ऐसा कहा जाता है कि भोजन करते वक्‍त मन शांत होना चाहिए और आसान सही होना चाहिए तब ही खाना अच्‍छे से पच पाता है। हालांकि, आजकल की भागती दौड़ती जीवनशैली में किसी के पास इतना समय नहीं है कि वह तसल्‍ली से बैठ कर दो वक्‍त का खाना खा सके। रही सही कसर टीवी, मोबाइल और लैपटॉप ने पूरी कर दी है। 

आदमी इन सभी में उलझ कर खाने की ओर ध्‍यान देना ही भूल जाता है। इसका नतीजा यह होता है कि खाना अच्‍छे से पच ही नहीं पाता है। गंभीर और सोचने वाली बात तो यह है कि यदि ठीक प्रकार से भोजन न किया जाए तो शरीर को अन्‍य कई बीमारियों से जूझना पड़ता है। 

अगर आप भारत में भोजन करने के ट्रेडिशनल अंदाज की बात करें तो जमीन पर पैरों को क्रॉस करके बैठने और फिर भोजन करने को ही सही तरीका माना गया है। मगर फैशन के इस दौर में सभी टेबल और चेयर पर बैठ कर भोजन करने के आदी हो चुके हैं। 

न्‍यूट्रिशनिस्‍ट शोनाली सभरवाल ने इससे जुड़ी एक इंस्‍टाग्राम पोस्‍ट शेयर की है, जिसमें उन्‍होंने जमीन पर बैठ कर खाने का महत्‍व और फायदे बताए हैं। वह कहती हैं, 'भोजन करने के इस अंदाज का इतिहास पुराना है। यह एक आयुर्वेदिक तरीका है अपने पाचन तंत्र को दुरुस्‍त बनाए रखने का। इस तरह से भोजन करने के लिए आपको सुखासन में बैठना चाहिए। ' इतना ही नहीं,  शोनाली इसके फायदे भी बताती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: गर्मी के मौसम में जरूर खाएं ये 3 दालें

eating food on the floor

शरीर को भोजन के लिए तैयार करता है 

न्‍यूट्रिशनिस्‍ट लिखती हैं, 'जमीन पर पैरों को क्रॉस करके बैठने से आपके ब्रेन को यह सिगनल्‍स पहुंचते हैं कि आपका शरीर भोजन के लिए तैयार है।' इस आसन में बैठ कर भोजन करने पर वह जल्‍दी पच जाता है। दरअसल यह आसन पेट की मांसपेशियों को गतिशील बनाता है, जिससे भोजन को पचाने में सहायता मिलती है। 

भोजन की ओर आपका फोकस बढ़ाता है 

ऐसा कहा जाता है कि खाने को जितना चबा कर खाया जाए सेहत के लिए उतना ही अच्‍छा होता है। यदि आप इस आसन में बैठ कर भोजन करती हैं तो आपका सारा ध्‍यान खाने की ओर ही होता है। ऐसे में खाने को आप अच्‍छे से चबा कर खा पाती हैं। इससे आपको बदहजमी की शिकायत नहीं होती है। 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: भिंडी का जूस पीने के फायदे और उसे बनाने की विधि जानें

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Shonali Sabherwal (@soulfoodshonali)

 

ओवरईटिंग करने से रोकता है 

जाहिर है, अगर आपका ध्‍यान भोजन पर नहीं होगा तो आप भूख से अधिक भी भोजन कर सकती हैं। ऐसा करने पर आपको पेट दर्द, भारीपन, बदहजमी (बदहजमी के लिए अपनाएं ये 10 रामबाण घरेलू उपचार) या फिर फूड पॉइजनिंग जैसी शिकायत हो सकती हैं। मगर यदि आप इस आसन में बैठ कर भोजन करती हैं तो आपका पूरा ध्‍यान खाने पर ही होगा और आप उतना ही भोजन करेंगी जितनी आपको भूख है। 

benefits of sitting cross legged by expert

सुखासन के फायदे- 

सुखासन यानी जमीन पर पैरों को क्रॉस करके बैठना। यह एक बेहद आसान योगा पोज है। इसे करने के लिए आपको फर्श पर एक आसनी बिछा कर आलथी-पालथी के आसन में बैठना होता है। इस दौरान आपको यह भी सुनिश्चित करना होता है कि आपकी रीढ़ की हड्डी और गर्दन दोनों स्‍ट्रेट हो। सुखासन से आपको कई फायदे होते हैं। कुछ फायदों के बारे में हम आपको बताते हैं। 

  • इस आसन में बैठने से आपकी बॉडी और माइंड दोनों रिलैक्‍स हो जाते हैं। 
  • यदि आपको डिप्रेशन की शिकायत है तो इस आसन में 10 मिनट बैठने पर आपको काफी राहत महसूस होगी। 
  • केवल भोजन ही नहीं आप सुखासन की मुद्रा में बैठ कर अपने मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को सुधारने के लिए मेडिटेशन भी कर सकती हैं। 
  • यह आपके घुटनों को मजबूत बनाता है इससे मांसपेशियों में खिंचाव आता है और घुटनों के अलावा टखने और हिप्‍स की हड्डियां भी मजबूत बनती हैं।  
eating food by expert

वज्रासन के फायदे- 

खाना खाने के तुरंत बाद वज्रासन (वज्रासन के फायदे) जरूर करना चाहिए। इसे करने के लिए आपको घुटनों से पैरों को पीछे की ओर मोड़ कर फर्श पर बैठना। इस दौरा अपनी पीठ और गर्दन दोनों को सीधा रखें। इसे करने के कई फायदे हैं- 

Recommended Video

  • यह आपके पाचन तंत्र को सुधारता है। अगर आप इस आसन का नियमित अभ्‍यास करते हैं तो आपको कब्‍ज नहीं होता है। 
  • इसके साथ ही व्रजासन पीठ को मजबूत बनाता है और कमर से जुड़ी समस्‍याओं को दूर करता है। 
  • अगर पीरियड्स के दौरान आपको बहुत अधिक दर्द होता है और ऐंठन की शिकायत रहती है तो उसमें भी यह आपको लाभ पहुंचाता है। 
  • इस योगासन का नियमित अभ्‍यास करने पर आपका वजन भी कम हो जाता है। 

य‍ह आर्टिकल आपको अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें और साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Freepik