क्‍या आप फिट रहने के लिए योग करना चाहती हैं?
लेकिन सर्दियों में सुबह बिस्‍तर छोड़ने का मन नहीं करता है?
कुछ समझ में नहीं आ रहा है कि बढ़ते वजन को कैसे कम किया जाए?
तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि आज हमारी एक्‍सपर्ट योग गुरू नेहा आपको ऐसे योग के बारे में बता रही हैं जिसे आप उठने के बाद बिस्‍तर पर ही कर सकती हैं। योगा गुरु नेहा, द योग गुरु तथा वुमेन हेल्‍थ रिसर्च फाउंडेशन (ट्रस्‍ट) की संस्‍थापक हैंं।

योग तन और मन को शांत करने का एक प्राकृतिक तरीका है। रोजाना योग करने से आप खुद को सुंदर और फिट बनाए रख सकती हैं। सर्दियों में तो योग करना बेहद जरूरी होता है क्‍योंकि बहुत ज्‍यादा चटपटा और ऑयली खाने, सर्द मौसम के कारण एक्टिविटी में कमी और डाइजेशन स्‍लो होने से कई तरह की समस्‍याएं घेरने लगती हैं। यह बात जानने के बावजूद सर्दियों में रजाई छोड़कर बिस्‍तर से निकलकर मैट पर आकर योग करने का मन नहीं करता है। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे योगासन लेकर आए हैं जिन्‍हें आप आसानी से बिस्‍तर पर बैठकर कर सकती हैं। यूं तो योग खुली हवा में जाकर ही करना बेहतर होता है लेकिन अगर आपका सर्दियों के मौसम में बिस्‍तर छोड़ने का मन नहीं करता है तो इन योगासन को जरूर करें।

बिस्‍तर में किए जाने वाले योग

  1. भुजंगासन 
  2. मर्कटासन
  3. धनुरासन
  4. शलभासन
  5. मार्जरी आसन

भुजंगासन

cobra pose inside

इस योगासन को आप अपने बिस्‍तर पर आसानी से कर सकती हैं। भुजंगासन को अंग्रेजी में कोबरा पोज कहते हैं और यह दिखने में फन फैलाए सांप जैसे आकार का आसन है, इसलिए इसे इस नाम से जाना जाता है। यह आसन शरीर के एक्‍स्‍ट्रा फैट को कम करता है और शरीर को फ्लेक्सिबल बनाता है। चेहरे में ब्‍लड सर्कुलेशन ठीक तरह से करता है जिससे त्वचा टाइट होती है। इसे करने से चेहरे की नसों में कई तरह के खिंचाव होते हैंं जिससे चेहरे की झुर्रियां कम होती हैंं।

इसे जरूर पढ़ें:बिस्तर पर बैठे-बैठे ये 6 एक्‍सरसाइज करें, होगा वेट लॉस और रहेंगी फिट

करने का तरीका

  • इसे करने के लिए पेट के बल बिस्‍तर पर लेट जाएं।
  • अब दोनों हाथ के सहारे शरीर के कमर से ऊपरी हिस्से को ऊपर की तरफ उठाएं। 
  • ऐसे करते हुए कोहनी मुड़़ी, हथेली खुली और जमीन पर फैली होनी चाहिए।
  • अब शरीर के बाकी हिस्सों को बिना हिलाए-डुलाए चेहरे को बिल्कुल ऊपर की ओर ले जाएं। 
  • कुछ समय के लिए इस स्थिति में रहें।
  • फिर वापस पुरानी पोजीशन में आ जाएं। 

मर्कटासन

markatasana inside

मर्कटासन को बंदर आसन के रूप में भी जाना जाता है। यह सबसे फेमस स्पाइनल ट्विस्ट योगा मुद्रा है जो आपकी रीढ़ में लचीलापन लाता है और पीठ के निचले हिस्से में दर्द से राहत दिलाता है। साथ ही मर्कटासन स्‍पाइन कोर्ड के लिए होता है। यह रिलैक्सिंग पोज है जो अनिद्रा और थकान के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

करने का तरीका

  • इसके लिए पीठ के बल लेटकर दोनों हाथों को कमर के नीचे रखें। 
  • फिर दोनों पैरों को जोड़कर घुटनों से मोड़ लें। 
  • अब कमर से नीचे के हिस्से को ट्विस्ट करते हुए पैरों को दाईं तरफ बगल में बिस्‍तर पर टिका दें। 
  • इस पोजीशन में आपका सिर उल्‍टी साइड होना चाहिए। 
  • फर्श पर घुटनों को छूने की कोशिश करें और जहां तक संभव हो दाई ओर देखें।
  • अब सांस छोड़ते हुए वापस पहली पोजीशन में आ जाएं।
  • अब दूसरी साइड से इस आसन को करें।

धनुरासन

dhanurasana inside

इस योग को करने से चेहरे पर ग्‍लो आता है और पेट की चर्बी तेजी से कम होती है। इसके अलावा यह पेट की प्रॉब्‍लम्‍स और ब्‍लड सर्कुलेशन को तेज करने के लिए अच्छा होता है।

करने का तरीका

  • धनुरासन करने के लिए बिस्‍तर पर पेट के बल लेट जाएं।
  • दोनों पैरों को मिलाकर घुटनों से मोड़ें।
  • फिर दोनों हाथों को पीछे ले जाकर दोनों पैरों को टखनों से पकड़ें। 
  • सांस बाहर छोड़ते हुए पैरों को स्‍ट्रेच करें।
  • साथ ही सिर को पीछे की ओर ले जाने की कोशिश करें। 
  • शरीर का पूरा वजन नाभि पर पड़ने दें।
  • सांस खींचते हुए पकड़ ढीली करें। 
  • इस योगासन को कम से कम 5 बार करें।

शलभासन

shalabhasaninside

इसे भी आसानी से बिस्‍तर पर किया जा सकता है। यह वजन कम करने के साथ पेट की चर्बी को कम और जांघों को सही आकार देने में मदद करता है। डाइजेशन को सुधारता है और पेट के अंगों को भी मजबूत बनाता है। इसे करने से पीठ के निचले हिस्से पर दबाव पड़ता है जिससे पीठ, हाथों और कंधों की मजबूती व लचीलापन बढ़ता है।

करने का तरीका

  • बिस्‍तर पर अपने पेट के बल लेट जाएं। 
  • दोनों हाथ शरीर के बगल में, हथेलियां नीचे की ओर और ठोड़ी फर्श पर रखें। 
  • धीरे-धीरे लगभग एक फुट ऊंचा और घुटने से सीधा रखते हुए दाहिने पैर को ऊपर उठाएं। 
  • इस स्थिति में 5-6 सांसों तक रुकें और आराम करें। 
  • इसे दूसरे पैर से भी दोहराएं। 
  • इस तरह से आप 3 से 5 बार करें।
 

Recommended Video

मार्जरी आसन

cat pose inside

इसे अंगेजी में कैट पोज़ के नाम से जाना जाता है। अगर आप इसे नियमित रूप से करती हैं तो गर्दन के दर्द से छुटकारा पा सकती हैं। इस आसन को करने से रीढ़ और पीठ की हड्डियों का दर्द भी छूमंतर हो जाता है। इस आसन से पेट की चर्बी कम होती है, ब्लड का संचार बेहतर होता है और डाइजेशन सिस्टम में भी सुधार होता है।

इसे जरूर पढ़ें:Weight loss के लिए अब आपको नहीं बहाना होगा पसीना, सिर्फ bed पर लेटे-लेटे करें ये exercises

करने का तरीका

  • इसके लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं।
  • हथेलियों को थाइज के नीचे रखें।
  • सांस अंदर लेते हुए बायां पैर उठाएं।
  • फिर पैर को सीधा रखें।
  • सांस छोड़ें और बाएं पैर को नीचे लेकर आएं।
  • यही प्रक्रिया अपने दाएं पैर से भी दोहराएं।
  • फिर सांस लेते हुए दोनों पैरों को जितना हो सके उतना ऊपर ले जाएं।
  • आखिर में सांस छोड़ते हुए पैर नीचे लाएं।
  • इस तरह से आप 3 से 5 बार करें।

अगर आप भी सर्दियों में खुद को फिट रखना चाहती हैं लेकिन बिस्‍तर छोड़ने का मन नहीं है तो इन योगासन को बेड पर ही करें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com