सर्दियों के मौसम में विशेष रूप से ज्‍यादातर लोग खुद को स्‍वादिष्‍ट व्‍यंजनों का मजा लेने से खुद को रोक नहीं पाते हैं। ऐसे ही फूड्स में बाजरे और मक्‍के की रोटी, सरसों का साग, सोंठ के लड्डू, कश्‍मीरी दम आलू और चिक्‍की शामिल हैं। चिक्‍की को कुछ लोग गुड़ की पट्टी के नाम से भी जानते हैं। 

यह एक बहुत ही फेमस इंडियन मिठाई है जो दो मुख्य रूप से दो चीजों यानि गुड़ और मूंगफली का इस्‍तेमाल करके बनाई जाती है। देशभर में इस पारंपरिक व्यंजन की कई किस्में उपलब्ध हैं, लेकिन गुड़ और मूंगफली का उपयोग करके बनाई जाने वाली इस चिक्‍की को सर्दियों के दौरान सबसे अधिक स्वादिष्ट माना जाता है। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि यह स्‍वाद बढ़ाने के साथ-साथ बहुत सारे हेल्‍थ बेनिफिट्स से भी भरपूर होती है। अगर आपको ठंड के मौसम में चिक्की खाने के फायदों के बारे में जानकारी नहीं है तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें। आज हमें शालीमार बाग स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की डाइटिशियन सिमरन सैनी इसके फायदों के बारे में बता रही हैं। 

एक्‍सपर्ट की राय

सिमरन सैनी जी का कहना है कि ''गुड़ के कई हेल्‍थ बेनिफिट्स हैं। अगर चिक्‍की में शुद्ध गुड़ और मूंगफली का इस्‍तेमाल और डाइट में इसका सेवन कम मात्रा में किया जाए तो सर्दियों में यह हमारे सिस्टम के लिए एक छोटे इम्यूनिटी बूस्टर की तरह काम करती है। आयरन और कैल्शियम से भरपूर होने के कारण यह न केवल हमारे हीमोग्लोबिन को बढ़ाती है, बल्कि यह दांतों और हड्डियों के लिए भी अच्छी होती है।'' 

इसे जरूर पढ़ें:बिना कोलेस्ट्रॉल बढ़ाए सर्दियों में खाएं ड्राई फ्रूट वाली तिल चिक्की

gur patti in winter inside

''जिंक और सेलेनियम से भरपूर होने के कारण यह इम्‍यूनिटी को बढ़ावा देने में मदद करती है और सामान्य सर्दी और फ्लू से बचाने में मदद करती है। एक प्राकृतिक स्वीटनर होने के नाते यह मूड स्विंग को रोकने में मदद करती है और मूड को हल्का और जीवंत रखती है। इसके अलावा गुड़ की चिक्‍की एक प्राकृतिक detoxifier की तरह काम करती है और शरीर को टॉक्सिन से छुटकारा पाने में मदद करती है। यह पाचन को भी अच्छा करती है और एसिडिटी, अपच और कब्ज को दूर करनेमें मदद करती है। गुड़ के अलावा इसमें मौजूद बादाम और मूंगफली जैसे नट्स में ओमेगा 3 फैटी एसिड और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है और इस प्रकार यह अच्छा पोषण देती है। यहां तक कि यह सर्दियों के दौरान हमारे सिस्टम को थोड़ी गर्मी प्रदान करने में मदद करती है।''

Recommended Video

हार्ट के लिए अच्‍छा

हम में से ज्यादातर लोग दैनिक आधार पर जंक और अस्वास्थ्यकर स्नैक्स पर निर्भर करते हैं। निसंदेह यह हमारे पेट को भरते हैं लेकिन कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बढ़ाकर हमारे हार्ट हेल्‍थ को नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में आप चिक्‍की ले सकती हैं और कोरोनरी धमनी रोग और स्ट्रोक जैसी समस्याओं से बच सकती हैं। चिक्की अधिक हेल्‍दी है क्योंकि यह मोनो-असंतृप्त फैटी एसिड से भरपूर होती है जो आपके दिल और कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बनाए रखने में मदद करती है।

gur patti in winter inside

ग्रोथ के लिए अच्‍छा

सर्दियों में फिजिकल एक्टिविटी कम हो जाती है। यह हमारे मेटाबॉलिक रेट को धीमा करता है जो हमारी हेल्‍थ और विकास को प्रभावित करता है। इससे बचने के लिए अमीनो एसिड जैसे पोषक तत्वों का सेवन जरूरी है। गुड़ और मूंगफली दोनों में यह मौजूद होता है जो आवश्यक ग्रोथ में हेल्‍प करता है।

नर्वस हेल्‍थ के लिए अच्‍छा

ब्रेन को हमारे शरीर का पावरहाउस कहा जाता है, जिसका अर्थ है कि सभी प्रमुख निर्णय और निर्देश यहां तय किए गए हैं। इसलिए आप चाहती हैं कि आपका ब्रेन आपके जीवन काल तक सर्वोत्तम संभव तरीके से काम करें। हालांकि, बढ़ती उम्र के साथ, यहां तक कि ब्रेन भी कम कुशल होने लगता है। लेकिन आप इसे हेल्दी खाकर सपोर्ट कर सकते हैं। डिमेंशिया और अल्जाइमर जैसी आम समस्याओं से लड़ने के लिए चिक्की खाएं क्‍योंकि एंटीऑक्सीडेंट और कई फाइटोफेनोल्स होते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:व्रत के लिए घर पर बनाएं काजू की चिक्की, जानें इसकी रेसिपी

gur patti in winter inside

त्‍वचा की समस्‍याओं को दूर करें

जैसे-जैसे सर्दी पास आती है वैसे-वैसे त्वचा में कई तरह की समस्‍याएं होने लगती है। इस समय, आपको अपनी रेगुलर विंटर स्किन केयर रूटीन को अपनाने की जरूरत होती है। साथ ही बाहर से त्वचा को नमी प्रदान करने के साथ-साथ अंदर से सपोर्ट करने के लिए पोषण की भी आवश्यकता होती है। चिक्की में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों होने के लिए जानी जाती है, जो त्वचा से जुड़ी समस्‍याओंको रखने के लिए अद्भुत है। साथ ही मूंगफली में विटामिन ई, जिंक और मैग्नीशियम आपकी त्वचा को हेल्‍दी और ग्‍लोइंग बनाए रखते हैं। 

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो फेसबुक पेज पर कमेंट करके हमें जरूर बताएं। ऐसे और आर्टिकल पढ़ने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।

Image Credit: Freepik.com