तन और मन को दुरुस्‍त रखने के लिए योग को फायदेमंद माना जाता है। एक्‍सपर्ट भी न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से हेल्‍दी रहने के लिए बार-बार योग की ओर जोर देते हैं क्‍योंकि इससे आपको बहुत फर्क महसूस होता है। अब इस बात का खुलासा आपकी फेवरेट एक्‍ट्रेस जैकलिन फर्नांडीस ने भी किया है। हाल ही में उन्‍होंने योग की मदद से बढ़ती एंग्जाइटी को दूर किया है और इस बात की जानकारी उन्‍होंने अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट के माध्‍यम से फैन्‍स के साथ शेयर की है। अगर आपको भी एंग्जाइटी ने घेर रखा है तो बॉलीवुड की फिट एक्‍ट्रेस जैकलीन की तरह आप भी अपने रूटीन में योग को शामिल करके इसे दूर करें। आइए इस आर्टिकल के माध्‍यम से जानें जैकलीन ने कौन से योगासन से इस समस्‍या से छुटकारा पाया है। 

जी हां कोरोना वायरस लॉकडाउन ने लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डाला है, जो नौकरी के नुकसान से लेकर घर पर अकेले रहने तक, दोस्तों और परिवार के सदस्यों से दूर रहने सहित अन्य कारणों से प्रभावित हुए हैं। जारी संकट ने दुनिया भर के लोगों में चिंता और अन्य मानसिक स्वास्थ्य मुद्दों को जन्म दिया है। वर्षों में किए गए अध्ययनों से पता चला है कि योग शारीरिक और मानसिक दोनों स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ाता है। रेगुलर योग करने वाला व्‍यक्ति शारीरिक रूप से कम से कम 50 प्रतिशत अधिक एक्टिव होता है। इससे मानसिक स्वास्थ्य में सुधार की संभावना भी ज्‍यादा होती है।

जैकलिन फर्नांडीस 'एंग्‍जाइटी' का सामना कैसे कर रही थीं? इस बात का खुलासा करने के लिए उन्‍होंने हाल ही में इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें रेस 3 की एक्‍ट्रेस योग का अभ्‍यास कर रही हैं। इस वीडियो के कैप्‍शन में उन्‍होंने लिखा है, "मैं पिछले कुछ हफ्तों से मेजर एंग्‍जाइटी से जूझ रही थी। हालांकि योग ने मुझे इस क्षण में रहने, जीवन के लिए और अधिक महत्वपूर्ण होने और जीवित रहने का मूल्यवान सबक सिखाया है।"

इसे जरूर पढ़ें: मानसिक सेहत को दुरुस्‍त रखते हैं ये 3 योगासन, रोजाना सिर्फ 10 मिनट करें

जैकलीन ने जो वीडियो पोस्ट किया है, उसमें वह कई तरह के योगा करती नजर आ रही हैं, जिसमें अधोमुख श्वानासन, चक्रासन, शीर्षासन, उसके बाद एक-पैर वाला हेडस्टैंड और बहुत सारे योग कर रही हैं। इनमें से प्रत्येक आसन के अपने स्वास्थ्य लाभ हैं। उनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

अधोमुख श्वानासन

adhomukhsavasan

इस योगासन को कुछ महिलाएं डाउनवर्ड फेसिंग डॉग पोज के नाम से भी जानती हैं। यह आसन मस्तिष्क को शांत करता है और तनाव को दूर करने में मदद करता है। यह कंधे, हाथ, पैर और हैमस्ट्रिंग को बढ़ाता है और शरीर को एनर्जी से भरपूर बनाता है।

अधोमुख श्वानासन करने का तरीका

  • सबसे पहले अपने शरीर को हाथों और पैरों के बल कर लीजिए। 
  • इसके बाद अपने घुटनों को भी हवा में उठा लीजिए। 
  • आपके पैरों और हाथों पर ही शरीर का पूरा वजन होना चाहिए।
  • अब अपने हिप्स को उठा लीजिए। 
  • इसे करते समय आपकी बॉडी उल्‍टे v शेप में होनी चाहिए। 
  • इसके बाद अपने शरीर को स्ट्रेच कीजिए। 
  • ध्यान रहे घुटने या हाथ मुड़ें नहीं।

चक्रासन

yoga poses

इस आसन को करते समय हमारी आकृति चक्र की तरह हो जाती है इसलिए इसे चक्रासन या व्‍हील पोज के नाम से जाना जाता है। यह योगासन एनर्जी को बढ़ाता है और डिप्रेशन को दूर करने के लिए जाना जाता है। यह चेस्‍ट और लंग्‍स को खोलता है और हाथ, पैर, हिप्‍स, पेट और रीढ़ को मजबूत करता है। यह अस्थमा और पीठ दर्द को दूर करने में भी मदद करता है

करने का तरीका

  • इस आसन को करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल लेट जाएं।
  • पैरों को घुटने से मोड़ें जिससे एड़ी हिप्स को छुए और पंजे जमीन पर हो। 
  • अब गहरी सांस लेते हुए कंधे, कमर और पैर को ऊपर की ओर उठाएं। 
  • इस प्रक्रिया के दौरान गहरी सांस लें और छोड़ें। 
  • फिर हिप्स से लेकर कंधे तक के भाग को जितना हो सके ऊपर उठाने का प्रयास करें। 
  • कुछ देर बाद नीचे आ जाएं और अपनी सांसों को नॉर्मल कर लें।

Recommended Video

शीर्षासन

headstand

इस उल्टे योग मुद्रा से ब्रेन में ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ता है। यह तनाव, डिप्रेशन और अनिद्रा की समस्‍या को दूर करने में मदद करने के लिए जाना जाता है। साथ ही यह गर्दन, पेट, कंधे और बाजुओं में मसल्‍स को मजबूत करता है।

इसे जरूर पढ़ें: रोजाना सिर्फ 10 मिनट ये 7 स्‍ट्रेच करें, बढ़ता वजन और चर्बी होगी गायब

करने का तरीका

  • शीर्षासन को करने के लिए सबसे पहले वज्रासन में घुटनों पर बैठ जाएं।
  • फिर अपने दोनों हाथों की अंगुलियों को इंटरलॉक कर लें।
  • अंगुलियों को इंटरलॉक करने के बाद हथेली को कटोरी के आकार में रखकर, धीरे से सिर को झुकाकर हथेली पर रखें।
  • इसके बाद धीरे-धीरे दोनों पैरों को ऊपर उठाएं और एकदम सीधा रखें। 
  • शुरुआत में आप पैरों को उठाने के लिए दीवार या किसी का सहारा ले सकती हैं।
  • शरीर को एकदम सीधा रखें और बैलेंस को अच्‍छी तरह बनाए रखें। 
  • इस पोजिशन में 15 से 20 सेकंड तक रहें।
  • अब धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए, पैरों को नीचे जमीन पर वापस ले आएं।

इन योगासन को करके आप भी जैकलीन की तरह अपनी एंग्‍जाइटी को दूर कर सकती हैं। फिटनेस से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।