• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

सूखी खांसी से झट से राहत देती हैं ये 2 मुद्राएं, करने का सही तरीका जानें

अगर आप सूखी खांसी का घरेलू उपाय खोज रही हैं तो इस आर्टिकल में बताई योग मुद्राओं को जरूर करें।
author-profile
Published -25 May 2022, 15:36 ISTUpdated -25 May 2022, 17:30 IST
Next
Article
Cough Nashak Mudra

क्‍या आप सूखी खांसी से परेशान हैं?
क्‍या खांस-खांसकर आपकी हालत खराब हो चुकी हैं?
क्‍या आप समस्‍या से निजात पाकर नॉर्मल रूटीन में आना चाहती हैं?
तो परेशान न हो इस आर्टिकल में बताई मुद्राओं को करें और समस्‍या से झट से छुटकारा पाएं।  

जी हां, अगर आप भी सूखी खांसी की समस्‍या से परेशान रहती हैं तो इस आर्टिकल में बताई 2 मुद्राओं से तुरंत राहत पा सकती हैं। इन मुद्राओं के बारे में हमें योग गुरू नेहा जी बता रही हैं। योगा गुरु नेहा, द योग गुरु तथा वुमेन हेल्‍थ रिसर्च फाउंडेशन (ट्रस्‍ट) की संस्‍थापक हैं।

मुद्रा का अर्थ है शरीर की विभिन्न मुद्राएं जो मूल रूप से विश्राम के लिए होती हैं। इसकी उत्पत्ति योग से हुई है। यह एक प्रकार का योग है जिसे आसानी से समझा और किया जा सकता है। यह एक्यूप्रेशर और एक्यूपंक्चर के समान सिद्धांतों पर काम करता है। इसे करना इतना आसान है कि इसे बच्चे भी बिना किसी प्रयास के कर सकते हैं।

mudra for cough by expert

निर्देश

किसी भी मुद्रा को करने से पहले कुछ गहरी सांसें लें, दिमाग को आराम दें और फिर इसे करने के लिए या तो क्रॉस लेग्ड या पद्मासन में बैठ जाएं। आइए इन 2 मुद्राओं के फायदे और करने के तरीके के बारे में आर्टिकल के माध्‍यम से विस्‍तार से जानें।

इसे जरूर पढ़ें:महिलाओं की हेल्‍थ के लिए बेस्‍ट हैं ये 3 मुद्राएं, रोजाना करें

लिंग मुद्रा (Linga Mudra)

Linga Mudra for cough

लिंग मुद्रा एक ऐसी मुद्रा है जो शरीर में अग्नि तत्व को सुधारती है और यह शरीर में गर्मी पैदा करती है। इस मुद्रा का प्रयोग कफ तत्व के बढ़ने के लिए किया जाता है। यह कफ के अधिक उत्पादन को कम करती है।

लिंग मुद्रा कैसे करें?

  • इसे करने के लिए दोनों हाथों में अपनी उंगुलियों को इंटरलॉक करें
  • बाएं अंगूठे को सीधा रखें।
  • दाएं अंगूठे को बाएं अंगूठे से घेरने दें।

फ़ायदे

  • यह एलर्जी और जलवायु परिवर्तन के कारण होने वाली सर्दी और खांसी पर काबू पाने में मदद करता है।
  • यह मुद्रा शरीर में अग्नि तत्व को बढ़ाती है।
  • यह मुद्रा साइनसाइटिस और अन्य श्वसन विकारों के कारण होने वाली समस्याओं को कम करती है।

चेतावनी

इस मुद्रा को अधिक न करें क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि इससे शरीर में अत्यधिक गर्मी पैदा होती है।

शून्य मुद्रा (Shunya Mudra)

Shunya Mudra for cough

शून्य मुद्रा एक सरल योग मुद्रा है जिसे शरीर में अंतरिक्ष तत्व को कम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह एक हस्त मुद्रा है और चिकित्सीय मुद्राओं की एक श्रृंखला में से एक माना जाता है कि इसमें उपचार गुण होते हैं।

शून्य मुद्रा कैसे करें?

  • शून्य मुद्रा को करने के लिए मैट पर पद्मासन या सुखासन में बैठ जाएं।
  • इस दौरान अपनी रीढ़, पीठ और गर्दन को एकदम सीधा रखें।
  • अब अपनी दोनों हथेलियों को घुटनों पर रख लें। 
  • ऐसा करते हुए हथेलियां ऊपर की तरफ होनी चाहिए।
  • अपनी बीच वाली उंगुली को हथेली की तरफ मोड़ें। 
  • इसके ऊपर अपने अंगूठे को रखें और बाकी उंगुलियों को सीधा रखें।
  • अपनी आंखों को धीरे-धीरे बंद कर लें और सांसों की गति नॉर्मल रखें। 
  • लगभग 5 मिनट इस मुद्रा में रहें और फिर नॉर्मल हो जाएं।
 

मुद्राएं कब और कितनी देर करनी चाहिए:

इन मुद्राओं को दिन में किसी भी समय किया जा सकता है। इस मुद्रा को 5 मिनट से शुरू करें। प्रभावी रिजल्‍ट पाने के लिए ढेर सारा पानी और जूस पीकर हाइड्रेटेड रहें।

आप भी इन मुद्राओं से सूखी खांसी से राहत पाने के साथ-साथ कई अन्‍य समस्‍याओं से छुटकारा पा सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

Image Credit: Shutterstock & Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।