथेलियों को अपने कंधों के नीचे रखें।
  • अपने सिर को जितना संभव हो उतना कम छोड़ें।
  • पीठ को यथासंभव सीधा रखना चाहिए।
  • 30 सेकंड के लिए 3 सेट होल्डिंग तक दोहराएं।
  • जब आप अपनी हथेलियों को आकाश की ओर खोलते हैं, तो श्वास छोड़ते हैं।

बाल बकासन

bal bakasan inside

  • मार्जरी आसन से शुरू करें।
  • अपनी कोहनी को सपाट रखें।
  • अपनी उंगलियों को अलग फैलाएं और उन्हें आगे की ओर इंगित करें।
  • इस तरह से आगे झुकें कि आपके शरीर का सारा वजन आपके ट्राइसेप्स पर आ जाए।
  • अपने संतुलन का पता लगाएं और धीरे-धीरे अपने दोनों पैरों को जमीन से ऊपर उठाएं। 
  • अपने पैरों को एक साथ लेकर आए। 
  • एक बिंदु पर ध्यान केंद्रित करें और थोड़ी देर के लिए इस आसन में रहें।

सांस लेने की विधि: सांस छोड़े सामान्य रूप से।

Recommended Video


पादोत्तानासन

Padottanasana. inside

  • अपनी पीठ के बल लेट कर शुरुआत करें (यदि जरूरत हो तो आप साहयता के लिए दीवार का उपयोग कर सकती हैं)।
  • अपने पैरों को सीधा रखें और अपने कूल्हों के ऊपर संरेखित करें।
  • आराम करें और गहरी सांस लेते हुए अपनी आंखें बंद करें।
  • इस मुद्रा में 30 सेकंड तक रहें या जब तक आप सहज हों।

सांस लेने की विधि: सामान्य रूप से सांस छोड़ते हैं।

योग एक अभ्यास है जो आपको शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्थिति को अनगिनत लाभ देता है। योगिक अभ्यास के विभिन्न पहलुओं में आसन शामिल हैं। जो आपके शरीर को मजबूत और टोन करता हैं, और इसे लचीला बनाता हैं। प्राणायाम सांस का विनियमन है जो आपके जीवन में जीवन शक्ति जोड़ता है। यह एक डिटॉक्‍स तंत्र के रूप में भी मदद करता है। मेडिटेशन की तकनीकें आपके मन को शांत करती हैं और तनाव को दूर करती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:40 की उम्र की हर महिला को ये 3 योगासन करने चाहिए, रहेंगी फिट और जवां

योग और आध्यात्मिकता की सुंदरता यह है कि इसके लिए किसी महंगे उपकरण या प्रॉप्स की जरूरत नहीं है। इन सभी विभिन्न कारकों को पोषित करने के साथ, हम अपने उच्चतम लक्ष्यों और उद्देश्य के साथ खुद को संरेखण में पा सकते हैं।

आप भी इन 3 योगासन को करके तन और मन को फिट रखने के साथ खुद को सुंदर भी बना सकती हैं। फिटनेसे से जुड़ी और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com