ब्लोटिंग होने पर पेट भारी और फूला हुआ महसूस होता है। यह डाइजेशन प्रोसेस के दौरान और बाद में आंतों में बैक्टीरिया फर्मेंटेशन के कारण होता है। इस समस्‍या के होने पर पेट वास्तव में आकार में बढ़ता नहीं है, लेकिन यह फूला हुआ लगता है। बेहतर महसूस करने का एकमात्र तरीका शरीर में बनने वाली गैस को बाहर निकालना है।  

ब्लोटिंग की समस्‍या में बेहतर महसूस करने के लिए कुछ उपाय आपकी मदद कर सकते हैं, लेकिन इससे भी बेहतर यह होगा कि ब्लोटिंग से खुद को दूर रखने के उपायों की तलाश की जाए। यहां कुछ स्‍टेप्‍स हैं जो आपको ब्लोटिंग की समस्‍या तक पहुंचने से रोक सकते हैं। इस टिप्‍स के बारे में हमें MY22BMI की न्‍यूट्रिशनिस्‍ट और फाउंडर प्रीति त्‍यागी जी बता रही हैं।

ब्‍लोटिंग को रोकने के उपाय

Natural Remedies for Gas and Bloating

  • जब आप खाना खा रहे हों तो भोजन को ठीक से चबाकर और थोड़ी-थोड़ी मात्रा में तोड़कर धीरे-धीरे खाएं। इसके अलावा, दिन में तीन बार बड़े भोजन करने की बजाय छोटे और अधिक बार-बार भोजन करें। कम मात्रा में, अधिक बार और अच्छी तरह चबाते हुए खाना सबसे अच्छा रहता है।
  • ठंडे या फ्रोजन लिक्विड लेने से बचें, खासकर भोजन के साथ। पेय पदार्थ कमरे के तापमान पर या गुनगुने तापमान पर ही पिएं। यह पेट को आराम पहुंचाते हैं  और पाचन की प्रक्रिया में मदद करते हैं।।
  • दिन में फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ाएं। गतिहीन जीवन शैली को ना कहें। शरीर के लिए ए‍क नियमित मल त्याग और हेल्‍दी डाइजेस्टिव सिस्‍टम बनाए रखने की कोशिश करें। । 
  • खाना खाने के दौरान और बाद में हमेशा सीधा बैठें। साथ ही लिक्विड्स का सेवन करते हुए भी शरीर को सीधा करके बैठना सबसे अच्छा रहता है। अपने पोश्चर का ध्यान रखें।
  • खाना खाने के बाद टहलना शरीर में डाइजेस्टिव सिस्‍टम को सही रखने का सबसे आसान तरीका है। हर भोजन के बाद 20 मिनट की सैर करें और अपने पेट के स्वास्थ्य के बारे में अच्छा महसूस करें।

ब्‍लोटिंग को कम करने के तरीके

  • इसके अलावा, शरीर में ब्‍लोटिंग को कम करने के लिए निम्नलिखित उपायों को अपनाएं। 
  • तली-भुनी और ऑयली चीजों से परहेज करें। इसकी बजाय, उबले और स्‍टीम स्नैक्स का सेवन करें। 
  • अपनी डाइट में हमेशा हेल्दी और पोषक तत्‍वों से भरपूर सलाद को शामिल करें। यह हेल्‍दी आंत और बेहतर डाइजेशन में मदद करेगा। 
  • अपने भोजन की योजना बनाते समय गैसी फूड्स को शामिल करने से बचें।
  • अपनी डाइट में पर्याप्त प्रोबायोटिक्स और प्रीबायोटिक्स जैसे दही, फर्मेंटेड फूड्स, कांजी आदि लें।

ब्लोटिंग के लिए घरेलू नुस्‍खे

home remedies for bloating and gas

नुस्‍खा नंबर- 1

सामग्री 

  • जीरा- 1 चम्‍मच  
  • धनिया- 1 चम्‍मच  
  • सौंफ- 1 चम्‍मच   

विधि

  • सबसे पहले जीरा, धनिया और सौंफ को अच्‍छी तरह से भुनकर पीस लें। 
  • इस मिश्रण को रोज रात को सोने से पहले गुनगुने पानी के साथ लें।

फायदे

  • एक मूत्रवर्धक के रूप में, जीरा यूरिन फ्लो को बढ़ाने में मदद करता है जो ब्‍लोटिंग को कम करने में मदद करता है। साथ ही डाइजेशन और अवशोषण में मदद करके जीरा पित्त उत्पादन में मदद करता है। 
  • कार्मिनेटिव गुणों के कारण धनिया के बीज पेट से जुड़ी समस्‍याओं के लिए रामबाण की तरह काम करते हैं। 
  • सौंफ डाइजेस्टिव सिस्‍टम को सही रखने में मदद करता है। बीजों में ऐसे यौगिक होते हैं जो जीआई ऐंठन को आराम देते हैं, जिससे गैस बाहर निकल जाती है और सूजन से राहत मिलती है।

Recommended Video

नुस्‍खा नंबर-2

flaxseed for bloating

सामग्री 

  • अलसी- 1 कटोरी   

विधि

  • इस नुस्‍खे के लिए अलसी को भुनकर और पीसकर रख लें।  
  • फिर रोज सुबह 1 चम्मच भुने और पिसे हुए अलसी को गुनगुने पानी के साथ लें और अपने दिन की शुरुआत हेल्‍दी तरीके से करें।

फायदे

  • अलसी के बीज आवश्यक फैटी एसिड अल्फा-लिनोलेनिक एसिड से भरपूर होते हैं। यह एक हार्ट हेल्‍दी ओमेगा-3 फैटी एसिड। अलसी में घुलनशील फाइबर और लिग्नांस की मात्रा अधिक होती है, जिसमें फाइटोएस्ट्रोजेन होते हैं। हार्मोन एस्ट्रोजन के समान, फाइटोएस्ट्रोजेन में कैंसर विरोधी गुण हो सकते हैं। 
  • कोलेस्ट्रॉल और ब्‍लड शुगर के लेवल को कम करने और डाइजेशन संबंधी समस्‍याओं का इलाज करने के लिए अलसी का उपयोग किया जा सकता है। कुछ लोग अलसी का सेवन सूजन संबंधी बीमारियों के इलाज के लिए भी करते हैं।

आप भी इन 2 घरेलू नुस्‍खों की मदद से ब्‍लोटिंग की समस्‍या को कम कर सकती हैं। लेकिन, इस नुस्‍खों को अपनाने से पहले एक बार एक्‍सपर्ट से सलाह जरूर कर लें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock & Freepik.com