डिलीवरी के बाद कई बार महिलाओं को अपनी पोस्ट प्रेग्नेंसी बॉडी से परेशानी होने लगती है। उनका शरीर वापस अपने फॉर्म में आने में काफी समय लगा देता है। इसके अलावा, प्रेग्नेंसी के बाद होने वाले हार्मोनल बदलाव भी इसे एक धीमा प्रोसेस बना देते हैं। वैसे तो एक्सरसाइज और ठीक खान-पान से आप इसे वापस अपना सकती हैं, लेकिन फिर भी अगर आपको लगता है कि आपकी प्रेग्नेंसी बेली का फैट कम नहीं हो रहा है तो कुछ बातें आपके लिए जान लेना बेहद जरूरी है। यहां न सिर्फ हमारे शरीर में बदलाव होते हैं बल्कि हमारे मानसिक बदलाव भी इसपर असर डालते हैं।

कितने समय बाद प्रेग्नेंसी बेली आती है अपने नॉर्मल शेप में?

1. डिलीवरी के 24 घंटे के अंदर-

शरीर से काफी सारा फ्लूइड निकल जाता है। पोस्ट प्रेग्नेंसी बेली में बच्चे का वजन भी कम हो जाता है। ऐसे में आप 5 किलो तक कम कर सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें- क्या आप प्रेग्नेंसी में कर रही हैं ट्रेवल ?

pregnancy and belly fat reduction

2. एक हफ्ते बाद-

काफी सारा वजन फ्लूइड जैसे यूरिन के फॉर्म में शरीर से बाहर आता है। इतना ही नहीं ब्रेस्टफीडिंग से भी काफी कैलोरी बर्न होती है।

3. दो हफ्ते बाद-

हार्मोनल बदलाव और ब्रेस्टफीडिंग का असर होने लगता है और इसके कारण आपको खुद ही समझ आएगा कि पेट और शरीर के बाकी हिस्सों से वजन कम हो रहा है।

4. एक महीने बाद-

इस दौरान शरीर में काफी ज्यादा बदलाव होते हैं और ऐसा मुमकिन है कि नई मां इस दौरान अपना पूरा प्री-प्रेग्नेंसी वजन कम कर ले।

5. 6 हफ्तों बाद-

शारीर में अंदरूनी बदलाव होने लगते हैं और अभी तक जहां सिर्फ आपका वजन कम हो रहा था वहीं आपके शरीर का लुक भी बदलने लगता है। इसी दौर में आपके पेट पर असर दिखना शुरू होता है।

6. कुछ महीनों बाद-

लाइफस्टाइल में बदलाव और कुछ हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज के बाद ही आपका पेट वापस अपने शेप में आएगा।

7. 9 महीने बाद-

अब तक आपने अपना पूरा प्रेग्नेंसी वेट कम कर लिया होगा।

कई बार नेचुरली ही नई मां का वजन कम हो जाता है, लेकिन अगर किसी का वजन कम नहीं हो रहा है तो उसके लिए भी कुछ खास उपाय हैं। सभी को लगता होगा कि डिलीवरी के बाद वो नेचुरल वजन में आ जाएं, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि बिना किसी मेहनत के नेचुरल शेप में वापस आना इतना आसन होता है। कई लोगों को ये ध्यान में रखना चाहिए कि उनका शरीर अलग है और वो एक्स्ट्रा वजन और बेली फैट कम करने में मेहनत लग सकती है।

घरेलू नुस्खे जिनसे कम होता है प्रेग्नेंसी बेली फैट-

1. ब्रेस्टफीडिंग-

ये एक नेचुरल एक्टिविटी है जिसे हर मां को करवाना चाहिए। एक्स्ट्रा कैलोरी बर्न करने में ये बहुत मदद करती है।

2. डाइट-

प्रेग्नेंसी बेली कम करने के लिए सही डाइट लेना भी बहुत जरूरी है। अपने और बच्चे के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए आप किसी न्यूट्रीशनिस्ट से सही डाइट चार्ट बनवा सकती हैं। ये बहुत जरूरी है कि आप फैट, कार्ब और प्रोटीन की सही डाइट लें।

reducing belly fat after pregnancy

इसे जरूर पढ़ें- प्रेग्नेंसी में एक्सपर्ट की बताई इन बातों का रखें खयाल

3. पानी पिएं-

ये बहुत जरूरी है कि आप अपनी बॉडी को सही तरह के फ्लूइड दे सकें। इसके लिए पानी पीना बहुत जरूरी है। इसलिए नई माओं को ये कहा जाता है कि वो ज्यादा पानी पिएं।

Recommended Video

इसके अलावा, कुछ खास टिप्स जो बेली फैट कम करने में करेंगी मदद-

बेली फैट कम करने के लिए कुछ और टिप्स मदद कर सकती हैं।

1. धीमे-धीमे एक्सरसाइज शुरू करें-

जब भी आप एक्सरसाइज कर रही हों ये ध्यान रखें कि आप सही एक्सरसाइज कर रही हैं और एकदम से शुरुआत न करें। खुद को थकाए नहीं। ब्रेक ले लेकर एक्सरसाइज करें। ध्यान रहे कि अगर आपका शरीर ज्यादा थकेगा तो आपके बच्चे पर भी इसका असर पड़ सकता है।

exercises to reduce belly fat after pregnancy

2. एक्सरसाइज करते समय किसी पार्टनर को चुनें-

बेहतर होगा अकेले एक्सरासइज करने की जगह अपने साथ किसी पार्टनर को रखें। ये कोई भी हो सकता है जिसके साथ आप एक्सरसाइज करने में कंफर्टेबल हों। ऐसे में अगर आपको कोई जरूरत पड़ती है तो आपको आसानी से मदद भी मिल सकती है।



3. बॉल एक्सरसाइज जिससे कम होगा बेली फैट-

आप प्रेग्नेंसी बेली फैट कम करने के लिए बॉल एक्सरसाइज कर सकती हैं। जैसे बॉल क्रंच, ये लोअर बेली के लिए बहुत अच्छी होती है और इससे कोर मसल्स पर काम होता है। इससे आपका बैलेंस भी बेहतर होता है।

4. अपने मील्स का रखें ध्यान-

वजन कम करने का सबसे पहला रूल यही होता है कि डाइट कुछ ऐसी हो कि छोटे-छोटे लेकिन लगातार मील्स लिए जा सकें। ऐसे में बच्चे को पूरा नॉरिश्मेंट भी मिलेगा और साथ ही साथ आपके सिस्टम की ओवरलोडिंग भी नहीं होगी।

एक साथ बहुत ज्यादा कैलोरी लेने से बचना बहुत अच्छा हो सकता है। ये पूरी जानकारी नई मां को अपना प्रेग्नेंसी वेट कम करने में मदद करेगी। ऐसे में आपको अपनी सेहत का ध्यान रखने के साथ-साथ अपने बच्चे के बारे में भी सोचना है। उम्मीद है ये स्टोरी आपको पसंद आई होगी। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी से।

All Image Credit: thehealthsite.com/meredithcorp/mamypoko