आयरन एक महत्वपूर्ण मिनरल है, जिसकी आवश्यकता शरीर के कई महत्वपूर्ण कार्यों को पूरा करने के लिए होती है। यह एनर्जी प्रॉडक्शन, ग्रोथ, डेवलपमेंट, हार्मोन सिंथेसिस और इम्युन सिस्टम को बूस्ट अप करने में मदद करता है। इसलिए यह कहा जाता है कि अपनी डाइट में हर व्यक्ति को आयरन रिच फूड जरूर शामिल करने चाहिए। यकीनन यह सच है, लेकिन पूरी तरह से सच नहीं है। मसलन, अगर आप आयरन रिच डाइट ले रही हैं, लेकिन अगर आपका शरीर उस आयरन को अब्जॉर्ब नहीं कर रहा है तो ऐसे में यकीनन आपके शरीर  को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए यह जरूरी हो जाता है कि आप आयरन रिच फूड को खाने के साथ-साथ उन तरीकों पर भी ध्यान दें, जिनकी मदद से आपका शरीर आयरन को अब्जॉर्ब कर सके। एक बार जब आयरन को अवशोषित किया जाता है तो इसका उपयोग हीमोग्लोबिन के लिए एक बिल्डिंग ब्लॉक के रूप में किया जाता है, लाल रक्त कोशिकाओं में प्रोटीन जो पूरे शरीर में ऑक्सीजन ले जाने में सहायक होता है। तो चलिए आज दिल्ली के इन्द्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल की कंसल्टेंट डायटेटिक्स अनीता जताना आपको बता रही हैं शरीर में आयरन अब्ज़ॉर्प्शन बढ़ाने के लिए किन तरीकों का सहारा लिया जाए-

graphic

खाएं स्मार्टली

inside  iron talks

अगर आप चाहती हैं कि आपके शरीर में आयरन का अब्ज़ॉर्प्शन बेहतर तरीके से हो तो इसके लिए आपको थोड़ा स्मार्टली खाना खाना होगा। मसलन, आप आयरन रिच फूड तो खाएं ही। लेकिन इसके साथ-साथ विटामिन सी को भी प्रमुखता से अपनी डाइट में शामिल करें। इतना ही नहीं, आप कोशिश करें कि आप आयरन और विटामिन सी का सेवन एक साथ करें। ऐसा करने से शरीर में आयरन का अब्ज़ॉर्प्शन बेहतर तरीके से होता है। विटामिन सी फूड्स में आप नींबू, संतरा, शिमला मिर्च, टमाटर, आंवला आदि को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं। वहीं, साबुत अनाज, अनाज, सोया, नट, और फलियों में पाए जाने वाले खाद्य पदार्थों में फाइटेट या फाइटिक एसिड होता है। फाइटेट आयरन अब्ज़ॉर्प्शन पर नेगेटिव असर डालता है और विटामिन सी फूड्स की मदद से उसे काउंटर किया जा सकता है। इस लिहाज से भी मील्स में विटामिन सी फूड्स का सेवन करना बेहद आवश्यक है। 

आयरन और कैल्शियम को ना लें एक साथ

inside

हालांकि कैल्शियम बोन हेल्थ के लिए काफी जरूरी माना जाता है। लेकिन अगर इसका सेवन आयरन रिच फूड्स के साथ किया जाए तो इससे शरीर में आयरन अब्ज़ॉर्प्शन में बाधा उत्पन्न होती है। इसलिए शरीर में आयरन अवशोषण बढ़ाने के लिए, कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन उन आहारों के साथ नहीं किया जाना चाहिए जिनमें आहार आयरन होता है। इसके अलावा, यदि आप सप्लीमेंट्स ले रही हैं, तो दिन में अलग-अलग समय पर कैल्शियम और आयरन सप्लीमेंट लेने चाहिए।

इसे ज़रूर पढ़ें- Expert Tips: मुंह का स्‍वाद वापिस लाने के लिए अपनाएं ये 2 नुस्‍खे

चाय और कॉफी से बनाएं थोड़ी दूरी

inside  iron and culcium

वैसे तो चाय व कॉफी का सेवन सीमित मात्रा में करने की ही सलाह दी जाती है। लेकिन आपको इसे कभी भी अपने मील्स के साथ बिल्कुल नहीं लेना चाहिए। दरअसल, चाय व कॉफी में टैनिन होता है और यह भोजन में मौजूद आयरन अब्ज़ॉर्प्शन में बाधा पैदा करता है। इसलिए यह जरूरी है कि आप आयरन रिच फूड और चाय या कॉफी के बीच कुछ घंटों का अंतर अवश्य रखें।  

Recommended Video

लोहे के बर्तन का उपयोग करें

inside  loh

यह भी एक तरीका है, जिसकी मदद से आप अपने फूड में आयरन की मात्रा को बढ़ा सकती हैं और इस तरह अपने आहार की मदद से शरीर में आयरन अब्ज़ॉर्प्शन को बेहतर बना सकती हैं। इसके लिए आप कोशिश करें कि आप अपने फूड आइटम्स को लोहे के बर्तन में पकाएं। ऐसा करने से लोहे के बर्तन की गुणवत्ता आपके आहार में शामिल होगी और आपको अधिक आयरन प्राप्त होगा।

इसे ज़रूर पढ़ें-अपने आहार में शामिल करें ये खट्टे फल, नहीं होगी विटामिन-सी की कमी

 

नॉन-वेज फूड को करें शामिल

inside  non veg food

अगर आप मांसाहारी है तो नॉन-वेज फूड जैसे एग, चिकन व फिश आदि को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं। दरसअल, इस तरह के फूड आइटम्स से आपको हीम आयरन मिलता है और यह शरीर में अधिक बेहतर तरीके से अब्जॉर्ब होता है। वहीं वेज फूड् से मिलने वाले आयरन के को नॉन-हीम आयरन की श्रेणी में रखा जाता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik