अब मौसम बदलने लगा है और मौसम के करवट लेते ही सीजनल बीमारियों का समय शुरू हो जाता है। वैसे तो सर्दी, बुखार आदि को थोड़ा महत्व दे दिया जाता है, लेकिन अगर किसी की नाक बहने लगी तो ना तो इसे बीमारी माना जाता है और उसे देखकर बाकी लोग नाक-भौं भी सिकोड़ लेते हैं। नाक बहना किसी एलर्जी के कारण हो सकता है, सर्दी के कारण हो सकता है, किसी नेजल या इयर इन्फेक्शन के कारण हो सकता है, लेकिन ये देखने में बिल्कुल अच्छा नहीं लगता और साथ ही साथ ये बहुत ज्यादा परेशान करने वाली स्थिति भी होती है। 

एक तरफ तो नाक बहने के लिए हम सर्दी या एलर्जी की दवा खा लेते हैं, लेकिन दूसरी तरफ देसी तरीके भी ढूंढते हैं कि आखिर इसे कैसे कम किया जाए। नाक का बहना नेजल ट्रैक में म्यूकस बनने की वजह से होता है और इसे ठीक करने के लिए उसे साफ रखना बहुत जरूरी है। आज हम उन छोटे-छोटे टिप्स की बात करने जा रहे हैं जो नाक के बहने को रोक सकते हैं। 

नोट: ये टिप्स अलग-अलग रिसर्च द्वारा बताए गए हैं और इसे डॉक्टरी सलाह नहीं मानना चाहिए। 

1. पानी भरपूर पिएं-

जब भी हमें सर्दी होती है तो हम पानी पीना कम कर देते हैं, लेकिन यकीन मानिए ये सही तरीका नहीं है। एक रिसर्च कहती है कि अगर शरीर हाइड्रेट रहेगा तो आपके नेजल ट्रैक में मौजूद म्यूकस पतला होगा और इससे बंद नाक की समस्या भी दूर होगी और साथ ही साथ नाक से पानी के रूप में सारी गंदगी जल्दी निकल जाएगी। अगर ऐसा नहीं होगा तो ये स्टिकी और गाढ़ा म्यूकस नाक के जरिए निकलेगा जो अच्छा नहीं होगा। 

ऐसे ड्रिंक्स को अवॉइड करना चाहिए जो शरीर को हाइड्रेट करने की जगह डिहाइड्रेट करते हैं जैसे चाय और कॉफी। 

runny nose and its effects

इसे जरूर पढ़ें- घर में बनाए जा सकते हैं ये 4 तरह के चावल, जानें किस तरह का चावल है कैसे फायदेमंद

2. हर्बल चाय-

नाक बहने की समस्या में अगर गले और नाक को गर्माहट मिले तो ये बेहतर माना जाता है। हीट और स्टीम के कारण हर्बल टी आपके लिए ज्यादा बेहतर साबित हो सकती है। 

आप सूजन और जलन को कम करने वाले हर्ब्स जैसे कैमोमाइल, अदरक, पुदीना आदि चाय में ट्राई कर सकते हैं। नॉन-कैफीनेटेड हर्बल टी आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकती है। 

3. फेशियल स्टीम करेगी मदद-

बंद नाक और गले के इन्फेक्शन के समय स्टीम सबसे ज्यादा लाभकारी साबित हो सकती है। 2015 में की गई researchgate.net की स्टडी बताती है कि स्टीम इनहेलेशन आपकी सर्दी और बंद नाक की समस्या को 1 हफ्ते जल्दी ठीक कर सकता है। 

स्टीम लेना अच्छा होता है और इसे आप अपने हिसाब से कस्टमाइज कर सकते हैं जैसे कुछ लोग स्टीम लेते समय लौंग भी डालते हैं, कुछ लोगों को यूकेलिप्टस या पिपरमिंट ऑयल डालना होता है।  

स्टीम का पानी आप अपनी सहूलियत के हिसाब से बना सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें कि आप उन्हीं इंग्रीडिएंट्स का इस्तेमाल करें जो आपको सूट करते हों।  

4. गर्म पानी से नहाना- 

ये ठीक वही असर आपके ऊपर दिखाता है जैसे हॉट स्टीम दिखाती है। गर्म पानी से नहाना आपके नेजल कंजेशन को कम कर सकता है। ये उन लोगों के लिए अच्छा साबित हो सकता है जिन्हें साइनस की दिक्कत है और अक्सर नाक बंद रहती है।  

इसे जरूर पढ़ें- फैटी लिवर की समस्या को कम करने के लिए काम आएंगे ये 5 टिप्स 

Recommended Video

5. नेती पॉट (Neti Pot)- 

कई रिसर्च और डॉक्टर्स नेती पॉट का इस्तेमाल बहती हुई नाक को रोकने के लिए करते हैं। नेती पॉट्स छोटे टीपॉट जैसे कंटेनर होते हैं जिसमें सैलाइन सॉल्यूशन या फिर नमक का पानी डाला जाता है जो एक नॉस्ट्रिल से अंदर जाता है और दूसरे से बाहर आता है।  ये सबसे तेज़ और सबसे सुरक्षित तरीकों में से एक है जो आपके साइनस को जल्दी ठीक कर सकता है।  

runny nose neti posts

नेती पॉट्स का इस्तेमाल कैसे सही तरीके से करना है ये आप किसी ऑनलाइन वीडियो में देख सकते हैं। ये तरीका काफी असरदार है।  

ये पांचों तरीके आपकी मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, एक रिसर्च ये भी कहती है कि मिर्च में मौजूद कैस्पियन कम्पाउंड आपके लिए लाभकारी हो सकता है, लेकिन कुछ भी देसी दवा या खाने पीने में बदलाव अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही करें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।