• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

गर्मियों में भी हो रहा है जुकाम और खांसी से हैं परेशान तो ये आयुर्वेदिक दवा आएगी काम

अगर आपको हर सीजन में खांसी, बलगम, नाक बंद जैसी समस्याएं होती हैं तो आप इस आयुर्वेदिक होम रेमेडी को ट्राई कर सकते हैं।   
author-profile
Published -07 Jun 2022, 14:01 ISTUpdated -07 Jun 2022, 14:09 IST
Next
Article
how to cure nasal and throat infection

मौसम का बदलाव कई लोगों को बीमार कर सकता है। बदलते हुए मौसम में गले और नाक से जुड़ा इन्फेक्शन तो इतना ज्यादा होता है कि उसके कारण खाना खाने, पानी पीने, सांस लेने और सोने-जागने में भी दिक्कत होने लगती है। नाक और गर्दन का दर्द तो छोड़ ही दीजिए। अगर आपसे पूछा जाए कि इस तरह की समस्याओं के लिए आप क्या करते हैं तो शायद आपका सीधा सा जवाब होगा- 'दवा खाते हैं।'

भारत में हर छोटी चीज़ के लिए दवा खाने और बिना डॉक्टर की सलाह के अपना इलाज खुद करने की आदत है। छोटी-छोटी चीज़ों के लिए कई बार आयुर्वेदिक डॉक्टर के बताए नुस्खे काफी काम के साबित हो सकते हैं। आयुर्वेदिक डॉक्टर दीक्षा भावसार ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इसी से जुड़ी पोस्ट शेयर की है। 

उनका कहना है कि उन्होंने अपने घर पर भी नाक और गले के इन्फेक्शन के लिए इसी तरह के ट्रीटमेंट का इस्तेमाल किया था। उन्होंने एक ड्रिंक के बारे में बताया जो इस मामले में मदद कर सकती है। 

nasal problems and infection

इसे जरूर पढ़ें- Expert Tips: सर्दी और खांसी के लिए बेस्‍ट हैं ये 5 घरेलू नुस्‍खे 

नाक और गले के इन्फेक्शन में मदद करेगा ये काढ़ा-

डॉक्टर दीक्षा ने साफ किया कि नाक बहना शुरू हो या फिर खांसी बहुत ज्यादा हो जाए उससे पहले ही इसे ले लेना चाहिए क्योंकि उसके बाद पूरी तरह से ट्रीटमेंट की जरूरत पड़ती है। जिस आयुर्वेदिक काढ़े की बात यहां हो रही है उसे तीन तरह से लिया जा सकता है। स्टीम के तौर पर, पीने के लिए, गार्गल करने के लिए।

अब अगर बात करें इस ड्रिंक की तो इस रेसिपी में सारे वो इंग्रीडिएंट्स इस्तेमाल किए गए हैं जिनमें इन्फेक्शन को ठीक करने की क्षमता है। 

nose blockage

क्या है इस आयुर्वेदिक ड्रिंक की रेसिपी-

इस ड्रिंक को बनाने के लिए 10-15 मिनट से ज्यादा का समय नहीं लगेगा और आपको इसका फायदा भी काफी होगा। 

सामग्री- 

  • 2 ग्लास पानी
  • मुट्ठी भर पुदीने की पत्तियां
  • 1 छोटा चम्मच अजवाइन
  • आधा छोटा चम्मच मेथी दाने
  • आधा छोटा चम्मच हल्दी 

इन सारी चीज़ों को मिलाकर आप 7-10 मिनट के लिए उबालें।  

 

इसे जरूर पढ़ें- खांसी की दवा पीने से पहले एक्सपर्ट से जान लें उसके डिफरेंट टाइप  

कब पीनी है ये ड्रिंक? 

वैसे तो आप इसे गरारे करने के लिए या फिर स्टीम लेने के लिए कभी भी इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन अगर आप बात कर रहे हैं इसे पीने की तो इसे या तो बिल्कुल खाली पेट पीना चाहिए या फिर आपको इसे खाना खाने के एक घंटे बाद ही इस्तेमाल करना चाहिए।  

Recommended Video

दिन में कितनी बार ली जा सकती है स्टीम? 

इस काढ़े से आप दिन में तीन बार स्टीम ले सकती हैं या फिर तीन बार ही गरारे कर सकती हैं।  

वैसे तो आयुर्वेदिक नुस्खे कई लोगों पर अच्छा असर करते हैं, लेकिन हर शरीर अलग होता है और सभी की हेल्थ कंडीशन भी अलग होती है। ऐसे में अगर आपको देसी नुस्खे सूट नहीं करते हैं तो आप इसे डॉक्टर की सलाह के बाद ही लें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।