गोलगप्‍पे इंडिया में सबसे फेमस स्ट्रीट फूड में से एक है। हो भी क्यों न, चटपटे, मसालेदार गोल गप्‍पे को देखकर किसी के भी मुंह में पानी आ जाता है। लेकिन क्‍या आप यह जानती हैं कि यह एक ऐसा स्‍ट्रीट फूड है, जिसे न सिर्फ मुंह के टेस्ट को बदलने में हेल्‍प करता है बल्कि इसके सेहत से जुड़े कई हेल्‍थ बेनिफिट्स भी है शायद आपको हमारी बात पर यकीन नहीं आ रहा होगा। जी हां गली-कूचे और हर चौराहों पर मिलने वाले गोलगप्‍पे को अगर घर पर ही बनाकर खाया जाए तो यह आपका मोटापा दूर करने के साथ-साथ पेट की समस्‍याओं के लिए भी अमृत की तरह होता है। क्‍या सच में गोलगप्‍पे हमारी हेल्‍थ के लिए फायदेमंद हो सकते हैं, इस बारे में जानने के लिए हमने न्यूट्रिशनिस्ट मेघा मुखीजा से बात की। मेघा मुखीजा: 2016 से Health Mania में चीफ डा‍इटीशियन और फाउंडर है। तब उन्‍होंने हमें इसके फायदों के बारे में बताया। आइए आप भी हमारे साथ इस बारे में जानें।

इसे जरूर पढ़ें: घर पर ऐसे बनाएं कुरकुरे गोलगप्पे और चटपटा पानी

golgappa benefits Inside

न्यूट्रिशनिस्ट मेघा मुखीजा जी का कहना है कि ''हम बाजार में मिलने वाले गोलगप्‍पों के फायदे के बारे में बात नहीं कर रहे है बल्कि हम घर में बने गोलगप्‍पों और उसके पानी के फायदों के बारे में बता रहे हैं।'' उनका कहना है कि ''अगर आप घर में गोलगप्‍पे पानी मीठा कम लेकिन पुदीना, जीरा, हींग आदि डालकर बनाती हैं तो इसमें बहुत सारे पाचन गुण होते हैं। हरा धनिया पेट फूलना, मूत्र उत्पादन को बढ़ाता है, मूत्रवर्धक एजेंट के रूप में काम करता है। साथ ही पानी में मौजूद हींग एंटी-फ्लैटुलेंस गुणों के कारण पीरियड्स में होने वाले दर्द और पेट में गड़बड़ी को रोकने में हेल्‍प करता है।'' 

Recommended Video

 

''जीरा मुंह से आने वाली दुर्गंध को रोकने के साथ ही पाचन में मददगार होता है। पुदीना एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोन्यूट्रिएंट से भरपूर होता है जो डाइजेशन में हेल्‍प करता है। पेट की ऐंठन को शांत करता है और एसिडिटी को कंट्रोल करने में हेल्‍प करता है और इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम के रोगियों के लिए फायदेमंद है। पुदीना अर्क दर्द को कम और दर्द को शांत करने में हेल्‍प करता है। इसके एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण ओरल इंफेक्‍शन से लड़ने में हेल्‍प करते हैं। यह नाक को अच्‍छे से साफ करके सर्दी और खांसी से राहत देता है।'' 

golgappa benefits Inside

''अगर गोलगप्‍पेे बनाने के लिए सूजी या आटे की जगह होल वीट आटे का इस्‍तेमाल किया जाता है, तो इसमें कुछ भी गलत नहीं है। लेकिन मॉडरेशन में ही करें। इसे प्रोटीन से समृद्ध बनाने के लिए कुछ बदलाव किया जा सकता है, जैसे आलू की बजाय उबला हुआ चना मिलाएं। पानी को दही से बदला जा सकता है। यह आपको ज्‍यादा कैलोरी बर्न करने में हेल्‍प करेगा। चटनी के साथ कुछ सलाद जोड़ा जा सकता है। इस तरह से इसे आपको वेट लॉस डाइट के रूप में ले सकते हैं। लेकिन अगर आप हाइपरटेंसिव हैं, तो नमक थोड़ा कम ही रखें।''

इसे जरूर पढ़ें: गोलगप्पे के लिए घर पर कैसे बनाएं 5 तरीके का पानी

इसके अलावा यह आपका मूड रिफ्रेश करने में हेल्‍प करता है। गर्मी और चिलचिलाती धूप में अक्सर लोग हैरान-परेशान हो जाते है। इस दौरान चिड़चिड़ाहट और ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की इच्छा होती है। अगर आप घर में बने गोलगप्‍पे खाएंगी और पानी पीएंगी तो आपको बिल्कुल रिफ्रेश महसूस होगा।