हार्ट डिजीज के लिए एक प्राथमिक जोखिम कारक हाई ब्‍लड प्रेशर को अक्सर 'साइलेंट किलर' कहा जाता है क्योंकि इस कंडीशन में स्वयं कोई लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। हालांकि लंबे समय में, ज्ञात और अनुपचारित हाई ब्‍लड प्रेशर, जिसे हार्ट डिजीज और संबंधित मौतों के लिए हाई जोखिम कारक के रूप में स्थान दिया गया है, धीरे-धीरे किडनी, आंखों और ब्रेन जैसे कई अन्य अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है।

शोध से पता चला है कि हाई ब्‍लड प्रेशर, डायबिटीज और हार्ट डिजीज वाले कुछ लोगों में कोरोनावायरस से संक्रमित होने के बाद अधिक गंभीर लक्षण और जटिलताएं विकसित हो सकती हैं। महामारी भी सभी आयु समूहों में हाई ब्‍लड प्रेशर के बढ़ते प्रसार का कारण बन रही है। यह तनाव के बढ़े हुए लेवल, बार-बार लॉकडाउन के कारण एक्‍सरसाइज की कमी और साथ ही अनहेल्‍दी आहार पैटर्न के कारण हो रहा है।

ये सभी कारक इंगित करते हैं कि कोविड- 19 महामारी के दौरान हाई ब्‍लड प्रेशर का मैनेज और कंट्रोल करना कितना महत्वपूर्ण है। समय-समय पर ब्लड प्रेशर की जांच कराते रहना चाहिए। यदि ब्‍लड प्रेशर हाई पाया जाता है, तो इसका इलाज किया जाना चाहिए और इसे सामान्य सीमा के भीतर बनाए रखने का प्रयास किया जाना चाहिए। आज हमारे साथ एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट्स सीनियर कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर संतोष कुमार डोरा शेयर कर रहे हैं कि कोविड महामारी के दौरान हाई ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करना क्यों महत्वपूर्ण है?

प्रीहाइपरटेंशन को मैनेज करना है महत्वपूर्ण

tips to control high blood pressure inside

प्रीहाइपरटेंशन एक ऐसी अवस्था है जब सिस्टोलिक ब्‍लड प्रेशर 120 से 139 मिमी एचजी के बीच होता है और डायस्टोलिक ब्‍लड प्रेशर 80 से 89 मिमी एचजी के बीच होता है। हाई ब्‍लड प्रेशर तब माना जाता है जब सिस्टोलिक ब्‍लड प्रेशर 140 मिमी एचजी या उससे अधिक हो और डायस्टोलिक बीपी 90 मिमी एचजी या अधिक हो। प्रीहाइपरटेंशन स्टेज में बीपी को प्रभावी ढंग से कंट्रोल करने का प्रयास करना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें: एक्‍सपर्ट के बताएं इन 5 उपायों को अपनाएं और हाइपरटेंशन को कहें गुड बाय 

डैश डाइट

dash diet  to control high blood pressure inside

ब्‍लड प्रेशर को मैनेज करने और हार्ट डिजीज, हार्ट अटैक, स्ट्रोक और अन्य बीमारियों के जोखिम को कम करने के लिए हार्ट-हेल्‍दी डाइट लेना महत्वपूर्ण है। आहार दृष्टिकोण (डैश) भोजन का पैटर्न हाई ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने के प्रभावी तरीकों में से एक है। डैश डाइट में साबुत अनाज, फल, सब्जियां, फलियां और नट्स, लो फैट डेयरी प्रोडक्‍ट्स, लीन मीट और मछली और कम नमक शामिल हैं। नमक का सेवन प्रति दिन 2300 मिलीग्राम सोडियम से कम होना चाहिए जो एक चम्मच नमक (5 ग्राम) के बराबर है। सैचुरेटेड और ट्रांस फैट से बचें, और अपने आहार में चीनी शामिल करें।

दवा बंद न करें

meditation  to control high blood pressure inside

जब किसी को हाई ब्‍लड प्रेशर (सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर 140 या अधिक और/या डायस्टोलिक ब्लड प्रेशर 90 या अधिक) होने का पता चलता है, तो डाइट और एक्‍सरसाइज के अलावा दवाएं लेना भी जरूरी होता है। ब्‍लड प्रेशर को सीमा के भीतर रखने के लिए दवाओं को स्‍टेप वाइज तरीके से बढ़ाने की आवश्यकता है। एक सामान्य गलती जो कई रोगी करते हैं, वह यह है कि ब्‍लड प्रेशर की दवा सामान्य सीमा के भीतर होने पर उसे रोक देना चाहिए। यदि दवाएं बंद कर दी जाती हैं तो यह हमेशा पिछले लेवल पर वापस चला जाता है। ब्‍लड प्रेशर भी बहुत हाई लेवल तक बढ़ सकता है जिससे गंभीर जटिलताएं हो सकती हैं। इसलिए निर्धारित ब्‍लड प्रेशर की दवाओं को अपने डॉक्‍टर की सलाह के बिना कम या बंद नहीं करना चाहिए।

Recommended Video

एक्‍सरसाइज हाई ब्‍लड प्रेशर को करता है कम

exercise to control high blood pressure inside

शोध बताते हैं कि एक्टिव जीवनशैली आपके सिस्टोलिक ब्‍लड प्रेशर को औसतन 4 से 9 मिमी एचजी तक कम करने में मदद कर सकती है। एक्‍सरसाइज आपको हेल्‍दी वजन बनाए रखने में मदद करता है जिससे आपका ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करता है। लेकिन इसके लिए जरूरी है कि आप नियमित रूप से एक्सरसाइज करते रहें। एरोबिक्स, फ्लेक्सिबिलिटी और स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग लंबे समय में मदद कर सकते हैं। चूंकि इन दिनों कोविड प्रतिबंधों के कारण बाहर जाकर एक्‍सरसाइज करना संभव नहीं है, इसलिए योग, घर के अंदर वॉक करना, जुंबा डांस आदि जैसे इनडोर एक्‍सरसाइज करनी चाहिए। दिन में 30 से 45 मिनट के लिए डायनेमिक एक्‍सरसाइज का एक सिंपल रूटीन अपनाने से मदद मिल सकती है।

इसे जरूर पढ़ें:हार्ट अटैक से पहले महिलाओं में दिखने लगते हैं ये 7 लक्षण, एक्‍सपर्ट से जानें

स्‍मोकिंग बंद करें और अल्‍कोहल न लें

smoking to control high blood pressure inside

हालांकि स्‍मोकिंग हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण साबित नहीं हुआ है, आपके द्वारा स्‍मोकिंग की जाने वाली प्रत्येक सिगरेट आपके समाप्त होने के बाद कई मिनटों तक आपके ब्‍लड प्रेशर को अस्थायी रूप से बढ़ा देती है। अपने संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए और हार्ट अटैक और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने के लिए, सभी प्रकार के तंबाकू के साथ-साथ सेकेंड हैंड धुएं से बचें। इसके अलाव बहुत अधिक अल्‍कोहल पीने से ब्‍लड प्रेशर अनहेल्‍दी लेवल तक बढ़ सकता है। एक बार में तीन से अधिक ड्रिंक पीने से आपका ब्‍लड प्रेशर अस्थायी रूप से बढ़ जाता है, लेकिन बार-बार पीने से दीर्घकालिक वृद्धि हो सकती है। यदि आपको हाई ब्‍लड प्रेशर है तो अल्‍कोहल से बचें या कम मात्रा में ही इसका सेवन करें।

इन टिप्‍स की मदद से आप हाई ब्‍लड प्रेशर को आसानी से कंट्रोल कर सकती हैं। हेल्‍थ से जुड़ी और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com