प्रेग्‍नेंसी और बच्‍चे का जन्‍म किसी भी महिला के जीवन का सबसे खूबसूरत सफर होता है। हालांकि, प्रेग्‍नेंसी से पहले और बाद में किसी भी महिला को कई तरह के उतार-चढ़ाव से गुजरना पड़ता है। वजन का बढ़ना और प्रेग्‍नेंसी के बाद वजन कम करना एक नई मां के जीवन में सबसे महत्वपूर्ण चुनौतियों में से एक होता है। 

लेकिन, नई जिम्मेदारियों के चलते महिलाएं अपनी देखभाल नहीं कर पाती हैं और अपने जीवन के इस थकाऊ, लेकिन रोमांचक नए चरण के दौरान इसे बैलेंस करने की आवश्यकता होती है। नई माताओं के लिए, शारीरिक और मानसिक रूप से हेल्‍दी होने पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है क्योंकि डिलीवरी एक मुश्किल सफर है।

ओगा की योग प्रशिक्षक, टीना हुड्डा का कहना है, 'यह वह समय है जब योग महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है, यह न केवल नई माताओं को पोस्‍टपार्टम इमोशनल मुद्दों से बेहतर ढंग से निपटने में मदद करता है बल्कि यह भी सुनिश्चित करता है कि वह प्रेग्‍नेंसी के बाद अपने बढ़े हुए वजन को सही तरीके से कम करें।'  

एक नई मां अपने बच्चे की पोषण संबंधी जरूरतों और अन्य जरूरतों के चलते नींद की कमी के कारण लगातार थकावट महसूस करती है, जिन पर लगातार ध्यान देने की जरूरत होती है। थकावट के कारण नई मां के मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों पर बुरा असर पड़ता है। 

इसलिए, हम कुछ आसनों के बारे में बता रहे हैं जो उनकी भावनात्मक और शारीरिक दोनों आवश्‍यकताओं में मदद कर सकते हैं। इन आसनों को करना बेहद आसान है और इसमें ज्यादा समय नहीं लगता है। इसलिए सुविधाजनक होने पर इनका अभ्यास किया जा सकता है। अगर आप भी प्रेग्‍नेंसी के बाद वजन और बढ़े हुए पेट को कम करना चाहती हैं तो इस आर्टिकल में बताए कुछ आसनों को ट्राई कर सकती हैं।

मार्जरी आसन

marjari asana

मार्जरी आसन या बिल्ली मुद्रा तनाव से राहत के लिए सबसे व्यापक रूप से अभ्यास किए जाने वाले आसनों में से एक है। यह लचीलेपन में सुधार के लिए उत्कृष्ट है और महिला के रिप्रोडक्टिव अंगों को मजबूत करने में मदद करती है। यह धीरे-धीरे लेकिन निश्चित रूप से फैट से छुटकारा पाने में मदद करते हुए पेट को टोन करती है और पाचन की प्रक्रिया को एक्टिव करती है। इसके अलावा, इसे करते समय आपकी पूरी बॉडी पैरों और हाथों पर होती है, इसलिए इसे करने से आपके शरीर में ब्‍लड और ऑक्सीजन दोनों का सर्कुलेशन भी बेहतर होता है।

इसे जरूर पढ़ें: ऐसे कुछ ही दिनों में शेप में आ सकता है प्रेग्नेंसी के बाद लटका हुआ पेट, फॉलो करें आसान टिप्स

उष्ट्रासन

camel pose

उष्ट्रासन को कैमल पोज के नाम से भी जाना जाता है क्‍योंकि इसे करते समय शरीर की आकृति ऊंट की तरह हो जाती है। यह योग मुद्रा आपकी पीठ की मसल्‍स को फैलाने और आपके पोश्चर पर काम करती है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द के लिए यह एक बेहतरीन मुद्रा है क्योंकि यह आपके चेस्‍ट और कंधे को फैलाती है, जिससे आपकी रीढ़ की हड्डी में लचीलापन बढ़ता है।

धनुरासन

dhanurasana

धनुरासन या धनुष मुद्रा रीढ़ की हड्डी के लचीलेपन को बढ़ाती है, टखनों, जांघों, कमर, चेस्‍ट और पेट के अंगों को मजबूत करती है। यह पेट की चर्बी को तेजी से कम करने में मदद करती है। पीरियड्स की अनियमितता से पीड़ित महिलाएं इससे छुटकारा पाने के लिए इस आसन का अभ्यास कर सकती हैं। धनुष मुद्रा पेट की चर्बी को तेजी से कम करने में भी फायदेमंद है और वजन घटाने के दौरान इसे करने की सलाह दी जाती है।

वीरभद्रासन (2)

virabhadrasana ()

थाइज, टखनों और पीठ को मजबूत करने वाली यह मुद्रा शरीर के सामने वाले हिस्से को फैलाती है। यह एक शक्तिशाली स्थायी मुद्रा है जो सहनशक्ति, संतुलन और समन्वय विकसित करती है। यह पेट, टखनों और पैरों के आर्च को टोन करती है। यह चेस्‍ट और लंग्‍स को भी फैलाती है, सांस लेने की क्षमता में सुधार करती है और शरीर को स्फूर्ति प्रदान करती है।

Recommended Video

सेतु बंधासन

setu bandhasana

सेतु बंधासन आपकी पीठ के निचले हिस्से की थकान को दूर करने के लिए एक उत्कृष्ट मुद्रा है, जिससे आपकी चेस्‍ट, गर्दन और रीढ़ को एक अच्छा स्‍ट्रेच मिलता है। यह तनाव और चिंता को कम करके आपको शांत करने वाले योग के रूप में भी जाना जाता है।

इसे जरूर पढ़ें: सिजेरियन डिलीवरी के बाद भी वजन कम करना है आसान, बस अपनाएं यह टिप्स

हर मां के लिए उसका बच्‍चा अनमोल होता है। हालांकि, बच्‍चे के जन्‍म के बाद उसे खुद की देखभाल के लिए समय निकालने की जरूरत होती है। जब आपका बच्चा झपकी ले रहा हो, तो हम उपर्युक्त कुछ आसनों को करने की सलाह देते हैं। वैकल्पिक रूप से आप खुद पर ध्यान केंद्रित करते हुए परिवार के किसी सदस्य से अस्थायी रूप से कार्यभार संभालने का अनुरोध भी कर सकती हैं। हमेशा याद रखें कि खुश और हेल्‍दी मां बच्चों की अच्‍छी परवरिश कर सकती हैं।

नोट: उपरोक्त किसी भी योग को करने से पहले कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

योगासन और प्रेग्नेंसी टिप्स के बारे में अधिक जानकारी पाने के लिए HerZindagi के साथ जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock & Freepik.com