चटपटा और मसालेदार खाना सभी को बहुत अच्‍छा लगता है, लेकिन कई बार मसाले वाला खाना खाने से मुंह जलने लगता है। इसके बाद कुछ भी खा लो, लेकिन तीखी चुभन कम नहीं होती है। ऐसे में कुछ समझ में नहीं आता है कि क्‍या करना चाहिए? इसलिए आज हम आपके लिए कुछ जबरदस्‍त घरेलू नुस्‍खे लेकर आए हैं। जी हां ऐसी स्थिति में मुंह में लगने वाली मिर्च को शांत करने और जल्‍दी आराम पाने के लिए आप घरेलू नुस्खों को आजमा सकती हैं। इन टिप्स को अपनाने से आपके मुंह की जलन तुरंत ही कम हो जाएगी।

हमारे पास कई टेस्ट बड्स होते हैं जो अलग-अलग स्वाद जैसे मीठा, नमकीन, कड़वा इत्यादि लेती हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि मसालेदार वास्तव में स्वाद नहीं होता है? मिर्च जैसे मसालेदार फूड्स दर्द रिसेप्टर्स को एक्टिव करते हैं और ब्रेन को सीधे संकेत भेजते हैं जो भोजन के तीखे होने की व्याख्या करने में आपकी मदद करते हैं।

जब केमिकल कैप्साइसिन (मिर्च) या पिपेरिन (काली मिर्च) या आइसोथियोसाइनेट (सरसों और मूली) आपकी जीभ को छूते हैं तो यह मुंह को अस्थायी रूप से सुन्न कर देते हैं। एक मिथक है कि मसालेदार फूड्स आपके टेस्ट बड्स को मार देते हैं। लेकिन हां अत्यधिक मसाले ऐसा कर सकते हैं। मुंह में सनसनी का यह नुकसान आपको अन्यथा विश्वास करने के लिए प्रेरित कर सकता है। यह सुन्नता वास्तव में मसाले से प्रेरित दर्द से खुद को बचाने के लिएशरीर का रक्षा तंत्र है। लेकिन यह अस्थाई है और रिसेप्टर्स जल्द ही सामान्य हो जाते हैं। अगर आप कुछ बहुत मसालेदार खाते हैं और आपके मुंह में जलन होती है, तो यहां कुछ घरेलू उपचार दिए गए हैं जिन्हें आप अपने बचाव में लाएं:

डेयरी प्रोडक्‍ट्स

dairy products inside

यह मैजिक बाम की तरह काम करते हैं। मुंह की जलन को दूर करने के लिए ठंडे दूध का एक घूंट या दही का एक चम्‍मच खाने से आराम मिलता है। मिर्च वाले खाने में कैप्साइसिन होता है, जिसके कारण ऐसा होता है। डेयरी में मौजूद कैसिइन नामक प्रोटीन कैप्साइसिन को तोड़ने और इसके प्रभावों से कुछ राहत प्रदान करने में मदद करता है।

इसे जरूर पढ़ें:मुंह के छालों को '2 दिन' में गायब करता है दादी मां का बताया ये नुस्‍खा

टमाटर और नींबू

lemon inside

यह आपको आश्चर्यजनक लग सकता है कि भला टमाटर और नींबू जलन को कैसे शांत कर सकते हैं। लेकिन विज्ञान में इसका आधार है। मसाले की एसिडिटी इन ऐल्‍कालाइन फूड्स के साथ निष्प्रभावी हो सकती है। तत्काल राहत पाने के लिए कुछ टमाटर के टुकड़ों पर चबाएं। संतरे, अनानास और नींबू के रस में समान गुण होते हैं। आप टमाटर के रस का उपयोग करके गार्गल कर सकते हैं। अगर यह उपाय नहीं करना चाहती हैं तो कच्चे टमाटर खाना मुंह में छालों से बचने का एक और उपाय है।

चीनी या शहद

honey inside

अगर आपके पास शुगर क्यूब्स हैं तो आप राहत पाने के लिए इसे चूस सकते हैं। तेल आधारित कैप्साइसिन चीनी या शहद द्वारा अवशोषित हो जाता है और इस तरह आपको बेहतर महसूस करने में मदद करता है। इसी तरह शहद भी काम करता है।

 

स्टार्च

starch inside

स्टार्च कैप्साइसिन और आपके मुंह के बीच एक प्राकृतिक बाधा प्रदान करता है, इस प्रक्रिया में कुछ को अवशोषित करता है। जी हां चावल, आलू और ब्रेड तीनों फूड्स में स्टार्च होता है और इनमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है। यह आपके द्वारा खाए गए मिर्च से काफी राहत दिलाता है।

इसे जरूर पढ़ें:मुंह की बदबू से हैं परेशान तो आजमाएं दादी मां के ये 5 नुस्‍खे

पानी क्‍यों नहीं?

मिर्च लगने पर हम सबसे पहले पानी मांगते हैं। हालांकि यह हमें उचित लगता है क्‍योंकि मुंह में सचमुच 'आग' लगी होती है, लेकिन पानी शायद मदद नहीं करेगा। जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, कैप्साइसिन एक प्राकृतिक तेल है और पानी इसके साथ मिक्‍स नहीं होता है। इस प्रकार, पानी आपके मेम्ब्रेन पर कैप्साइसिन के प्रभाव को कम करने में मदद नहीं करेगा। बल्कि, यह आपके मुंह के अन्य हिस्सों में भी तेल फैलाने में मदद कर सकता है।

तुरंत राहत के लिए ऊपर दिए गए किसी एक उपाय को आजमाएं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।

Image Credit: Freepik.com