एसिडिटी ने कर दिया है जीना मुश्किल, तो ये घरेलू उपाय अपनाएं

By Pooja Sinha27 Dec 2017, 10:45 IST

आजकल की लाइफस्‍टाइल के चलते हमारी लाइफ में बहुत बदलाव आया है। खाने का सही समय निर्धारित नही हैं। कभी भी कुछ भी खा लेते हैं जिसके कारण एसिडिटी की समस्‍या हो जाती है। इस समस्‍या के होने पर पेट में दर्द, गैस, जी मिचलाना, खट्टी डकारें आना और पेट में जलन जैसी समस्‍याएं देखने को मिलती है। अक्‍सर महिलाएं इस समस्‍या को नजरअंदाज करती हैं और समस्‍या की तरफ उनका ध्‍यान तब जाता है जब यह विकराल रूप ले लेता है। इसलिए एसिडिटी का समय पर इलाज करवाना बहुत जरूरी है। आप यहां दिये घरेलू उपायों को अपनाकर एसिडिटी की समस्‍या से छुटकारा पा सकती हैं।

ठंडा दूध

अगर आपको ज्‍यादा मसालेदार खाना खाने से एसिडिटी हो रही है तो आप ठंडे दूध का लें। दूध में काफी मात्रा में कैल्शियम होता है, जो पेट में एसिड की मात्रा को काबू करने में मदद करता है।

जीरा

सब्जियों में छौंक लगाने के अलावा जीरे का इस्‍तेमाल आप एसिडिटी को दूर करने के लिए भी कर सकती हैं। जी हां भूने हुए जीरे के चूर्ण को भोजन के बाद आधा गिलास पानी के साथ पिएं। इससे एसिडिटी और गैस जैसे रोगों में बहुत आराम मिलता है।

Read more: Fruits खाने का सही समय : कौन सा फल किस समय खाना चाहिए?

सौंफ

सौंफ ना केवल आपको अच्‍छा फ्लेवर मिलता है बल्कि सौंफ में मौजूद तत्‍व पेट में हाइड्रोक्‍लोरिक एसिड के स्राव पर असर डालते है। इसलिए अगर आपको एसिडिटी परेशान करती हैं तो भोजन करने के बाद सौंफ चबाएं, आपको तुरंत आराम महसूस होगा।

तुलसी के पत्‍ते

तुलसी के पत्‍ते सर्दी-जुकाम दूर भगाने के साथ-साथ पेट की समस्‍याओं खासतौर पर एसिडिटी को दूर करने में हेल्‍प करते हैं। तुलसी की 4-5 पत्तियों को सुबह खाली पेट चबाने से एसिडिटी कंट्रोल में रहती है।

छाछ

एसिडिटी होने पर छाछ में थोडा़ सेंधा नमक डालकर पिएं। छाछ में लैक्टिक एसिड की संतुलित मात्रा होती है। जिससे पेट को बहुत आराम मिलता है।

एसिडिटी को नजरअंदाज ना करें बल्कि सही समय पर इसका इलाज करें।

Credits

Producer: Rohit

Editor: Anand