मसाज थेरपी की जरूरत सभी को होती है खासकर महिलाओं को क्यों कि वो दिनभर भागदौड़ भरी ज़िंदगी जीती हैं और फिर रात को थक कर सो जाती हैं। ऐसे में सभी औरतों के दिल में एक ही ख्याल आता है कि छुट्टियों पर उन्हें ऐसी जगह जाने का मौका मिले जहां जाकर उन्हें शांति मिले और कोई ऐसी मसाज थेरपी मिले जिससे उनकी सारी थकान मिटा जाए। इस तरह की मसाज थेरपी के बारे में जब हमने रिसर्च किया तो सबसे पहले केरल की मसाज थेरपी का नाम सामने आया। साल 2012 में 8 लाख विदेशी टूरिस्ट और लगभर 1 करोड़ इंडियन्स ने केरल मसाज का लुत्फ उठाया था। 

aroma products

केरल आयुर्वेदिक मसाज के लिए खासकर मशहूर है। भारत की 5000 साल पुरानी इस खास मसाज की तारीफें दुनियाभर में होती है। ये भी कहा जाता है कि केरल के लोगों के हाथों में जादू है उनके हाथों की मसाज का मज़ा आपको दुनिया में और कहीं भी नहीं मिल सकता। इसलिए तो दुनियाभर से लोग खास यहां पर मसाज करवाने के लिए आते हैं।

केरल की मशहूर अरोमा थेरपी

aroma oil

अरोमा थेरपी से शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से आपको आराम मिलता है। अरोमा मसाज में खूशबुओं के जरिए आपका इलाज किया जाता है। फल, फूल, पेड़, पौधे, पत्तियां, मसाले, सब्जियों का अर्क निकालकर जो एसेंशियल ऑयल तैयार किया जाता है उससे अरोमा थेरपी की जाती है। जब आप किसी चीज़ की खूशबू सूंघते हैं तो उससे असर सबसे पहले आपके दीमाग पर होता है। दीमाग जब अच्छा महसूस करता है तो शरीर भी अच्छा महसूस करने लगता है।

अरोमा थेरपी में खुशबू के बाद दूसरी सबसे जरूरी चीज़ होती है मसाज। अरोमा मसाज देने वाले एक्सपर्ट को एक्यूप्रेशर प्वाइंट्स की खास जानकारी होती है। जब सही प्वाइंट पर एक्यूप्रेशर मसाज दी जाती है तब आपको आराम महसूस होता है।

अरोमा ऑयल एंटी बैक्टीरियल, एंटीसेप्टिक भी होते हैं और इस मसाज से कई तरह की बीमारियों का भी इलाज किया जाता है। 

Read More : बॉलीवुड सेलेब्स जो खुद को फिट रखने के लिए करते है योग