च्यवनप्राश काफी लंबे समय से लिया जाने वाला हर्बल फॉर्मूला है और हममें से अधिकांश लोग इसे जादुई इम्‍यूनिटी बूस्टर के रूप में बचपन से ही ले रहे हैं। पुरुष हो या महिला, युवा हो या बुजुर्ग, यह आयुर्वेदिक सप्लीमेंट सभी के लिए फायदेमंद होता है। यह मसालेदार अंडरटोन, भूरा-काला रंग और जैम जैसी स्थिरता के साथ अलग मीठे और खट्टे स्वाद का होता है। इसमें एक नहीं बल्कि 12 महत्वपूर्ण तत्व होते हैं। इन 12 चीजों में अमलकी, नीम, पिप्पली, अश्वगंधा, सफेद चंदन, तुलसी, इलायची, अर्जुन, ब्राह्मी, केसर, घृत और शहद शामिल हैं।

च्यवनप्राश शक्तिशाली जड़ी-बूटियों, मसालों, मिनरल्‍स के साथ बनाया जाता है और विटामिन सी से भरपूर होता है, यह आयुर्वेदिक सप्‍लीमेंट अपने इम्यूनोमॉड्यूलेटरी  और कायाकल्प गुणों के माध्यम से विभिन्न प्रकार की हेल्‍थ प्रॉब्‍लम्‍स को रोकने में मदद करता है। यह इम्‍यून सिस्‍टम को बढ़ावा देने, किसी भी फेफड़े या सांस लेने की समस्याओं का इलाज करने, इम्यूनिटी बूस्‍टर, डाइजेशन को बेहतर बनाने, हार्ट की कार्यप्रणाली को बढ़ाने या स्मृति और ब्रेन के काम को बेहतर बनाने के लिए एक जादुई फॉर्मूला की तरह काम करता है। इसके फायदों के बारे में हमें MY22BMI की न्‍यूट्रिशनिस्‍ट और फाउंडर Ms.Preety Tyagi जी बता रही हैं।

एटी-इंफ्लेमेटरी

च्यवनप्राश को एंटी-इंफ्लेमेटरी माना जाता है। यह सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है। साथ ही च्यवनप्राश में मौजूद फ्लेवोनॉयड्स में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। इनके अलावा, अश्वगंधा, केसर और आंवला जैसी च्यवनप्राश में मौजूद चीजों में भी एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं।

chyawanprash health inside )

इम्यूनिटी बढ़ाए

हेल्‍दी शरीर के लिए इम्‍यूनिटी को मजबूत बनाना बेहद जरूरी होता है। मजबूत इम्‍यूनिटी हमें जल्‍द बीमार होने से बचाती है और इंफेक्‍शन व बैक्‍टीरिया से लड़ने में मदद करती है। प्राचीन काल से लोग च्यवनप्राश का इस्तेमाल इम्‍यून सिस्‍टम को बढ़ाने के घरेलू उपाय की तरह करते आ रहे हैं।

इसे जरूर पढ़ें: च्यवनप्राश घर पर रखे सामान से भी बन सकता है, जानिए इसकी रेसिपी

ब्‍लड साफ करें

च्यवनप्राश खाने से ब्‍लड को साफ करने में भी मदद मिलती है। च्यवनप्राश में मौजूद तुलसी और हल्दी ब्लड प्यूरीफायर के रूप में काम करते हैं।

हड्डियों को मजबूत करें

च्यवनप्राश हड्डियों को मजबूत करने में भी आपकी मदद करता है। रोजाना 1 चम्‍मच च्‍यवनप्राश खाने से कैल्शियम के बेहतर अवशोषण और प्रोटीन के संश्लेषण में मदद मिलती है जिससे हड्डियां और दांत मजबूत होते हैं।

expert graphic inside

डाइजेशन में सुधार

अगर आप पेट से संबंधी समस्‍याओं जैसे पेट में दर्द, जलन और कब्‍ज आदि से परेशान हैं तो रेगुलर च्‍यवनप्राश का सेवन करें। इसका सेवन करने से खाना अच्छे से पचता है और मल त्याग भी बेहतर तरीके से होता है। च्यवनप्राश में मौजूद केसर, अर्जुन, ब्राह्मी, आदि जैसी जड़ी-बूटियां डाइजेशन और मेटाबॉलिज्‍म में सुधार करती हैं।

हार्ट हेल्‍थ

च्यवनप्राश को दिल का टॉनिकमाना जाता है। जी हां च्यवनप्राश दिल को मजबूत रखने का काम करता है। साथ ही मसल्‍स तक हेल्‍दी ब्‍लड फ्लो में मदद करके हार्ट बीट को भी सही रख सकता है। च्यवनप्राश में मौजूद आंवला, अश्वगंधा जैसी चीजें हार्ट को हेल्‍दी रखने और इसके बेहतर तरीके से काम करने में मदद करती हैं।

Recommended Video

खांसी और सर्दी

बदलते मौसम के साथ ही लोगों को सर्दी-खांसी जैसी समस्याएं परेशान करने लगती हैं। इस समस्या से बचने के लिए भी च्यवनप्राश का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें मौजूद शहद, सर्दी और खांसी को ठीक करने में मदद करता है। साथ ही च्यवनप्राश में मौजूद आंवला और अन्य जड़ी-बूटियां विटामिन-सी से भरपूर  होती हैं, जो शरीर को किसी भी तरह के संक्रमण, वायरस व बैक्टीरिया से बचाने में मदद करती हैं।

chyawanprash health benefits inside

याददाश्त तेज करें

बढ़ती उम्र के साथ याददाश्त कमजोर होने लगती है, ऐसे में आप च्यवनप्राश का सेवन कर सकती हैं। च्यवनप्राश में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो याददाश्त को बढ़ाने में मदद करते हैं। ऐसा इसलिए क्‍योंकि यह ब्रेन के सेल्स को पोषण देने का काम करते हैं।

सांस संबंधी परेशानियों को दूर करें

सांस से संबंधी परेशानियों से निपटने के लिए भी हमारे घर के बड़े-बुजुर्ग अक्सर च्यवनप्राश का सेवन करने की सलाह देते हैं। इसमें मौजूद पिप्पली जैसी जड़ी-बूटी सांसों को इंफेक्‍शन से बचाने का काम करती है।

इसे जरूर पढ़ें:स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कोरोना काल में इन फूड्स से बढ़ाएं इम्यूनिटी

त्वचा के लिए अच्‍छा

च्यवनप्राश सिर्फ आपकी हेल्‍थ के लिए ही नहीं बल्कि त्‍वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। बदलते मौसम, धूल-मिट्टी, प्रदूषण और कई अन्य कारणों से त्वचा रूखी और बेजान होने लगती है। ऐसे में त्वचा को हेल्‍दी बनाए रखने के लिए भी च्यवनप्राश का सेवन किया जा सकता है। च्यवनप्राश का सेवन करने से चेहरे की रंगत में सुधार होता है और चेहरे पर ग्‍लो आता है। इसके अलावा त्वचा को जवां रखने के साथ ही च्यवनप्राश इसे संक्रमण से भी बचाए रखने का काम करता है। 

आप भी रोजाना 1 चम्‍मच च्‍यवनप्राश लेकर इम्‍यूनिटी को मजबूत बनाने से लेकर हेल्‍थ से जुड़ी कई समस्‍याओं को दूर सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock.com