बॉलीवुड की कुछ एक्‍ट्रेसेस बढ़ती उम्र के साथ जवां और खूबसूरत दिखाई देती हैं। इन एक्‍ट्रेसेस की लिस्‍ट में माधुरी दीक्षित का नाम भी शामिल है। ऐसा लगता है कि मानो वह उम्र को पीछे पछाड़ रही हैं। माधुरी को देखकर कोई भी उनकी असली उम्र का अंदाजा नहीं लगा सकता है। 54 साल की उम्र में भी वह अपनी उम्र से कम से कम 14 साल छोटी दिखाई देती हैं।

अगर आप भी बढ़ती उम्र के साथ खुद को जवां, खूबसूरत और फिट बनाए रखना चाहती हैं तो उनकी तरह अपने फिटनेस रूटीन में तुलासन योग को शामिल करें। जी हां कुछ दिनों पहले माधुरी ने तुलासन करते हुए अपनी एक फोटो इंस्‍टाग्राम पर शेयर की हैं। इसके कैप्‍शन में उन्‍होंने लिखा, ''कुछ योग के साथ मेरे नासमझ पक्ष को अपनाना।'' आप भी खुद को फिट और खूबसूरत बनाए रखने इसे कर सकती हैं। आइए इसे करने के तरीके और फायदों के बारे में विस्‍तार से जानें।   

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Madhuri Dixit (@madhuridixitnene)

क्या आपने हर तरह के योग करने की कोशिश की है, लेकिन फिर त्‍वचा पर ग्‍लो पाने में असमर्थ हैं? तो अपने फिटनेस रूटीन में तुलासन को शामिल करें। इस योग को आप बिना किसी उपकरण के आसानी से कर सकती हैं। तुलासन योग के सबसे महत्वपूर्ण आसनों में से एक है। यह दो शब्दों का मेल है, जहां तुला का अर्थ संतुलन और आसन का अर्थ मुद्रा है। कई स्वास्थ्य लाभों के साथ, तुलासन लोटस पोज का एडवांस वर्जन है, इसे रेज लोटस पोज मुद्रा भी कहा जाता है।

लेकिन इससे पहले कि हम आपको तुलासन करने के आश्चर्यजनक लाभ बताएं, हम आपके साथ शेयर करना चाहते हैं कि इसे कैसे करना है? तो आइए इसे करने के सही तरीके के बारे में जानें।

इसे जरूर पढ़ें:52 की उम्र में भी माधुरी दीक्षित की स्किन करती है इतना ग्‍लो, फिटनेस और ब्‍यूटी सीक्रेट जानें 

तुलासन करने का सही तरीका

tulasanaa inside  

  • पद्मासन (लोटस पोज) में अपनी योग चटाई पर बैठ जाएं।
  • अपने हाथों को आराम दें और उन्हें अपने हिप्‍स के पास रखें। 
  • अब, दोनों हथेलियों को फर्श पर प्रेस करें अपने हाथों को सीधा रखें। 
  • सांस छोड़ें और अपने ऊपरी शरीर को ऊपर उठाने की कोशिश करें।
  • अपने शरीर के वजन को अपने दोनों हाथों पर बैलेंस करें। जितना हो सके इस मुद्रा में रहने की कोशिश करें। 
  • शुरुआत में इस मुद्रा में 10 से 20 सेकंड तक रह सकती हैं। 
  • इस मुद्रा से बाहर निकलने के लिए, धीरे-धीरे सांस लें और वापस प्रारंभिक मुद्रा में आ जाएं।
  • अपने पैरों को सीधा करें और रिलैक्‍स करें।

तुलासन करने के फायदे

tulasana inside

  • तुलासन कंधों, बाहों, चेस्‍ट और पेट को मजबूत करता है। इस हिस्‍से में ब्‍लड फ्लो में सुधार करता है और आपकी मसल्‍स को टोन और मजबूत बनाता है। 
  • तुलासन दर्द को कम करने में मदद करता है और कंधे, बाहों, चेस्‍ट और पेट में चोट के जोखिम को रोकने में मदद करेगा। 
  • तुलासन करने से पेट की चर्बी कम करने में मदद मिलती है।
  • तुलसना ट्राइसेप्स और बाइसेप्स को टोन करता है। 
  • तुलसना कब्ज, अनुचित मल त्याग जैसे डाइजेशन हेल्‍थ में सुधार करता है और पाचक रस और एंजाइम के उत्पादन को बढ़ावा देता है। 
  • तुलासन टखनों, कूल्हे, घुटने और हिप्‍स की मसल्‍स को मजबूत करता है। 
  • तुलासन मन और एकाग्रता का ध्यान बढ़ाता है। मस्तिष्क में ब्‍लड फ्लो को बढ़ावा देने में मदद करता है। 
  • तुलासन रिप्रोडक्टिव अंगों को उत्तेजित करने में मदद करता है। कूल्हों, काफ और थाइज की मसल्‍स की ताकत में सुधार करने में मदद करता है।
  • तुलासन करने से चेहरे पर ग्‍लो आता है और यह बढ़ती उम्र को थमाने में मदद करता है।

Recommended Video

madhuri dixit secret yoga inside

सावधानी

  • अगर निम्‍न में से कोई भी हेल्‍थ से जुड़ी समस्‍या है तो इस मुद्रा को करने बचें- 
  • अगर आप गंभीर पीठ की चोट, हिप्‍स की चोट, टखने की चोट और घुटने की चोट से पीड़ित हैं। 
  • यदि आपकी हाल ही में पीठ या कमर की सर्जरी हुई है तो इसे करने से बचें।
  • जो महिलाएं हाई या लो ब्‍लडप्रेशर से परेशान हैं उन्हें यह आसन बिना किसी एक्‍सपर्ट की देख-रेख में करना चाहिए। 
  • यदि आप तेज सिरदर्द से पीड़ित हैं तो इस आसन से बचें। 
  • हर्निया के किसी भी रूप से पीड़ित महिलाओं को इस योग से बचना चाहिए।
  • पद्मासन के साथ सहज नहीं होने वालों के लिए इस मुद्रा की सिफारिश नहीं की जाती है। 
  • अगर आपके कंधे, कलाई, टखने या घुटने में चोट है तो इस आसन को करने से पहले सतर्क रहें।

आप भी बढ़ती उम्र को थमाने और वजन कम करके खुद को फिट रखने के लिए रोजाना इस योग को जरूर करें। फिटनेस से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।