भारत ऐसा देश है जहां मसालों की भरमार देखने को मिलती है। जो न केवल स्वाद, बनावट और सुगंध के लिए जाने जाते हैं, बल्कि इनमें कई तरह के औषधीय गुण भी होते हैं। सौंफ ऐसा ही एक मसाला है। हालांकि हम स्‍वाद के कारण इसे अपनी डेली डाइट में शामिल करते हैं, लेकिन हम इसके हेल्‍थ बेनिफि‍ट्स से अनजान हैं। जी हां सौंफ में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हेल्‍दी रहने के लिए बहुत जरूरी होते हैं। सौंफ का सबसे बड़ा फायदा तो यह है कि यह याददाश्त बढ़ाता है। एनीमिया, अपच, पेट फूलना, कब्‍ज, दस्‍त और पीरियड्स जैसी रोगों में बहुत फायदा करता है। सौंफ में कैल्शियम, सोडियम, आयरन और पोटैशियम जैसे कई मिनरल पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमे एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी बैक्‍टीरियल, एंटी ऑक्‍सीडेंट गुणों के कारण आपके हेल्‍थ का सबसे अच्‍छा दोस्‍त है। इसके अलावा इसकी सुगंध भी बहुत अच्छी होती हैं और ताजगी का एहसास कराती है। आज हम आपको सौंफ के ऐसे फायदों के बारे में बता रहे हैं जिनके बारे में शायद आपको पहले जानकारी नहीं थी।

Read more: These Benefits Of 'Saunf' Or Fennel Will Make You Want To Add It In Your Diet

वजन कम करने में मददगार
fennel seeds for weight loss inside

सौंफ वजन कम करने में हेल्‍प करता है। यह बात आपका ध्‍यान आकर्षित कर सकती है। ये जादुई बीज मेटाबॉलिज्‍म को बढ़ाकर आपको वजन कम करने में हेल्‍प करता है। आप अपनी डाइट में एक कप सौंफ के पानी को शामिल कर अपना वजन कम कर सकती हैं। 

माउथ फ्रेशनर के रूप में करता है काम

यह सुनकर आपको आश्‍चर्य नहीं होना चाहिए क्‍योंकि इंडिया के हर रेस्‍तरां माउथ फ्रेशनर के रूप में सौंफ को परोसते है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि सौंफ में एरोमेटिक ऑयल होते हैं जो सांस से अपने वाली दुर्गंध को रोकने में हेल्‍प करते हैं। अगर आप चाहती हैं कि प्‍याज और लहसुन से भरपूर खाने के बाद आपके मुंह से बदबू न आए तो सौंफ खाने की आदत डालें।

आप चाहे तो घर में सौंफ का माउथवॉश भी बना सकती हैं। इसके लिए आपको सिर्फ एक गिलास पानी में एक चम्‍मच सौंफ डालें और थोड़ी देर के लिए इसे उबालें। एक बार जब यह ठीक से उबल जाए तो सौंफ को छलनी से छान लें। अब इसे एक कंटेनर में डाल लें आपको माउथवॉश तैयार है। सबसे अच्‍छी बात ये बहुत ही सस्‍ता और आर्गेनिक है।

एक्‍ने रोकें
fennel seeds for glowing skin inside

एक्‍ने एक ऐसी प्रॉब्‍लम है जो कई महिलाओं को बहुत परेशान करती है। कुछ महिलाएं इस समस्‍या से बचने के लिए मेडिसिन लेती हैं। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि सौंफ इसमें आपकी हेल्‍प कर सकती हैं। इसमें मौजूद एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण स्किन पर एक अलग सा ग्‍लो देते हैं। जी हां रोजाना 1 चम्‍मच सौंफ चबा-चबाकर खाने से चेहरे पर ग्‍लो आता है।

डाइजेशन में मददगार

अपनी दादी से पूछें और वह आपको बताएगी कि कैसे, बस कुछ सौंफ के बीज चबाने से आप वास्तव में अपच से बच सकती हैं। आजकल के खान-पान के कारण ब्‍लोटिंग और गैस्ट्रिक जैसी समस्‍याएं हमारे रोजमर्रा के जीवन का एक हिस्सा बन गया है। लेकिन आप परेशान ना हो क्‍योंकि सौंफ की मदद से आप इन सभी हेल्‍थ प्रॉब्‍लम्‍स को दूर कर सकती हैं।

Read more: महिलाओं की 7 समस्‍याओं का 1 इलाज है अजवाइन का पानी, एक्‍सपर्ट से जानें कैसे

ब्‍लड प्‍यूरीफायर

सौंफ में मौजूद आवश्‍यक तेल और फाइबर होते हैं जो बॉडी में टॉक्सिन को बाहर निकालने और ब्‍लड को शुद्ध करने में उपयोगी होता है।

ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करें
fennel seeds for blood pressure inside

सौंफ में पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है, जो बॉडी के तरल पदार्थों को एक आवश्‍यक घटक है। यह हार्ट रेट और ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने में हेल्‍प करता है।

Read more: ब्रेकफास्‍ट में भूलकर भी न खाएं ये 5 चीजें, हो जाएंगी मोटी

हड्डियों के लिए फायदेमंद

सौंफ में कैल्शियम होता है जो हड्डियों को मजबूत करने में हेल्‍प करता है। सौंफ में लगभग 115mg कैल्शियम मौजूद होता है जो आपके दैनिक आहार में कैल्शियम बढ़ाने में मदद करता है। हड्डियों को मजबूत करने के लिए सौंफ में केवल कैल्शियम ही नहीं मौजूद होता है बल्कि इसमें मैग्नीशियम, फास्फोरस और विटामिन के भी शामिल होते हैं, जो हड्डियों को मजबूत बनाते हैं।

वाटर रिटेंशन कम करें

सौंफ को रेगुलर लेने से बॉडी से टॉक्सिन को दूर करने में हेल्‍प करता है और यूरिन ट्रेक्‍ट प्रॉब्‍लम के जोखिम को कम करता है। अगर आप सौंफ के पानी नहीं लेना चाहती हैं तो अपने डेली रूटीन में सौंफ की चाय को शामिल करें।

इन सौंफ बीजों से निकाले गए तेल का उपयोग मालिश तेल के रूप में करने से नसों को शांत किया जा सके। तो देर किस बात की आप भी आज से ही रोजाना 1 चम्‍मच सौंफ को लेना शुरू करें।

 

Recommended Video