• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

वेजाइना के ढीलेपन को कम करने के लिए अपनाएं ये 5 टिप्‍स

अगर प्रेग्‍नेंसी के बाद आपको भी वेजाइना में ढीलापन महसूस होता है तो एक्‍सपर्ट के बताए इन टिप्‍स को आजमाएं। 
Published -20 May 2022, 14:30 ISTUpdated -23 May 2022, 10:33 IST
author-profile
  • Pooja Sinha
  • Editorial
  • Published -20 May 2022, 14:30 ISTUpdated -23 May 2022, 10:33 IST
Next
Article
vagina tightening yoga

योग एक समग्र स्वास्थ्य अभ्यास है जो शरीर, मन और आत्मा के लिए बहुत उपयोगी है। योग सूर्य नमस्कार और विशिष्ट योग आसन के नियमित अभ्यास की सलाह देता है। योनि टाइट करने की प्रक्रिया में हेल्‍प करने के लिए, दौड़ने का अभ्यास करने की भी सलाह दी जाती है। नियमित रूप से दौड़ने से पेल्विक मसल्‍स  को टाइट करने में मदद मिल सकती है। इन सरल आसनों का पालन करें और उन्हें हफ्ते में कम से कम 3 बार अपने एक्‍सरसाइज रूटीन में शामिल करें। 

आज हम आपको कुछ ऐसे ही योगासन के बारे में बता रहे हैं जिन्‍हें करने से आप अपनी वेजाइना को टाइट कर सकती हैं। इन आसनों के बारे में हमें योग मास्टर, स्पिरिचुअल गुरु और लाइफस्टाइल कोच, ग्रैंड मास्टर अक्षर जी बता रहे हैं। आइए इस आर्टिकल के माध्‍यम से इसके बारे में विस्‍तार से जानते हैं।

सूर्य नमस्कार

24 कुल गिनती के साथ, जिसमें बाएं और दाएं पक्ष शामिल हैं, सूर्य नमस्कार दुनिया की सबसे लोकप्रिय और प्रभावी विधि है। यह पूरे शरीर का उपयोग करता है चाहे वह पीछे हो या आगे झुकना, कोर मजबूत करना आदि। हम सूर्य नमस्कारतकनीक को नियोजित कर सकते हैं और योग के साथ अपना प्रयास शुरू करने के लिए फिटनेस और महान स्वास्थ्य के अपने उद्देश्यों तक पहुंचने के लिए इसका अभ्यास कर सकते हैं।

दिशा:पूर्व

सूर्य नमस्कार का अभ्यास करने का आदर्श समय:

सुबह 6 बजे, दोपहर 12 बजे या शाम 6 बजे

फायदे 

  • यह एक अतिरिक्त आध्यात्मिक स्पर्श के साथ स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए एक समग्र शरीर के वर्कआउट के रूप में काम करता है।
  • अंतःस्रावी और श्वसन आदि सहित शरीर के सभी अंगों को संतुलित और उत्तेजित करता है।
  • शरीर के सभी अंगों में अच्छी ऊर्जा पैदा करता है।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है।
  • शरीर में शक्ति का निर्माण करने में मदद करता है।

योगासन

1. मलासन

Malasana for yoni health

  • सीधी खड़ी होकर शुरुआत करें।
  • घुटनों को मोड़ें, पेल्विक को नीचे करें और इसे एड़ी के ऊपर रखें
  • सुनिश्चित करें कि पैर फर्श पर सपाट रहें।
  • हथेलियों को पैरों के पास फर्श पर रख सकते हैं या प्रार्थना मुद्रा में चेस्‍ट के सामने जोड़ सकते हैं।

फायदे

  • रीढ़ सीधी रहती है। 
  • कूल्हों और कमर को खोलता है।
  • टखनों, निचले हैमस्ट्रिंग, पीठ और गर्दन को स्ट्रेच करता है।
  • एब्डोमिनल को टोन करता है।
  • पाचन में सहायक है।
  • मेटाबॉलिज्‍म को मजबूत करता है।
  • पेल्विक और कूल्हे के जोड़ों को स्वस्थ रखता है।
  • प्रसवपूर्व योग के लिए आदर्श है।

2. वज्रासन

Vajrasana for vagina health

  • घुटने टेकें और पेल्विक को एड़ी पर टिकाएं।
  • एड़ियों को थोड़ा अलग रखें।
  • हथेलियों को घुटनों पर रखें।
  • पीठ को सीधा करें और आगे देखें।

फायदे

  • पाचन में सहायक होता है।
  • कब्ज से राहत देता है या रोकता है।
  • पेल्विक मसल्‍स को मजबूत बनाता है। 
  • मन को शांत रखता है।
  • पाचन अम्लता और गैस को ठीक करता है।

3. पश्चिमोत्तानासन

Paschimottanasana for yoni health

  • पैरों को आगे की ओर फैलाकर बैठें।
  • सांस छोड़ें, आगे झुकें और ऊपरी शरीर को निचले शरीर पर रखने की कोशिश करें।
  • पैरों की उंगली को पकड़े।

फायदे

  • लिवर, किडनी, ओवरी और गर्भाशय को उत्तेजित करता है।
  • पेट में वसा के जमाव को कम करता है।
  • रीढ़ की हड्डी को फैलाता है और लचीलापन लाता है।
  • कब्ज और पाचन विकार के लिए अच्छा है।

4. धनुरासन

Dhanurasana for yoni health

  • पेट के बल लेटकर शुरुआत करें।
  • घुटनों को मोड़ें और टखनों को हथेलियों से पकड़ें।
  • पैरों और बाहों को जितना हो सके ऊपर उठाएं।
  • ऊपर देखें और कुछ देर के लिए इस मुद्रा में बने रहें।

फायदे

  • यह योग भी लिवर, किडनी, ओवरी और गर्भाशय को उत्तेजित करता है। 
  • पेट में वसा के जमाव को कम करता है।
  • रीढ़ की हड्डी को फैलाता है और लचीलापन लाता है।

Recommended Video

एक मजबूत पेल्विक अच्छा संतुलन प्रदान कर सकता है यह एक हेल्‍दी ब्‍लैडर के लाभ दे सकता है और यहां तक कि सांस लेने में भी सुधार कर सकता है। योग के अभ्यास से हम पेल्विक मसल्‍स के स्वास्थ्य को मजबूत और बेहतर बना सकते हैं और योनि को कस सकते हैं। पेल्विक स्वास्थ्य के लिए नियमित रूप से इन आसनों का अभ्यास करें, और कई अन्य लाभ प्राप्त करने के लिए भी।

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसी ही और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock.com 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।