हम सभी अपने घरों को हमेशा चमकदार रखना चाहते हैं, और फर्शों को उससे भी अधिक साफ रखना चाहते हैं। यही वजह है कि बाज़ार में उपलब्ध तमाम तरह के फ्लोर- क्लीनर्स से अपने घरों की सफाई करते रहते हैं, ताकि घर हमेशा साफ-सुथरा दिखे। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि घरों में इस्तेमाल किए जाने वाले फ्लोर-क्लीनर्स से बच्चों के सेहत पर बुरा असर हो रहा हैं। और उसमें मोटापा तेजी से बढ़ रहा हैं। शायद आपको यह सुनकर थोड़ा अजीब लग रहा हो लेकिन यह बात सच है। और यह बात हाल ही में हुई एक रिसर्च से सामने आई है।

रिसर्च में कहा गया है 

हाल में ही कैनेडियन मेडिकल ऐसोसिएशन जर्नल में प्रकाशित एक रिसर्च के अनुसार, जिस फ्लोर-क्लीनर्स का इस्तेमाल घरों की सफाई मे  किए जा रहे हैं, उससे बच्चों के पाचन तंत्र पर असर हो रही है। इस रिसर्च के लिए कनाडा की अल्ब्रेटा यूनिवर्सिटी के शोधार्थियों ने 3-4 महीने के आयु के तकरीबन 757 बच्चों के'गट माइक्रोब्स' (मानव के पाचन तंत्र में रहने वाले सूक्ष्म जीव) का अध्ययन किया। विश्लेषण के दौरान ज्ञात हुआ कि घरों में इस्तेमाल किए जाने वाली कीटाणुनाशक क्लीनर्स, सफाई सामग्री और अन्य फ्लोर-लिक्विड के प्रभाव से बच्चों के पाचन तंत्र पर बुरा असर हो रहा है।

Children health inside

बच्‍चों में मोटापा

डॉक्टरों का दावा है कि घरों में साफ-सफाई के लिए प्रयोग किए जाने वाली कीटाणुनाशक और अन्य केमिकल पदार्थ बच्चों में मोटापा बढ़ा रहे हैं। रिसर्च में कहा गया है कि फिनाइल, हारपिक जैसे अन्य फ्लोर-लिक्विड से 'गट माइक्रोब्स' में बदलाव कर बच्चों में वजन बढ़ने की शक्ति को बढ़ा देती है। रिसर्च में यह पाया गया है कि बच्चों के शरीर में जो पाचन सूक्ष्म जीव है। फ्लोर- क्लीनर्स उन्हें धीरे-धारे खत्म कर रही है। यही वजह है कि बच्चों की पाचन तंत्र ठीक से काम नहीं करते,  जिसके कारण उनकी मोटापे अधिक बढ़ते हैं।

इसे भी पढ़े; बच्‍चे के लिए यूज करती हैं जॉनसन एंड जॉनसन के प्रोडक्‍ट, तो सावधान हो जाएं 

Children health inside

बच्‍चों को मोटापे से बचाने के उपाय

हालांकि फिनाइल, हारपिक जैसे अन्य फ्लोर-लिक्विड से होने वाले बीमारियों से बच्चों को बचाया जा सकता है। उसके लिए आप को थोड़ा सावधानी से काम लेना होगा। घर साफ करते समय और बच्चों के पास जाने से पहले इन बातों का जरुर ध्यान रखे।

Recommended Video

Children health main

पहला- फ्लोर-लिक्विड से साफ करने के बाद तुरंत बच्चों को फर्श पर खेलने के लिए ना छोड़े।
दूसरा- फ्लोर-लिक्विड से साफ करने के बाद उसे अच्छे से सूखने दे।
तीसरा- फर्श को साफ करने के बाद फर्श पर आप मैट डाल सकते हैं।
चौथा- जितना हो सके घर की सफाई के लिए नेचुरल प्रोडक्‍ट का इस्तेमाल करें।

तो अगली बार जब भी फ्लोर लिक्विड का इस्तेमाल करे तो उससे पहले इन जानकारियों को ज़रूर याद रखें