फैटी लिवर एक ऐसी समस्या है जो लंबे समय से लोगों को परेशान कर रही है और मौजूदा हालात में तो ये इतना ज्यादा हो रहा है कि कम उम्र के लोग भी इस समस्या से दो-चार होना पड़ रहा है। ऐसा खराब लाइफस्टाइल की वजह से हो रहा है जिसके बारे में जानकारी रखना आपके लिए बहुत जरूरी है। अधिकतर लोग फैटी लिवर के कारण परेशान हैं और ना जाने कितनी दवा खा रहे हैं। 

फैटी लिवर की समस्या अधिकतर अल्कोहल के कारण होती है, लेकिन मौजूदा समय में नॉन-अल्कोहॉलिक फैटी लिवर प्रॉब्लम भी बढ़ रही है। खाने-पीने में खराबी और अपने फिजिकल मूवमेंट में कमी इसका कारण बन सकती है।

आयुर्वेदिक डॉक्टर दीक्षा भावसार ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट में कुछ खास टिप्स शेयर किए हैं। उनका कहना है कि वो हर महीने करीब 30 ऐसे मरीजों से कंसल्ट करती हैं जो इस समस्या से जूझ रहे होते हैं और अधिकतर मामलों में वो ये कोशिश करती हैं कि लाइफस्टाइल में आने वाले बदलाव से उनके मरीजों को ज्यादा दवा खाने की जरूरत ना पड़े और उनका काम भी आसानी से हो जाए। 

डॉक्टर दीक्षा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर 5 ऐसे टिप्स शेयर किए हैं जो मदद कर सकते हैं-

इसे जरूर पढ़ें- शुरू हो रही है लिवर की बीमारी तो आपका शरीर आपको देता है ये संकेत

1. नॉन-वेज, ग्लूटेन और डेयरी का इस्तेमाल ना करें-

ये फूड्स डायजेस्ट करने में काफी मुश्किल होते हैं इसलिए इन्हें अवॉइड करना ही सबसे बेहतर साबित हो सकता है। इतना ही नहीं, कच्चा खाना भी ज्यादा नहीं खाना चाहिए जो आपके लिवर के लिए अच्छा साबित नहीं होगा। आप डीप फ्राई फूड, फर्मेंटेड फूड्स (खासतौर पर उड़द और काले चने जो डाइजेस्ट करने में मुश्किल होते हैं), प्रोसेस्ड फूड्स, मैदा, पैकेज्ड फूड्स और शक्कर से भरपूर खाना अवॉइड करें। 

आसानी से पचने वाले फूड्स जैसे बाजरा, पकी हुई सब्जियां, चावल आदि खाने की कोशिश करें जिससे लिवर को न्यूट्रिएंट्स भी मिलें और शरीर को खाना पचाने में ज्यादा तकलीफ भी ना हो। 

fatty liver and issues

2. अल्कोहल और कैफीन से रहें दूर-

फैटी लिवर की समस्या में सबसे ज्यादा परेशानी अल्कोहल और कैफीन (चाय और कॉफी) से हो सकती है। ये आपकी आंतों में जलन और सूजन पैदा कर सकता है। ऐसे में कैफीन की जगह आप हर्बल चाय जैसे लेमन ग्रास, सीसीएफ (धनिया, जीरा और सौंफ), गुड़हल की चाय, धनिया की चाय, पुदीने और अदरक की चाय आदि पी सकती हैं। ये आपके लिए ज्यादा लाभकारी होगा और लिवर की समस्या में आराम भी देगा। 

issues with fatty liver problems

3. बॉडी के लिए हाइड्रेशन है जरूरी-

शरीर के लिए हाइड्रेशन बहुत जरूरी है और ये लिवर की सेहत को सही रखने का काम भी करता है। आपके मेटाबॉलिज्म के बेहतर बनाने के लिए हाइड्रेशन की जरूरत होती है। अगर आपके शरीर को सही मात्रा में पानी नहीं मिलता है तो फूड मॉलिक्यूल्स को तोड़ने में और उनमें मौजूद न्यूट्रिएंट्स को एब्जॉर्ब करने में काफी मुश्किल होती है। इसलिए ध्यान रखें कि अगर आप हाइड्रेटेड नहीं रहेंगे तो शरीर काफी कमजोर होता जाएगा, यही हाल लिवर का भी होगा। 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Dr Dixa Bhavsar (@drdixa_healingsouls)

 

4. सही समय पर खाएं खाना- 

मौजूदा समय में सबसे खराब आदत ये है कि लोग अपना खाना सही समय पर नहीं खाते हैं। युवाओं में फैटी लिवर का एक ये बहुत अहम कारण है और आपको खाना सही समय पर ही खाना चाहिए। भरे हुए पेट में ज्यादा खाना खा लेना या फिर भूखे पेट सो जाना या फिर हर 2 घंटे में कुछ खाते रहना ये सब कुछ फैटी लिवर की समस्या में आपको और परेशान कर सकते हैं और आपको ये सब अवॉइड करना चाहिए।  

ध्यान रखें कि आपका सबसे बड़ा मील सुबह 10 से 2 के बीच हो जाए। ऐसे में आपको खाए हुए खाने का सबसे ज्यादा फायदा मिलता है।  

साथ ही बहुत लेट खाना खाने की आदत को कम कर दें। अपने डिनर को सूर्यास्त से पहले करने की कोशिश करें। अगर ये मुमकिन नहीं है तो 8 बजे तक अपना डिनर कर लें। साथ ही काफी लाइट डिनर रखें। वेजिटेबल सूप, चावल, खिचड़ी, अलग-अलग तरह का चीला, बाजरा, सब्जी आदि हेल्दी डिनर ऑप्शन हो सकते हैं।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- स्किन पर इस तरह का पिगमेंटेशन हो सकता है लिवर की बीमारी का संकेत, जानें क्यों 

5. सोने के शेड्यूल को ठीक करें- 

ये बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। अगर आप हर रोज़ 10 बजे रात तक सो जाते हैं तो ये आपके मेटाबॉलिज्म के लिए अच्छा है। ये आपको बेहतर हार्मोनल बैलेंस बनाने और वजन बढ़ाने और घटाने में मदद करता है। ये स्ट्रेस को कम करता है क्योंकि इससे कोर्टिसोल नामक हार्मोन भी कम होता है। ये  ghrelin-leptin हार्मोन को बढ़ाने का काम करता है जो लिवर की सुरक्षा और भूख को कंट्रोल करने के लिए बेहतर होता है।  

ये सारी टिप्स आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकती हैं, लेकिन आपको ये ध्यान रखने की जरूरत है कि हर चीज़ हर किसी को सूट नहीं करती है। अगर आपको फैटी लिवर की समस्या है तो लाइफस्टाइल में कोई भी बड़ा बदलाव करने से पहले डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। ऐसा नहीं है कि बिना दवा के आपका काम चल ही जाएगा। उसके लिए डॉक्टरी सलाह लेना बहुत जरूरी है।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।  

Image Credit: university of queensland, its healthcare, GI Alliance