सूर्य को जल चढ़ाने का महत्‍व और इसके फायदों का वर्णन पौराणिक कथाओं में भी मिलता है। माना जाता है कि सूर्य को रोजाना जल चढ़ाने से ना केवल आपको शांति मिलती है बल्कि आपकी हेल्‍थ भी ठीक रहती है। इस बात पर पहले मुझे भी विश्‍वास नहीं था कि ऐसे कैसे हो सकता है? लेकिन जब से मैं खुद सूर्य को जल चढ़ाने लगी हूं मुझे खुद में इतना बदलाव दिखा और मुझे भी इस बात पर विश्‍वास होने लगा है।

जी हां कुछ दिनों पहले की बात हैं, ''मैं हड्डियों में दर्द के कारण मैं बहुत डिप्रेस हो गई थी। मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि मैं क्‍या करूं।'' तब मेरे पड़ोस में रहने वाली एक आंटी ने मुझे बताया कि ''तुम रोजाना सुबह नहा-धोकर सूरज को जल चढ़ाया करो, तुम्‍हें बहुत फायदा होगा।'' मैंने  उनकी बात मानी और रोजाना सुबह सूर्य को जल चढ़ाना शुरू किया। उनकी बात सच निकली, मुझे कुछ दिनों में ही खुद में बदलाव दिखाई देने लगा। सूर्य को जल चढ़ाने से विटामिन डी मिलता है, मन शांत रहता है और आंखों की हेल्‍थ के लिए भी यह बहुत अच्‍छा होता है, आइए जानें कैसे। लेकिन सबसे पहले हम ये जान लेते हैं कि सूर्य को जल कैसे चढ़ाना चाहिए।     

सूर्य को जल चढ़ाने के नियम 

  • सूर्य को जल देने के लिए शीशे, प्लास्टिक, चांदी आदि किसी भी धातु के बर्तन का प्रयोग नहीं करना चाहिए। सूर्य को जल देते समय केवल तांबे के पात्र का ही प्रयोग उचित है। साथ ही सूर्य को जल चढ़ाने से अन्य ग्रह भी मजबूत होते हैं। कुछ लोग सूर्य को अर्घ्य देते समय जल में गुड़ या चावल भी मिला लेते हैं। ये अर्थहीन है, इससे प्रभाव कम होने लगता है।
  • दोनों हाथों से सूर्य को जल देते हुए ये ध्यान रखें की उसमें सूर्य की किरणों की धार जरूर दिखाई दे।
  • पूर्व दिशा की ओर ही मुंह करके ही जल चढ़ाना चाहिए।
  • अगर किसी दिन ऐसा हो कि सूर्य देव नजर ना आ रहे हों तो पूर्व दिशा की ओर मुंह करके जल दें।
  • जल देते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वह पानी आपके पैरों से स्पर्श न करे।

इसे जरूर पढ़े: इम्‍यूनिटी strong बनाने के लिए ladies इन 5 चीजों को सिर्फ 1 बार जरूर खाएं

बढती है इम्‍यूनिटी

वैज्ञानिकों ने माना है कि सुबह के समय जब हम सूर्य को जल चढ़ाते है तो सूर्य से निकलने वाली किरणें हमें हेल्‍दी बेनिफिट्स देती हैं। सुबह के समय सूरज की जो किरणें निकलती हैं ये बॉडी में होने वाले रंगों के असंतुलन को सही करती हैं। सूरज की किरणों में सात रंगों का समावेश होता है। यह रंग 'रंगो के विज्ञान' पर काम करते हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि सुबह के समय सूर्य को जल चढ़ाने समय इन किरणों के प्रभाव से ये रंग बैलेंस हो जाते हैं और साथ ही साथ बॉडी में इम्‍यूनिटी बढ़ जाती है।

boost energy level health inside

दूर होती है विटामिन डी की कमी

आजकल हम पूरा दिन ऑफिस और घरों में एसी में बैठे रहते हैं जिसके चलते बॉडी में विटामिन डी की कमी होने लगती है। और हमारी बॉडी को कई तरह की बीमारियां घेर लेती है। सूर्य को जल चढ़ाने से आपको विटामिन डी भी मिलता है। जी हां सूर्य की रोशनी बॉडी में विटामिन डी की कमी नहीं होने देती और विटामिन डी की कमी से बॉडी में उत्पन्न होने वाले रोग नहीं हो पाते। अगर आपकी बॉडी में विटामिन डी की कमी
हैं तो रोजाना सूर्य को जल चढ़ाएं।

पॉजिटीव एनर्जी

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सूर्य को देवों की श्रेणी में रखा गया है। उन्हें भक्तों को प्रत्यक्ष दर्शन देने वाला भी कहा जाता है। वैज्ञानिक दृष्टिकोण से भी सूर्य का विशेष महत्व है। इसे पॉजिटीव एनर्जी का प्रतीक माना जाता है। सूर्य की किरणें बॉडी में मौजूद बैक्टीरिया को दूर कर निरोग बनाने का काम करती हैं।

मन होता है एकाग्रत

जो महिलाएं रोजाना सूर्य देव को जल अर्पण करती हैं, सूर्य देव हमेशा उन पर अपनी कृपा बनाए रखते हैं। जी हां सूर्य को जल चढ़ाने से मन एकाग्रचित्त होता है। जिससे सीखने की क्षमता बढ़ती है। ऐसी महिलाएं मुश्किल से मुश्किल समस्या का समाधान भी चुटकियों में कर लेती हैं। इसके अलावा सूर्य को जल चढ़ाने से मन में अच्छे विचार आते है। जिससे प्रसन्नता का अनुभव होता है। इससे सोचने-समझने की क्षमता बढ़ती है। ये आपकी इच्छाशक्ति को मजबूत करने का भी काम करता है।

आती है भरपूर नींद

रोज सुबह जल्दी उठने और रात को जल्दी सोने की प्रक्रिया से बॉडी का बैलेंस बना रहता है। इससे थकान, नींद न आने व सिर में दर्द जैसी समस्याओं को दूर करता है। ये ब्रेन को एक्टिव बनाता है।

sleeping health sun inside

हर अंग पर पड़ता है असर

हमारी बॉडी पांच तत्‍वों से मिलकर बनी है। इनमें एक तत्‍व अग्नि भी है। सूर्य को अग्नि का कारक माना गया है। इसलिए सुबह सूर्य को जल चढ़ाने से उसकी किरणें पूरी बॉडी पर पड़ती है। जिससे हार्ट, स्किन, आंखे, लीवर और ब्रेन जैसे सभी अंग एक्टिव हो जाते हैं। इसके अलावा सूर्य की सुबह की रोशनी आपकी सुंदरता बढ़ाने का काम भी करती है और आंखों की समस्या से भी निजात दिलाती है।

तो देरी किस बात की आज से ही मेरी तरह आप भी रोजाना सूर्य को जल चढ़ाएं।