बदलती लाइफस्‍टाइल, जल्‍दबाजी में खाना, खाने में पोषक तत्‍वों की कमी और लंबे समय बैठकर काम करने के कारण आज ज्‍यादातर लोग कब्‍ज की समस्‍या से परेशान हैं। सर्दियों में तो यह समस्‍या ज्‍यादा परेशान करती हैं, क्‍योंकि इस मौसम में खान-पान में गड़बड़ी हो जाती है और ज्‍यादातर लोग एक्‍सरसाइज करने से बचते हैं। ऐसे में डाइजेशन भी स्‍लो हो जाता है। कब्ज के दौरान आपको तरोजाता महसूस नहीं होता और पेट संबंधी समस्‍याएं जैसे दर्द, ठीक से फ्रेश ना होना, शरीर का मल पूरी तरह से न निकलना आदि होने लगती है। और तो और अगर आपको लंबे समय से कब्ज रहता है और आपने इस बीमारी का इलाज नहीं कराया है तो ये एक भयंकर बीमारी का रूप ले सकती है। ऐसे में लोग इस समस्‍या से बचने के लिए दवाओं का सहारा लेती हैं। दवाएं लेने से उस समस्‍या तो पेट साफ हो जाता है, लेकिन बाद में फिर से समस्‍या होने लगती हैं। और एक बार अगर आपके शरीर को दवाओं की आदत पड़ जाए तो पेट कभी भी बिना दवा के साफ नहीं होता है। इसके अलावा अगर इस समस्‍या का समाधान न किया जाए तो यह अन्‍य कई समस्‍याओं का कारण बन सकती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: आटे में रोजाना ये '1 चीज' मिलाकर खाएंगी तो जिदंगी भर नहीं होगी कब्‍ज

अगर आप भी कब्‍ज से परेशान हैं तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि आज हम आपको ऐसी नेचुरल चीजों के बारे बता रहे हैं जो आपको कब्‍ज से छुटकारा दिलाने में आपकी पूरी मदद करेंगी। और इस बारे में हमें आयुर्वेदिक एक्‍सपर्ट वाजपेयी बता रहे हैं। इन उपायों को अपनाकर आपकी समस्‍या ना केवल दूर हो जाएगी बल्कि लाइफ में कभी परेशान नहीं करेगी। तो देर किस बात की आइए ऐसे ही कुछ उपायों के बारे जानें। 

constipation expert remedy milk inside

कब्‍ज से बचाव

  • कब्ज का मूल कारण बॉडी में लिक्विड की कमी है। पानी की कमी से आंतों में मल सूख जाता है और मल निष्कासन में जोर लगाना पडता है। इसलिए कब्ज से परेशान लोगों को दिन में कम से कम 3 लीटर पानी पीने की आदत डालनी चाहिए। 
  • आजकल ज्‍यादातर लोग खाने में फास्‍ट फूड खाना पसंद करते हैं लेकिन यह ड्राई खाना कब्‍ज का कारण बनता हैं। इसके अलावा लोग घी बिल्‍कुल भी नहीं खाते हैं। लेकिन कब्‍ज की समस्‍या से बचने के लिए अपने भोजन में तेल और घी की मात्रा का उचित लेवल बनाये रखें। चिकनाई वाले पदार्थ से मल आसानी से निकलता है।
  • पका हुआ बिल्व फल कब्ज के लिए बहुत अच्‍छी औषधि है। इसे इस्‍तेमाल करने के लिए पानी में उबालें। फिर मसलकर रस निकालकर रोजाना कम से कम 7 दिन तक लें। कब्‍ज की समस्‍या से छुटकारा मिलेगा।
constipation expert remedy fig inside
  • अंजीर कब्ज को दूर करने वाला सबसे अच्‍छा ड्राईफ्रूट है। 2 अंजीर रातभर पानी में भिगो लें और सुबह इसे खाएं और पानी को पी लें। यह आंतों को गतिमान कर कब्ज को दूर करता है। अगर आप अच्‍छी क्‍वालिटी का अंजीर घर बैठे सस्‍ते दामों पर मंगवाना चाहती हैं तो आप इसे डिस्‍कांउट रेट पर आसानी से यहां से 555 रुपये में खरीद सकती हैं
  • मुनक्‍का में कब्ज दूर करने वाले तत्व होते हैं। 5 मुनक्का रोजाना रात को सोते समय लेने से कब्ज की समस्‍या से हमेशा के लिए छुटकारा मिलता है।
  • खाने में फाइबर की मात्रा ज्यादा लेने से भी कब्‍ज की समस्‍या दूर होती है। हरी पत्तेदार सब्जियों और फलों में प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है। इसलिए अपनी डाइट में फाइबर की भरपूर मात्रा को शामिल करना चाहिए। 
  • नींबू कब्ज में बेहद गुणकारी होता है। हल्‍के गर्म पानी में 1 नींबू निचोड़कर दिन में 2-3 बार पियें। जरूर फायदा होगा।
  • रात को सोते समय 1 गिलास गरम दूध पियें। मल आंतों में चिपक रहा हो तो दूध में 2 चम्मच कैस्टर ऑयल मिलाकर पीना चाहिये। इसबगोल की की भूसी कब्ज में बहुत फायदेमंद होती है। दूध या पानी के साथ 2 चम्मच इसबगोल की भूसी रात को सोते समय लेना फायदेमंद है। दस्त खुलकर होने लगता है। यह एक नेचुरल फाइबर है और आंतों की सक्रियता बढ़ाता है।
  • एक गिलास दूध में 1 चम्मच घी मिलाकर रात को सोते समय पीने से भी कब्ज दूर होती है।
constipation expert remedy water inside
  • एक कप गर्म पानी में 1 चम्म्च शहद मिलाकर पीने से कब्ज मिटती है। यह मिश्रण दिन में 3 बार पीना फायदेमंद होता है।
  • पालक का रस या पालक कच्चा खाने से कब्ज को दूर करता है। पुरानी कब्ज भी इस आसान उपचार से आसानी से दूर हो जाती है।
  • अमरूद और पपीता ये दोनों फल कब्ज रोगी के लिये अमृत की तरह काम करते है। ये फल दिन में किसी भी समय खाये जा सकते हैं। इन फलों में पर्याप्‍त में फाइबर होता है और आंतों को शक्ति देते हैं। मल आसानी से विसर्जीत होता है।

अगर आप भी कब्‍ज की समस्‍या से परेशान हैं तो एक्‍सपर्ट के इन उपायों से आप आसानी से समाधान पा सकती हैं।