योग हमारी हेल्‍थ के लिए बहुत अच्‍छा होता है। यह हमारे तन और मन के साथ-साथ त्‍वचा और बालों के लिए भी बहुत अच्‍छा है। इसलिए रोजाना योग करने की सलाह दी जाती है और इसलिए हम आपको समय-समय पर अलग-अलग योग करने और इसके फायदों के बारे में बताते हैं। ताकि महिलाएं इसे अपने रुटीन में शामिल करके खुद को फिट और सुंदर बना सकें। आज हम आपको हलासन के बारे में बता रहे है। आइए इस योग को करने के तरीके और महिलाओं के लिए इस योग के फायदों के बारे में जानें। 

हलासन जिसे हम Plow Pose के नाम से भी जानते है। इसे हलासन के नाम से इसलिए जाना जाता है क्‍योंकि इस आसन में शरीर का आकृति खेत में चलाए जाने वाले हल के समान हो जाती है। इस आसन को करने से आपकी हेल्‍थ को बहुत सारे फायदे मिलते हैं। लेकिन यह महिलाओं की हेल्‍थ संबंधी समस्याओं के लिए विशेषरूप से फायदेमंद होता है। आज हम आपको 'हलासन' के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आप अपनी 5 समस्‍याओं को आसानी से हल कर सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें: योग करती है जो नारी, नहीं होती है उसको कोई बीमारी

halasana for beginners inside

हलासन करने का तरीका

  • इसे करने के लिए सबसे पहले जमीन पर मैट बिछाकर कमर के बल सीधा लेट जाएं। 
  • अब दोनों हाथों को थाई के पास जमीन पर रख लें। 
  • फिर सांस लेते हुए धीरे-धीरे दोनों पैरों को सीधा ऊपर की ओर उठाएं। 
  • फिर हाथों को नीचे की ओर दबाएं और कमर को मोड़ते हुए पैरों को सिर के पीछे हल की तरह लगा दें। 
  • फिर बिना सिर उठाए 2-3 मिनट बाद धीरे-धीरे वापस नॉर्मल पॉजिशन में आ जाएं।
halasana precautions inside

हलासन करने के फायदे

बैली फैट कम करें- इस आसन को करने से मेटाबॉलिज्म तेज होता है, जिससे आपको वजन कम करने में हेल्‍प मिलती है। साथ ही रोजाना इस आसन को करने से बैली फैट भी कम होता है।

मसल्‍स में मजबूती- रेगलुर हलासन करने से गर्दन, कंधे और पीठ की मसल्‍स मजबूत होती है। इसके अलावा यह आसन आपके एब्स के लिए भी अच्छा होता है।

डायबिटीज- डायबिटीज से ग्रस्त महिलाओं के लिए हलासन किसी वरदान की तरह है। इसे रोजाना करने से ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है। साथ ही यह आसन ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करने में हेल्‍प करता है।

पीरियड्स दर्द से राहत- यह आसन पीरियड्स पेन से राहत दिलाने में हेल्‍प करता है। साथ ही यह महिलाओं में मेनोपॉज के लक्षणों को भी कम करता है।

halasana information and benefits inside

तनाव से राहत- इसे रोजाना करने से नर्वस सिस्‍टम से संबंधित कोई दिक्कत नहीं होती है। जिससे आप तनाव, डिप्रेशन और थकान से बची रहती हैं।

इसे जरूर पढ़ें: कैसे योग करने से अपने शरीर को जानने लगती हैं आप, एक्‍सपर्ट से जानें

मजबूत डाइजेशन- इससे आपका डाइजेशन बढ़ता है और भूख से जुड़ी परेशानियां भी दूर होती है, जिससे आप पेट से जुड़ी समस्‍याओं से बची रहती हैं।

ग्‍लैंड को रखता है सही- हलासन थॉयरायड ग्‍लैंड को उत्तेजित करता है, जिससे आप थॉयरायड जैसी कई समस्‍याओं से बची रहती हैं। इसके अलावा यह इम्यून सिस्टम को भी ठीक रखता है।

सावधा‍नी

  • अगर आप हॉर्निया, साइटिका, अर्थराइटिस और गर्दन के दर्द से परेशान हैं तो हलासन करने से बचें।
  • प्रेग्‍नेंट को भी इस आसन को करने से बचना चाहिए। 
  • हाई ब्‍लड प्रेशर या अस्‍थमा से परेशान महिलाओं को भी इस आसन से दूर रहना चाहिए।

तो देर किस बात की अगर आप भी इन 7 बीमारियों से बचना चाहती हैं तो अपने योग रुटीन में हलासन को शामिल करेें।