Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    इन 3 कारणों से शरीर में कम होता है आयरन, यूं करें बचाव

    आपको थकावट महसूस होती है और नाखून बहुत कमजोर है तो यह आयरन की कमी के लक्षण हैं। 
    author-profile
    Updated at - 2022-12-21,19:13 IST
    Next
    Article
    reasons for iron deficiency in hindi

    दुनिया की लगभग एक तिहाई आबादी में आयरन की कमी है। हालांकि, यह एक जरूरी मिनरल है जिसे आपके शरीर को ठीक से काम करने की आवश्यकता होती है। इसलिए, अपनी डेली डाइट में पर्याप्त मात्रा में इसका सेवन करना बेहद महत्वपूर्ण है। 

    आयरन की कमी से होने पर एनीमिया की समस्‍या हो सकती है। यह एक ऐसी कंडीशन है जिसमें ब्‍लड में पर्याप्त हेल्‍दी रेड ब्‍लड सेल्‍स की कमी होती है। रेड ब्‍लड सेल्‍स ऑक्सीजन को शरीर के टिशूज तक ले जाते हैं।

    पर्याप्त आयरन के बिना, आपका शरीर रेड ब्‍लड सेल्‍स में पर्याप्त पदार्थ का उत्पादन नहीं कर सकता है जो उन्हें ऑक्सीजन (हीमोग्लोबिन) ले जाने में सक्षम बनाता है। नतीजतन, आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया आपको थका हुआ और सांस लेने में तकलीफ दे सकता है। साथ ही बाल झड़ने की समस्‍या और नाखूनों में कमजोरी आ जाती है। 

    इसके अलावा, इम्‍यून सिस्‍टम  का सही काम आंशिक रूप से पर्याप्त आयरन पर निर्भर करता है। इम्‍यून सिस्‍टम हमें संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। दिलचस्प बात यह है कि आपके द्वारा खाए जाने वाले फूड्स न केवल आपके द्वारा उपभोग किए जाने वाले आयरन की मात्रा को प्रभावित करते हैं, बल्कि यह भी कि यह आपके शरीर में कितनी अच्छी तरह अवशोषित होता है। 

    इसकी कमी से शरीर में कई तरह की समस्‍याएं होने लगती हैं। इसलिए आज हम आपको 3 ऐसे कारणों के बारे में बता रहे हैं जिसके चलते शरीर में आयरन की कमी हो जाती है। इसकी जानकारी हमें नूट्रिशनिस्ट मनोली मेहता जी दे रही हैं। वह डायबिटीज शिक्षक और वेट मैनेजमेंट स्‍पेशलिस्‍ट हैं। यह जानकारी उन्‍होंने अपने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से शेयर की हैं। 

    इसे कैप्‍शन में लिखा, 'आयरन दो तरह के होते हैं। हीम आयरन एनिमल में पाया जाता है जिनमें हीमोग्लोबिन होता है, जैसे मीट, फिश और मुर्गी पालन। हीम आयरन, आयरन का सबसे अच्छा रूप है क्योंकि इसका 40% तक आपके शरीर द्वारा आसानी से अवशोषित कर लिया जाता है।'

    इसे जरूर पढ़ें:प्रेग्नेंसी में महिला के लिए क्यों जरूरी है आयरन, जानिए

    'नॉन-हीम आयरन मुख्य रूप से प्‍लांट स्रोतों से आता है और अनाज, हरी पत्तेदार सब्जियों और फोर्टिफाइड फूड में मौजूद होता है। यह आयरन से समृद्ध या फोर्टिफाइड फूड्स के साथ-साथ कई सप्‍लीमेंट में जोड़ा जाने वाला रूप है। इसकी जैवउपलब्धता के संदर्भ में, नॉन-हीम आयरन हीम आयरन की तुलना में बहुत कम कुशलता से अवशोषित होता है।'

    1. कैल्शियम और आयरन एक साथ लेना

    calcium

    हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए कैल्शियम एक जरूरी मिनरल है। हालांकि, यह आयरन के अवशोषण में बाधा डालता है। अवशोषण को अधिकतम करने के लिए, कैल्शियम युक्त फूड्स को ऐसे भोजन के साथ नहीं खाना चाहिए जो आपके अधिकांश आहार आयरन प्रदान करते हों।

    सप्लीमेंट्स के मामले में, यदि संभव हो तो कैल्शियम और आयरन सप्लीमेंट दिन के अलग-अलग समय पर लेने चाहिए।

    2. विटामिन-सी से भरपूर फूड्स की कमी

    डाइट में विटामिन-सी की कमी से भी शरीर में आयरन की कमी हो जाती है। विटामिन-सी को आयरन के अवशोषण को बढ़ाने में मदद करता है। यह नॉन-हीम आयरन को पकड़ता है और इसे ऐसे रूप में स्‍टोर करता है जो आपके शरीर द्वारा अधिक आसानी से अवशोषित हो जाता है। 

    इसलिए, जब आप हाई आयरन वाले फूड्स खा रहे हों तो सिट्रस जूस पीने या विटामिन-सी से भरपूर अन्य फूड्स खाने से आपके शरीर का अवशोषण बढ़ सकता है।

    3. कैफीन/टैनिन का सेवन

    Caffeine intake

    इन ड्रिंक्स में मौजूद टैनिन और पॉलीफेनोल्स आपके लिए जितने अच्छे हैं, आयरन के अवशोषण को बाधित करेंगे। इसे चाय, कॉफी, अंडे, डेयरी प्रोडक्‍ट्स और सोयाबीन प्रोडक्‍ट्स के साथ न लें, क्योंकि ये आपके सिस्टम में जाने वाले आयरन की मात्रा को कम कर सकते हैं।

    इसे जरूर पढ़ें:डेली डाइट में आयरन इनटेक बढ़ाने के लिए इन हैक्स की लें मदद

    इन फूड्स या ड्रिंक्‍स को लेने से पहले 2 घंटे का अंतर जरूर करें।

    इन कारणों से आपके शरीर में भी आयरन की कमी हो सकती है। अगर आपको भी हेल्‍थ से जुड़ी कोई समस्या है तो हमें आर्टिकल के नीचे दिए कमेंट बॉक्स में बताएं और हम अपनी स्टोरीज के जरिए इसका हल करने की कोशिश करेंगे। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।

    Image Credit: Shutterstock & Freepik

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।