नेहा को जब भी कहीं ट्रैवल करना होता है तो एक रात पहले से ही उसे घबराहट होने लगती है। नेहा को ट्रैवल करने में दिक्कत नहीं है, मगर ट्रैवलिंग के दौरान होने वाली मोशन सिकनेस उसकी घबराहट का कारण है। 

वैसे नेहा अकेली नहीं है। ऐसे बहुत सारे लोग हैं, जिन्हें सफर के दौरान मोशन सिकनेस की समस्या होती है। यह कोई गंभीर बीमारी नहीं है लेकिन जिस व्यक्ति को यह समस्या होती है, उसे सफर करने या फिर किसी भी तरह का मोशन होने पर घबराहट, बेचैनी और असहजता महसूस होने लगती है। 

आपको बता दें कि मोशन सिकनेस केवल कार, प्‍लेन, बस या ट्रेन से यात्रा करने पर ही नहीं होती है। यह समस्या आपको टीवी देखते वक्त तेज मोशन में चल रहे चित्रों को देख कर , झूला झूलते वक्त या समुद्र की लहरों को देखते वक्त भी हो सकती है। मगर इस समस्या से बचने के लिए आप कुछ घरेलू उपचारों का सहारा ले सकती हैं। यह उपचार आसान भी हैं और असरदार भी हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: उल्‍टी रोकने के लिए इन 5 घरेलू नुस्‍खों को अपनाएं

मोशन सिकनेस के लक्षण 

  • अचानक से बेचैनी होना। 
  • कुछ भी खाने की इच्छा न होना। 
  • उपकाई या मतली आना। 
  • मुंह में अधिक लार बनने लगना। 
  • तेज सिरदर्द होना। 
  • अचानक से पसीना आना। 
  • लगातार उल्टी होना। 

मोशन सिकनेस को दूर करने के घरेलू उपाय 

motion  sickness  medication

1. कच्चा अदरक या अदरक का तेल 

  • अगर आपको मोशन सिकनेस की वजह से उपकाई या मतली आती है, तो अपने पास अदरक (अदरक के फायदे जानें) का छोटा सा एक टुकड़ा जरूर रखें और जैसे ही सफर की शुरुआत हो वैसे ही उसे मुंह में रख लें और चूसती रहें। 
  • इसके अलावा आप एक कॉटन में अदरक के तेल की 2-3 बूंदें डालकर आपने हाथों में पकड़ लें और जब भी आपको मतली महसूस हो तो आप उसे सूंघ लें। 

2. पुदीने का करें इस्तेमाल 

  • आप पुदीने की मुट्ठी भर पत्तियों को पानी की बोतल में डाल लें और सफर के दौरान उसका सेवन करती रहें। ऐसा करने पर आपको चक्कर नहीं आएंगे और मुंह में अधिक लार नहीं बनेगी। 
  • पुदीने की मुट्ठी भर पत्तियों को आप किसी रुमाल में भी बांध सकती हैं। इसे सफर के दौरान सूंघती रहें, इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा। 
 
motion  sickness  causes

3. पास में रखें नींबू 

  • नींबू के रस में विटामिन-सी की भरपूर मात्रा होती है। अगर आपको उल्टी या मतली आ रही है तो नींबू को आधा काट कर चाट लें। इससे आपको बहुत राहत महसूस होगी। 
  • जी मिचलाने पर पानी में नींबू का रस और काला नमक डाल कर भी पी सकती हैं। इससे आपको यदि लगातार उल्टी हो रही है तो वह थम जाएगी। 

4. पीते रहें पानी और जूस 

सफर के दौरान बहुत सारे लोग पानी नहीं पीते हैं। मगर आपको बता दें कि बॉडी का मूवमेंट होने पर उसका हाइड्रेशन लेवल कम होता जाता है। इसलिए आपको पानी या जूस पीते रहना चाहिए। यदि आप शरीर को हाइड्रेट (इस तरह रखें खुद को हाइड्रेट) रखती हैं तो चक्कर और उल्टी जैसी समस्या नहीं होगी। 

cure  for  motion  sickness

5. मुलेठी से होगा फायदा 

  • अगर आपके मुंह में अधिक लार बन रही है या फिर उल्टी आ रही है तो आप मुलेठी को भी चूस सकती हैं। इससे भी मोशन सिकनेस कम हो जाती है। 
  • अगर आप लंबे सफर पर जा रही हैं तो घर से मुलेठी को उबालकर उसका पानी साथ में ले जाएं और थोड़ी-थोड़ी देर में उसे पीती रहें। इससे भी आपको मोशन सिकनेस नहीं होगी। 

इन बातों का रखें ध्‍यान 

  1. कभी भी खाली पेट या बहुत अधिक खाना खा कर सफर न करें। 
  2. अगर आपको टीवी देखते वक्त मोशन सिकनेस होती है तो कमरे में अंधेरा करके टीवी न देखें। 
  3. कार या बस में खिड़की की तरफ बैठने की जगह बीच में बैठें। 

Recommended Video

नोट- अगर आपको मोशन सिकनेस की वजह से अधिक परेशानी हो जाती है तो चिकित्सक की सलाह पर इस समस्या को दूर करने के लिए जो दवाएं आती हैं उसका सेवन करें। 

यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।

 Image Credit: freepik