पता नहीं कैसे बीत गए ये तीन साल,
आपके प्‍यार और साथ ने बदल दी घड़ी की चाल।
हमें और आपको साथ चलते-चलते कब तीन साल हो गए पता ही नहीं चला और आपकी फेवरेट वेबसाइट हरजिंदगी 3 साल की हो गई है। हरजिन्दगी ने अपनी तीसरी एनिवर्सरी के सेलिब्रेशन के लिए कई लाइव सेशन का आयोजन किया, जहां हमने कई जानी-मानी हस्तियों से खास बातचीत करके कुछ टिप्‍स जानने की कोशिश की जो आपको अपनी लाइफस्‍टाइल को बेहतर बनाने में मदद करेंगे। इसमें पांच लाइव सेशन थे लेकिन इस आर्टिकल के माध्‍यम से हम आपको चौथे स्‍पेशल न्यूट्रिशन सेशन के बारे में बता रहे हैै जो पूरी तरह से डाइट पर केंद्रित था। इस सेशन के दौरान हमने अपने स्पेशल गेस्ट के साथ मिलकर खाने की प्लेट में छुपे सीक्रेट जानने की कोशिश की। 

जी हां क्‍या कभी आपने सोचा है कि आपकी खाने की प्लेट में क्‍या है? ये सवाल शायद आपको थोड़ा अजीब लगे, लेकिन हम यहां किसी डिश की नहीं बल्कि उन न्यूट्रिएंट्स, मिनरल्स और विटामिन्स की बात कर रही हैैं जो आपके रोज़ाना के खाने में छुपे होते हैं और जिनसे हम अनजान हैं। कोविड ने हमें हाइजीन के अलावा जिस चीज़ के लिए सबसे ज्यादा सतर्क किया है वो हमारा खाना है। बाज़ार के चटपटे और वैराइटी वाले खाने के शौकीन लोगों को कोविड-19 ने घर के खाने पर सीमित कर दिया है। अब अगर घर के खाने में वैराइटी लानी हो तो यकीनन कुछ नई डिशेज ट्राई करनी होगींं। जहां हम इतनी कोशिश कर रहे हैं खाना बनाने और खाने की वहां इस बात पर गौर करना भी जरूरी है कि हमारे खाने में आखिर किन चीज़ों का इस्तेमाल हो रहा है। कैजुअली हम किसी भी चीज़ का इस्तेमाल कर सकते हैं आपको इस बात का फर्क नहीं पड़ता कि आप एल्युमीनियम की कढ़ाही में खाना पका रहे हैं या फिर लोहे के बर्तन का इस्तेमाल कर रहे हैं।

swati bathwal inside

अपने किचन से जुड़ी जरूरी बातों के बारे में चर्चा करने के लिए हरजिंदगी ने तीसरी एनिवर्सरी सेलिब्रेशन के दौरान स्वाति बथवाल से बातचीत की। स्वाति एक जानी मानी डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिस्ट हैं, वो एक पब्लिक हेल्थ को बेहतर बनाने के लिए काम करती हैं। साथ ही साथ वो एक Diabetes Educator भी हैं। हमारे व्यूवर्स को उन्‍होंने डाइट से जुड़े कई टिप्स तो दिए ही साथ ही उनके सवालों का जवाब भी किया। आइए जानें इस पूरे सेशन में स्वाति बथवाल जी ने हमें क्या टिप्स दिए।

इसे जरूर पढ़ें: हरजिंदगी के सेलिब्रेशन में प्रिया मलिक ने दीं लाइफ टिप्स, कहा- खुद की सोच में बदलाव है जरूरी

इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए क्‍या करना चाहिए?

सेशन की शुरुआत में होस्ट श्रुति दीक्षित ने स्वाति बथवाल से पूछा कि इम्यूनिटी को लेकर इन दिनों बहुत चर्चा हो रही है। आज हम जिस दौर में रह रहे हैं इम्यूनिटी बूस्टिंग बहुत जरूरी है क्योंकि न सिर्फ कोविड बल्कि कई ऐसी बीमारियां हैं जो खराब इम्यूनिटी के कारण हमारे आस-पास मंडराती रहती हैं। आपको क्या लगता है कि एक आम इंसान को किन चीज़ों का ध्यान रखना चाहिए कि परिवार की इम्यूनिटी बढ़े? इस बात का जवाब देते हुए उन्‍होंने कहा कि ''आजकल हमारा खाना बनाने का तरीका ऐसा हो गया है जिससे खाने में न्यूट्रिशन कम हो जाते हैंं जैसे आंवला अगर आप सही तरीके से पकाकर या स्‍टोर करके खाएंगी तो आपको फायदा देगा लेकिन इसका सही इस्‍तेमाल न होने से विटामिन सी होने के बावजूद आपका इसका फायदा नहीं मिल पाएगा। इसके अलावा हम धूप में नहीं जाते हैं जैसे हम पहले जाया करते थे इससे विटामिन डी की कमी हो जाती है और इसकी कमी से भी इम्‍यूनिटी कमजोर हो जाती है। लेकिन अपनी लाइफस्‍टाइल में थोड़ा सा बदलाव करके और आप जो भी खाती हैं सही तरीके और मन से खाएं। इससे आप अपनी इम्‍यूनिटी को मजबूत कर सकती हैं।''

swati bathwal inside

कोरोना से सुरक्षा के लिए डाइट टिप्‍स क्‍या हैं? 

श्रुति का अगला सवाल था कि क्या आपकी कुछ फेवरेट इम्‍यूनिटी बूस्टिंग रेसिपीज हैं जिन्हें आप हमसे शेयर करना चाहें। इसका जवाब देते हुए उन्‍होंने हमारे साथ एक स्क्रीन शेयर किया और कोविड से सुरक्षा करने वाले इम्‍यूनिटी बूस्टिंग टिप्‍स के बारे में बताया। उनका कहना है कि ''इम्‍यूनिटी को मजबूत करने के लिए रोजाना सुबह उठने के बाद हमेशा तिल या नारियल के तेल से ऑयल पुलिंग यानि मुंह की सफाई करनी चाहिए क्‍योंकि अगर आपके पेट या मुंह की सफाई ठीक से नहीं हुई है तो विटामिन्‍स और मिनरल्‍स आपका पेट अच्‍छे से अवशोषित नहीं करेगा। इसके अलावा पानी में हल्‍दी और काली मिर्च डालकर गरारे जरूर करें। साथ ही अपनी डाइट में गिलोय, विटामिन सी और जिंक जरूर लें।''  

उन्‍होंने आगे हमें बताया कि ''अगर आप सावधानी नहीं लेते हैं तो ब्‍लड प्रेशर से परेशान लोगों को कोविड का खतरा दोगुना, हेल्‍थ से जुड़ी समस्‍याओं वाले लोगों को तीन गुना और अस्‍थमा से परेशान लोगों को बहुत ज्‍यादा होता है। इसके लिए अच्‍छी डाइट लें, जिंक को डाइट में शामिल करें और खुद को हाइड्रेट रखें। ऐसा करने से होने वाली थकान को दूर किया जा सकता है।''   

इसे जरूर पढ़ें: महिलाओं के सम्मान के लिए समर्पित कई लाइव सेशन के साथ HZ ने मनाई अपनी तीसरी एनिवर्सरी

 

हमें कौन सा तेल खाना चाहिए? 

श्रुति ने अगला सवाल किया कि खाना बनाते समय तेल बहुत जरूरी होता है, अगर मैं इंडियन फूड हेबिट की बात करूं तो तेल खाने में सबसे ज्यादा जरूरी है। ऐसे में खाने का तेल चुनते समय, खाना पकाते समय और तेल का इस्तेमाल करते समय हमें किन चीज़ों को याद रखना चाहिए? स्‍वाति जी ने बताया कि हमें रोजाना सिर्फ 1 चम्‍मच शुद्ध घी का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा आप सरसों का तेल इस्‍तेमाल करती हैं तो वह आपके लिए बहुत अच्‍छा होता है। साथ ही मूंगफली का तेल भी बहुत अच्‍छा होता है। लेकिन जितने भी रिफाइंड ऑयल हैं, उनका इस्‍तेमाल करने से बचें क्‍योंकि यह बहुत ज्‍यादा गर्म होने पर सारे पोषक तत्‍व हो जाते हैं। आपको पूरा दिन सिर्फ 1 चम्‍मच तेल ही लेना चाहिए।  

इसके अलावा भी श्रुति और सेशन में आए मेहमानों ने स्वाति बथवाल से बहुत सारे सवाल किए जैसे फर्मेंटेड फूड का आम इंसान के लिए क्‍या फायदे हैं? बर्तनों के इस्तेमाल की बात करते हैं, हमारे घर में तरह-तरह के बर्तन मिल जाएंगे क्या ऐसा कुछ रूल भी है कि किस कढ़ाई में खाना बनाना बेहतर होगा या किस तरह की प्लेट में खाना लेना चाहिए? घर के मसालों में बहुत अच्छी खुशबू होती है और यकीनन अरोमा थेरेपी हमारे काफी काम भी आती है, तो क्या ऐसी कुछ ट्रिक की जा सकती है कि अरोमा थेरेपी हम अपने किचन में मौजूद चीजों की मदद से ही कर लें? 5 तरह के कौन से फूल हमारी हेल्‍थ के लिए अच्‍छे होते है? इसके अलावा हल्‍दी और विटामिन डी के फायदों के बारे में भी बहुत सारे सवाल पूछे गए। इन सभी सवालों का जवाब स्‍वाति जी ने बहुत ही खूबसूरती से दिया। अगर आप भी इन सभी सवालों के जवाब विस्‍तार में जानना चाहती हैं तो यूट्यूब के इस वीडियो को जरूर देखें। अंत में उन्होंने हरज़िन्दगी के कार्यों की सराहना करते हुए अपनी शुभकामनाएं दीं।  

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।