• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

खांसी की दवा पीने से पहले एक्सपर्ट से जान लें उसके डिफरेंट टाइप 

सर्दियों के मौसम में खांसी का होना एक आम समस्या है लेकिन अगर आप बिना किसी डॉक्टर के कफ सिरप पी लेते हैं, तो एक बार यह लेख जरूरी पढ़ लें। 
author-profile
Next
Article
know about types of cough in hindi

सर्दियों के मौसम में ठंड के बढ़ते ही सर्दी, खांसी, बुखार जैसी बीमारियों भी बढ़ने लगती है। सर्दियों में ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारा शरीर अंदर से ठीक से गर्म नहीं हो पाता है और इसकी वजह से हमें कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है। इसको लेकर डॉक्टर समीर अहमद अंसारी (गुरु तेग बहादुर हॉस्पिटल में जूनियर डॉक्टर हैं) का मानना है कि इस मौसम में ठंड से बचने के लिए हम गर्म कपड़े तो पहन लेते हैं, मगर ठंड के असर से बचने के लिए शरीर को बाहर के साथ-साथ अंदर से भी गर्म रखना जरूरी है। इसलिए सर्दियों में लोगों को अपनी हेल्थ को लेकर और ज्यादा सतर्क होना होगा। इस वक्त वैसे भी पूरा देश एक वैश्विक महामारी से गुजर रहा है।

Dr sameer

वर्तमान में, खांसी सबसे ज्यादा फैलने वाला लक्षण है। क्योंकि यह कोविड संक्रमण के सामान्य लक्षणों में से एक है। यह कारण हमें अपने गले और श्वसन प्रणाली की अतिरिक्त देखभाल करने पर मजबूर करता है। हालांकि हर बार खांसी खतरनाक नहीं होती है। लेकिन हर बार खांसी को दूर करने के लिए एक ही कफ सिरप पीना ठीक नहीं है क्योंकि इसे पीने से पहले खांसी की मूल प्रकृति का पता होना जरूरी है लेकिन ऐसे आइए जानते हैं।

कितने तरह की होती हैं खांसी?

normal cough

एक्सपर्ट कहते हैं कि खांसी के प्रकारों के बारे में मूल रूप से कह पाना थोड़ा मुश्किल है क्योंकि यह मरीज के स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं पर निर्भर करता है लेकिन फिर भी खांसी दो प्रकार हमें देखने को मिलते हैं। 

सूखी खांसी 

सूखी खांसी एक तरह की सूखी खांसी होती है, जिसमें मरीज को किसी भी तरह का गीलापन महसूस नहीं होता है यानि गला सूख जाता है और बलगम की शिकायत नहीं होती है। 

गीली खांसी

यह एक तरह की गीली खांसी है, जिसमें मरीज को गले में गीलापन महसूस होता है और बलगम की शिकायत होती है। हालांकि, इस खांसी में बलगम भी कई तरह के होते हैं जैसे पीला आदि।

इसके अलावा भी खांसी कफज खांसी, क्षतज खांसी, क्षयज खांसी, वातज खांसी आदि भी होती हैं। कई मामलों में लोगों को खून आने की भी शिकायत होती है। 

इसे ज़रूर पढ़ें- बदलते मौसम में कोल्‍ड और कफ से लड़ने के लिए ये 3 अद्भुत आयुर्वेदिक नुस्‍खे आजमाएं

कैसे करें खांसी की पहचान 

winter cough

वैसे तो खांसी के पहचान करना मुश्किल है लेकिन गीली और सूखी खांसी की पहचान करना आसान है। इसमें गीली खांसी में मरीज को खांसते वक्त बलगम आता है। वहीं, सूखी खांसी में मरीज को कोई बलगम नहीं आता और खांसते वक्त गला सूख जाता है। 

वहीं, खानपान की गलत आदतों की वजह से गड़बड़ होने से भी खांसी हो जाती है। इसे सामान्य खांसी कहते हैं। इसमें गले में संक्रमण होने पर खराश जैसे लक्षण महसूस होते हैं। लेकिन अगर आपको किसी बीमारी के चलते खांसी की शिकायत है, तो आपको डॉक्टर की सलाह से टेस्ट करवाना चाहिए। 

क्या हर खांसी के लिए एक ही कफ सिरप पीना उपयोगी है? 

cough syrp

यह सवाल हमने डॉक्टर समीर से पूछा उन्होंने कहा कि नहीं, हर खांसी के लिए एक ही कफ सिरप पीना ठीक नहीं है क्योंकि गीली और सूखी खांसी का कफ सिरप अलग अलग होते हैं। वहीं, अगर आपको किसी बीमारी की वजह से खांसी की शिकायत है, तो उसकी दवा अलग होती है। लेकिन आजकल लोग यही करते हैं कि एक बार डॉ के दिखाने के बाद कफ सिरप का इस्तेमाल डॉक्टर को बिना दिखाए करते रहते हैं, जो गलत है। 

कोरोनावायरस की खांसी किस तरह अलग है? 

know about cough

यह जानने के बाद लोगों के मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि इस वक्त कोरोनावायरस का कहर जारी है और खांसी का होना वायरस का लक्षण है, तो क्या कोरोनावायरस की खांसी अन्य खांसी से अलग है? इसको लेकर हमने डॉक्टर समीर से पूछा उन्होंने कहा यह स्पष्ट रूप से कह पाना ठीक नहीं है कि कोरोनावायरस की खांसी अन्य खांसी से अलग है। क्योंकि कई केस में हमने मरीजों को सूखी खांसी, तो कई मामलों में गीली खांसी की शिकायत देखी है। वहीं, अब लोगों को सांस फूलने की भी शिकायत देखी जा रही है। 

ये प्राकृतिक चीजें हो सकती हैं फायदेमंद 

अगर आपको खांसी है, तो आप एक से दो हफ्तों तक ये प्राकृतिक चीजें इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन अगर इसके बाद भी खांसी ठीक नहीं हो रही है, तो डॉक्टर के पास जाकर दवा लें। 

शहद

शहद के गुणों से आप सभी परिचित हैं। शहद सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। अगर आपको सर्दी या खांसी हुई है तो उसमें शहद बेहद असरदार है। खासतौर पर सूखी खांसी को दूर करने के लिए शहर का इस्तेमाल करें। 

गर्म पानी

गर्म पानी पीने से आपका मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ता है मगर, इससे भी ज्यादा यह खांसी को खत्म करने में असरदार होता है। दिन में अगर आप 3 बार गरम पानी पी लेंगी तो आपको खांसी में काफी राहत मिलेगी। 

Recommended Video

काली मिर्च

काली मिर्च खाने का स्वाद तो बढ़ाती ही है मगर यह बेहद सेहतमंद मसाला है। अगर आपको खांसी आ रही है, तो उसे ठीक करने के लिए काली मिर्च रामबाण हैं। खांसी को दूर करने के लिए आपको काली मिर्च को पहले पीसना है और फिर देशी घी में भूनकर चाट लेना है। 

मसाला चाय

तुलसी, काली मिर्च और अदरक की चाय सूखी खांसी को दूर करने में सबसे अच्छी मानी जाती है। मसाला चाय घर पर ही आसानी से बन सकती है। इसमें पड़ने वाली तुलसी बेहद फायदेमंद होती है। वहीं अदरक के बेनिफिट्स भी बहुत अधिक हैं। 

डॉक्टर के पास कब जाएं

cough test

अगर आपकी खांसी ठीक नहीं हो रही है या खांसी के साथ आपको कोई और लक्षण नजर आ रहे हैं, तो आप तुरंत डॉक्टर के पास जाएं और अपना नियमित रूप से इलाज करवाएं। 

नोट- ये प्राकृतिक चीजें इस्तेमाल करने से पहले डॉ से सलाह जरूर ले लें। 

इसे ज़रूर पढ़ें- सर्दी-जुकाम से बचाएंगी घर में ही मौजूद ये 5 चीजें, एक्‍सपर्ट से जानें

उम्मीद है कि आपको खांसी से जुड़ी यह जानकारी पसंद आई होगी। साथ ही आपको आर्टिकल कैसा लगा? यह हमें कमेंट कर जरूर बताएं और इसी तरह के अन्य खबर और बिग बॉस कंटेस्टेंट से जुड़ी जानकारी पाने के लिए जुड़ी रहें हर जिंदगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik)

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।