कोविड-19 ने बहुत से लोगों की आजीवीका छीन ली, बहुत से लोगों की जान ले ली और बहुत से परिवारों को उजाड़ दिया। कोविड-19 सर्वाइवर्स के साथ भी न जाने कितनी समस्याएं हो रही हैं और उन्हें तरह-तरह की बीमारियां परेशान करने लगी हैं। कोविड के कारण अधिकतर लोगों को आफ्टर इफेक्ट्स हो रहे हैं। कोविड से बचने के लिए वैक्सीन को बहुत अहम माना जा रहा है और पूरे हिंदुस्तान में वैक्सीन ड्राइव्स चल रही हैं। वैक्सीन लगवाने वाले लोगों के साथ एक बात अधिकतर देखने को मिल रही है कि उन्हें वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स हो रहे हैं। 

ऐसा मेरे साथ भी हुआ कि कुछ साइड इफेक्ट्स देखने को मिले, लेकिन ये हर किसी को होंगे ऐसा जरूरी नहीं है। कुछ लोगों को इसके साइड इफेक्ट्स हो रहे हैं और कुछ को नहीं हो रहे हैं। 

आखिर क्यों कुछ लोगों को होते हैं साइड इफेक्ट्स?

सबसे बड़ी समस्या ये है कि आखिर कुछ लोगों को ही क्यों इसके साइड इफेक्ट्स होते हैं जब्कि कुछ बिलकुल ठीक रहते हैं। 

दरअसल, कोविड वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स इसलिए होते हैं क्योंकि एक एक्सटर्नल एंटीजेन हमारे शरीर में प्रवेश करता है और हमारे इम्यूनिटी सिस्टम में अपनी जगह बनाने की कोशिश करता है। ऐसे में हमारा इम्यूनिटी सिस्टम रिएक्ट करता है और बुखार, सिर दर्द, खांसी आदि समस्याएं होती हैं। यही समस्याएं किसी अन्य एंटीजेन या वायरस के शरीर में आने पर होती हैं। ये नॉर्मल है और अगर आपको साइड इफेक्ट्स हो भी रहे हैं तो भी कुछ घबराने वाली बात नहीं है। 

covid and vaccine

इसे जरूर पढ़ें- घर बैठे फुल बॉडी फिटनेस के लिए करें यास्मीन कराचीवाला द्वारा बताई गई ये 6 आसान एक्सरसाइज 

मेरा कोविड वैक्सीन का एक्सपीरियंस-

कोविड वैक्सीन का मेरा एक्सपीरियंस कुछ अलग नहीं था। मुझे भी कई साइड इफेक्ट्स हुए जिनके बारे में मैं आपको विस्तार से बताती हूं-

कैसे बुक करवाया था मैंने वैक्सीन-

मैंने आरोग्य सेतु के वैक्सीन टैब से वैक्सीन बुक करवाई थी। मैंने कोविन पर भी आरोग्य सेतु के जरिए ही रजिस्टर किया था। ये तरीका काफी आसान लगा मुझे क्योंकि मेरा फ्री वैक्सीन स्लॉट पहली ही बार में बुक हो गया। आप भी अगर चाहें तो Cowin पोर्टल या फिर आरोग्य सेतु एप के जरिए अपना वैक्सिनेशन स्लॉट बुक करवा सकते हैं। 

covid vaccine arogya setu

वैक्सीन लगवाने के 1 घंटे बाद-

जब आपको वैक्सीन लग जाती है तो आपको आधे घंटे के लिए वहीं रहने को कहा जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि अगर आपको वैक्सीन लगने के बाद परेशानी हुई या तुरंत तबियत खराब हुई तो आपको तुरंत मेडिकल हेल्प मुहैया करवाई जा सके। लेकिन मुझे आधे घंटे में कुछ भी पता नहीं चला।  

हां, 1 घंटा बीतने के बाद वैक्सीन लगने की जगह पर दर्द शुरू हो गया था और हाथ भारी होने लगा था। पर उसके अलावा कोई अलग चीज़ महसूस नहीं हुई। धूप में जाने के कारण चक्कर आ रहे थे, लेकिन वो सिर्फ गर्मी और धूप के कारण हो सकता है।  

वैक्सीन लगने के 6 घंटे बाद- 

मुझे थोड़ा सा बॉडी पेन होने लगा था, लेकिन अभी भी बुखार नहीं आया था। साथ ही साथ वैक्सीन लगने के बाद मेरा हाथ अब तक काफी भारी हो गया था। उसमें अच्छा खासा दर्द था और मुझे उसे उठाने में भी भारीपन लग रहा था।  

covid vaccine certificate

वैक्सीन लगने के 12 घंटे बाद- 

वैक्सीन लगने के 12 घंटे बाद असली साइड इफेक्ट्स शुरू हुए। ऐसा लग रहा था कि फीवर आ रहा है और थर्मामीटर का इस्तेमाल करने पर रीडिंग 99 ही थी। पर शरीर में दर्द और लोअर बैक पेन शुरू हो गया था। ये ठीक वैसा ही था जैसे वायरल फीवर में दर्द होता है। इस दर्द के कारण परेशानी काफी ज्यादा हो रही थी।  

इसे जरूर पढ़ें- चावल के पानी से दूर हो सकती है सफेद डिसचार्ज और पीरियड्स की समस्या, जानें कैसे 

वैक्सीन लगने के 24 घंटे बाद- 

मुझे हाथ में बहुत भारीपन महसूस हो रहा था और साथ ही साथ बॉडी पेन था। बुखार भी बढ़ता जा रहा था और 101 तक पहुंच चुका था। ऐसा लग रहा था कि बस मुझे नींद आ रही है। ऐसे समय में आराम करना ही ज्यादा बेहतर ऑप्शन साबित हो सकता है।  

वैक्सीन लगने के 48 घंटे बाद-  

हाथ में भारीपन बना हुआ था, लेकिन बुखार उतर गया था और मैक्सिमम साइड इफेक्ट्स भी कम होने लगे थे। वैक्सीन लगने के बाद कई लोगों को असर 3 दिन तक रहता था, लेकिन मुझे 48 घंटे यानि 2 दिन ही रहा था। हां, हाथ का भारीपन तीसरे दिन भी बना हुआ था, लेकिन वो शुरुआत से काफी कम हो गया था।  

Recommended Video

ये सभी साइड इफेक्ट्स मेरे साथ हुए थे, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं था जिसके बारे में मुझे पता न हो। ऐसे कई लोगों को मैं जानती हूं जिन्हें कोई भी तकलीफ नहीं हुई थी और उन्हें किसी तरह से बुखार भी नहीं आया था। अगर देखा जाए तो ये साइड इफेक्ट्स अलग-अलग लोगों के हिसाब से अलग-अलग होते हैं और वैक्सीन लगवाने के बाद एंटीजेन के कारण होने वाली सामान्य प्रक्रिया है।  

अगर आप ऐसे साइड इफेक्ट्स से डर रहे हैं और इसलिए वैक्सीन नहीं लगवा रहे तो ये गलती होगी। आपको वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए और साथ ही साथ खुद को कोरोना से सुरक्षित करने के सभी तरीके आजमाने चाहिए।  

अगर आपको कोई गंभीर बीमारी है या किसी चीज़ का इलाज चल रहा है तो वैक्सीन लगवाने से पहले आप अपने डॉक्टर से सलाह ले लें ताकि वो ये बता सके कि आखिर आपको किस तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए। हो सकता है कि आपका डॉक्टर आपको कुछ दिनों के लिए अपनी रेगुलर दवा बंद करने के आदेश भी दे दे। पर ऐसी स्थिति में पहले अपने डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। साथ ही अगर साइड इफेक्ट्स 2-3 दिन से ज्यादा चल रहे हैं तो भी डॉक्टर को दिखाएं। कई लोगों को सिर दर्द की शिकायत भी हुई है ऐसे समय में। 

कुल मिलाकर साइड इफेक्ट्स के डर से घबराने की जरूरत नहीं है और वैक्सीन लगवाना बहुत जरूरी है। वैक्सीन लगवाने से हम हर्ड इम्यूनिटी की तरफ बढ़ सकते हैं और कोरोना जैसी महामारी को हरा सकते हैं।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।