एसिडिटी की समस्या सबसे कॉमन समस्याओं में से एक है। हमारा पेट कई बीमारियों की जड़ होता है और एसिडिटी सभी समस्याओं की शुरुआत मानी जा सकती है। एक तरफ देखा जाए तो एसिडिटी को खत्म करने के लिए न जाने कितनी दवाएं उपलब्ध हैं, लेकिन हर बार एसिडिटी की समस्या होने पर एलोपैथिक गोलियां खाना सही नहीं। ये दवाएं हमारे शरीर के बाकी अंगों को भी बहुत परेशान कर सकती हैं। 

अगर आपको भी एसिडिटी की समस्या है तो हमने डायटीशियन, न्यूट्रिशनिस्ट और डायबिटीज एजुकेटर स्वाति बथवाल से कई नुस्खे पूछे हैं जो एसिडिटी की समस्या में बहुत फायदेमंद साबित हो सकते हैं। ये नुस्खे हमें पूरी तरह से पेट की इस समस्या से निजात दिला सकते हैं और साथ ही साथ इन नुस्खों के कारण आपको बहुत ज्यादा फायदा भी मिल सकता है। तो चलिए जानते हैं कि एसिडिटी को कम करने के क्या नुस्खे हैं-

1. एसिडिटी के लिए डिटॉक्स पानी- 

आप 300 मिली पानी में 2 ग्राम सौंफ, 2 ग्राम जीरा, 2 ग्राम धनिया के बीज मिलाकर इसे उबाल लें और इन्हें छानकर दिन में दो बार पिएं। ध्यान रखें कि इसे आप खाना खाने के 30 मिनट बाद ही पिएं। 

ये डिटॉक्स पानी पेट की एसिडिटी को शांत करने के लिए बहुत ही अच्छा उपाय साबित हो सकता है। 

swati bathwal acidity problems

इसे जरूर पढ़ें- अपनी शादी पर पाएं बेदाग त्वचा, एक्सपर्ट के बताए ये टिप्स करें फॉलो

2. अगर रोज़ाना पानी उबालना नहीं चाहते तो? 

अगर आप रोज़ाना ये पानी उबालना नहीं चाहते हैं तो एक मसाला मिक्स भी बनाकर रख सकते हैं। आप इन तीनों मसालों को एक साथ मिलाएं (सौंफ, जीरा, धनिया के बीज) और फिर इन्हें रोस्ट कर एक जार में बंद करके रख दें। रोज़ाना आप 1 चम्मच मिक्सचर को गर्म पानी में डालकर पी सकते हैं। ये तरीका ज्यादा आसान होगा पर आपको ध्यान ये रखना है कि आप इसे एयर टाइट जार में बंद करके रखें।  

3. नींद को कभी नजरअंदाज न करें- 

हमारा दिमाग हमारी आंतों से जुड़ा हुआ होता है और 7-8 घंटों की नींद बहुत ज्यादा जरूरी होती है। जब हम ठीक से नहीं सोते हैं तो इससे एसिडिटी और सिरदर्द होता है। कुछ लोगों को स्ट्रेस से एसिडिटी होती है और ये बहुत ज्यादा बड़ी समस्या बन जाती है। तो इसे अंडर कंट्रोल रखना भी जरूरी है और भरपूर नींद लेना भी जरूरी है।  

acidity issues for women

4. सौंफ का पानी आएगा काम- 

एसिडिटी कम करने के लिए सौंफ सबसे ज्यादा उपयोगी साबित हो सकती है और सौंफ का पानी आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकता है। आप 1 चम्मच सौंफ के बीज को 300 मिली पानी में रात भर भिगो कर रखें और इसी पानी को हर रोज़ खाली पेट पिएं। ये एसिडिटी कम करने के लिए बहुत अच्छा साबित हो सकता है।  

5. सही तेल का इस्तेमाल करें- 

एसिडिटी कम करने के लिए तेल बहुत ज्यादा मददगार साबित हो सकता है। आप कोई अच्छा ऑर्गेनिक या कोल्ड प्रेस्ड ऑयल इस्तेमाल करें जैसे तिल ता तेल, एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल, घी या सरसों का तेल आदि। आप प्रोसेस्ड वेजिटेबल ऑयल्स का इस्तेमाल न करें। जब भी हम प्रोसेस्ड ऑयल्स का इस्तेमाल करते हैं ये हमारी गट हेल्थ के लिए अच्छा नहीं होता और ये एसिड बनाता है और हार्टबर्न करता है।  

6. ठंडा दूध है एसिडिटी का सबसे अच्छा उपाय- 

आप दूध को उबालें और उसे ठंडा होने दें। कच्चा दूध न पिएं। इस दूध में आप 4-5 मुनक्का मिलाएं और इसे ही पिएं। ये आपके लिए चमत्कारिक उपाय कर सकता है। ये बहुत ही अच्छा तरीका है एसिडिटी को कम करने का। 

acidity and issues

इसे जरूर पढ़ें- Anti Ageing में मदद कर सकती हैं ये 7 तरह की चाय, जानें फायदे  

7. केला भी करेगा मदद- 

केला भी एसिडिटी में मदद कर सकता है, लेकिन आपको इसे सही समय पर खाना चाहिए। आप पहले 1 ग्लास सौंफ का पानी पिएं और उसके बाद खाली पेट केला खाएं। ये नुस्खा एसिडिटी के लिए बहुत ही मददगार साबित हो सकता है।  

8. त्रिफला करेगी मदद- 

एसिडिटी को कम करने में त्रिफला भी बहुत मदद कर सकती है। आप गुनगुने पानी में 1/2 चम्मच त्रिफला घोलें और 5-10 मिनट के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें। इसे आप सोने जाने से पहले ही पी लें। ये आपके लिए बहुत अच्छा साबित हो सकता है.  

9. चार्कोल टैबलेट्स भी आ सकती हैं काम- 

चार्कोल टैबलेट्स की मदद से गैस कम होती है और अगर आप लंच और डिनर के बाद 1-1 टैबलेट खा लें तो ये आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। चार्कोल टैबलेट्स आप सबसे शुद्ध फॉर्म में ही लें ताकि आपको दिक्कत न हो। ध्यान रहे कि ब्यूटी वाली चार्कोल टैबलेट्स नहीं बल्कि फार्मेसी में मिलने वाली कंज्यूमेबल टैबलेट्स ही आपको खानी चाहिए।  

अगर आपको कोई गंभीर बीमारी है या फिर आप किसी दवा का कोर्स कर रही हैं तो आप अपने डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही इसे खाएं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।