स्ट्रेस और एंग्जायटी लोगों के जीवन का हिस्सा बन चुकी है। इसके पीछे कई वजह हो सकती हैं, लेकिन अगर इसका समय पर इलाज नहीं किया गया तो इसका असर सेहत पर भी देखने को मिल सकता है। स्ट्रेस की वजह से नींद ना आना, सिर में दर्द या फिर थकान जैसी समस्याएं शुरू होने लगती हैं। लेकिन अगर आप चाहें तो बेहतर मालिश के जरिए इस समस्या से आसानी से निकल सकती है। इसके लिए सिर्फ आपको अपने कानों की मालिश करनी होगी। जी हां, कान की मालिश से आप न सिर्फ स्ट्रेस से छुटकारा पा सकती हैं बल्कि इससे कई और भी शारीरिक समस्याएं भी दूर हो जाती हैं।

अक्सर दादी-नानी जब भी बच्चों की मालिश करती हैं तो उनके कानों की मालिश करना नहीं भूलती। इसके कई फायदे हैं, जिससे हम सभी अंजान हैं। खास बात है कि कानों की मालिश आप कहीं भी और कभी भी कर सकती हैं। अगर आपको तनाव या फिर एंग्जायटी हो रही है तो कान के कुछ जगहों की मालिश कर आप इससे राहत पा सकती हैं। 

सिरदर्द और माइग्रेन से दिलाता है राहत

ear digging massage

सिर दर्द और माइग्रेन की समस्या इन दिनों लोगों में काफी कॉमन है। लेकिन कभी-कभी यह दर्द लोगों के लिए असहनीय हो जाता है, इसलिए बहुत जरूरी है कि शुरुआत में ही इसका इलाज किया जाए। वहीं कई लोग इससे राहत पाने के लिए पेनकिलर का सहारा लेते हैं, लेकिन यह सही तरीका नहीं है। आप चाहें तो इससे राहत पाने के लिए आप कानों की मालिश कर सकती हैं। कानों की मालिश के लिए आप पेपरमिंट चाय का भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

वेट लॉस में मिलेगी मदद

कान की मालिश करने से कई फायदे होते हैं, यह वेट लॉस में भी मददगार साबित हो सकते हैं। हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज के साथ-साथ अगर आप कान की मालिश करें तो आपको काफी फायदा मिलेगा। इसके लिए कान के अलग-अलग प्वाइंट को रगड़ें। तेजी से वजन कम करने के लिए आप इस ट्रिक को अपना सकती हैं।

स्ट्रेस और एंग्जायटी होगी कम

ear massage for stress reliev

अगर आप स्ट्रेस में हैं तो तुरंत कानों की मालिश करें। जब भी एंग्जायटी या फिर स्ट्रेस हो तो सर्कुलेशन में अपने कानों के गेट प्वाइंट यानी ऊपरी हिस्से की मसाज करें। गेट प्वाइंट कान के ऊपरी सेल जहां ट्रायंगल की तरह बना होता है। यहां मालिश करने से आप टेंशन या एंग्जायटी जैसी समस्या से राहत पा सकती हैं।

अनिद्रा से लड़ने में करता है मदद

आपको नींद नहीं आती है या फिर देर से आती है तो इसके लिए भी कानों की मालिश कर सकती हैं। ऐसा करने से आप रिलैक्स महसूस करेंगी और आपको जल्दी नींद आने लगेगी। वहीं कान की मालिश करने से बॉडी भी रिलैक्स हो जाती है। ऐसे में सोने से पहले थोड़ी देर अपने कानों की मालिश करें।

इसे भी पढ़ें: साइकिल चलाने से पहले इन बातों का रखें का ध्यान, वरना हो सकता है भारी नुकसान

Recommended Video

मांसपेशियों का दर्द होता है कम

for muscels pain

रिसर्च में पाया गया है कि मांसपेशियों में होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए कान की मालिश करना एक बेहतर तरीका है। इसके लिए सिर्फ अपने कान की लोब को रब करें या फिर खींचे, यह तंत्रिका को उत्तेजित करता है जो एंडोर्फिन को रिलीज करता है। एंडोर्फिन एक अच्छा हार्मोन है जो आपको दर्द से राहत दिलाता है। कान की मालिश ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करने में मदद करती है। इसलिए जब भी आपकी मांसपेशियों में दर्द हो तो कान की मालिश कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: नई माएं इन पोजीशन से अपने शिशु को कराएं स्तनपान, नहीं होगी कोई परेशानी

शरीर को मिलती है एनर्जी

an ear massage

कई बार ऐसा होता है जब सो कर उठने के बाद कमजोर महसूस होता है। अगर यह अक्सर होता है तो सो कर उठने के बाद अपने कानों की मालिश करें। ऐसा करने से दिमाग से जुड़ी नसें एक्टिव हो जाती हैं और यह आपको फ्रेश महसूस कराती हैं। इसलिए अगली बार जब भी आपको कमजोरी महसूस होती है तो अपने कानों की मालिश करें।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।