भोजन करने के बाद जब बात माउथ फ्रेशनर की आती है तो जहन में सब से पहला नाम पान का आता है। हिंदू धर्म में तो पान के पत्‍ते को पवित्र माना जाता है और पूजा में भी इसका उपयोग किया जाता है। मगर पान का महत्‍व यहीं खत्‍म नहीं होता है। सेहत के लिहाज से भी पान बेहद फायदेमंद होता है। 

टीवी एक्‍ट्रेस जूही परमार ने भी अपने इंस्‍टाग्राम पेज पर इससे जुड़ी एक पोस्‍ट शेयर की है और पान के पत्‍ते को खाने का महत्‍व बताया है। अगर आप भी पान को खाने के बेनिफिट्स जानना चहाती हैं तो पूरा आर्टिकल पढ़ें। 

पान में मौजूद पोषक तत्‍व 

  • प्रोटीन- 4%
  • मिनरल-3.3%
  • फाइबर-3%
  • विटामिन-सी- 1%
  • विटामिन-ए-100 ग्राम
  • पोटैशियम-5%
  • आयोडीन-100 ग्राम
 
pan or betel leaf health benefits by actress juhi parmar

पान खाने के फायदे- 

1. दांतों की सेहत के लिए फायदेमंद

पान में एंटी बैक्‍टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं। अगर बैक्‍टीरियल इंफेक्‍शन के कारण दांत सड़ रहे हैं तो आपको नियमित रूप से पान चबाना चाहिए। ऐसा करने से जो दांत सड़ चुका है उसे ठीक तो नहीं किया जा सकता है, मगर आपके बाकी दांत संक्रमित नहीं होंगे। दांतों में दर्द है तो भी पान खाने से राहत मिलती है। 

2. पाचन क्रिया को रखता है दुरुस्‍त 

खाने के बाद पान खाने की परंपरा पुरानी है। सेहत के लिहाज से भी पान खाना बुरा नहीं है, खासतौर पर अगर पाचन को दुरुस्‍त रखने के पाना खाना अच्‍छा माना गया है। पान में डायजस्टिव गुण होते हैं। भोजन के बाद अगर आप पान खा लें तो खाना अच्‍छे से पच जाता है और गैस, पेट के फूलने और पेट दर्द जैसी समस्‍या नहीं होती है। 

3. मुंह के छालों को ठीक करने में असरदार 

मुंह के छाले काफी तकलीफदायक होते हैं। जब तक यह सही नहीं होते हैं तब तक न खाना खाया जाता है न ठीक से पानी निगला जाता है। पान के पत्‍तों में हीलिंग प्रॉपर्टीज होती है। ऐसे में पान के पत्‍ते में पिपरमिंट और कत्‍था लगा कर खाने से मुंह के छालों की सूजन कम हो जाती है और वह धीरे से सूखने लग जाते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: टीवी एक्‍ट्रेस जूही परमार से सीखें घर पर 'राइस वॉटर कंडीशनर' बनाने की आसान विधि

meetha pan recipe new

4. कब्‍ज के लिए फायदेमंद 

अगर आपको कब्‍ज की शिकायत रहती है तो आपको रोज भोजन के बाद पान खाना चाहिए। बेशक आप पूरा पान खाने की जगह आधा पान ही खाएं। आपको बता दें कि पान में 85 से 90 प्रतिशत तक पानी होता है, इसलिए यह कब्‍ज की समस्‍या में बहुत ही लाभदायक होता है। 

5. सिर दर्द, खांसी, कंजेशन 

पान एंटीसेप्टिक और एंटीफंगल होने के साथ ही एंटी माइक्रोबियल भी होता है। साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट्स होते हैं। एंटी इंफ्लेमेटरी होने के कारण यह शरीर के अंदर और बाहर दोनों तरफ से सूजन को कम करता है। इसलिए खांसी, कंजेशन और सिर दर्द होने पर आप पान का सेवन जरूर करें। इससे आपको बहुत राहत मिलेगी। 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Juhi Parmar (@juhiparmar)

 

पान के अन्‍य फायदे-  

1. खाने के साथ-साथ पान के पत्‍ते का पेस्‍ट आप त्‍वचा पर लगे घाव और मुंहासों पर भी लगा सकते हैं। दरअसल, पान में हीलिंग प्रॉपर्टीज होती है, साथ ही यह एंटी इंफ्लेमेटरी होता है इसलिए त्‍वचा पर इसका इस्‍तेमाल करना फायदेमंद होता है।  

2. अगर आपके शरीर से पसीने की दुर्गंध आती है तो आप नहाने के पानी में पान के पत्‍ते को भिगो कर रख दें और उसी पानी से नहा लें। ऐसा करने पर शरीर से बदबू आने की समस्‍या में आपको राहत मिल जाएगी। आपको बता दें कि पान में शरीर के अंदर और बाहर से डिटॉक्सीफाई करने के गुण होते हैं। 

Recommended Video

नोट- अधिक पान न खाएं, इससे हार्ट बीट बढ़ती है। पान ज्‍यादा खाने से शरीर गरम रहता है और पसीना अधिक आता है। गर्भावस्‍था में भी पान के पत्‍तों के सेवन से बचें। थायराइड की समस्‍या है तो बिना अपने चिकित्‍सक से परामर्श किए पान का सेवन न करें। पान आपके ब्‍लड प्रेशर को भी बढ़ाता है। 


यह जानकारी आपको अच्‍छी लगी हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Freepik