बाहों पर फैट जमा होना समग्र वजन बढ़ने का परिणाम है। आपकी बाहों पर अतिरिक्त चर्बी होने से सुंदरता कम हो सकती है और इसे खोना आपको मुश्किल लग सकता है। ऐसी कुछ स्थितियां हो सकती हैं जो आपके वजन को प्रभावित करती हैं जैसे कि थायराइड से संबंधित समस्याएं या कोई अन्य बीमारी जैसे पीसीओडी, पीसीओएस, गैस और एसिडिटी से संबंधित समस्याएं आदि। यदि आपका वजन लगातार बढ़ रहा है तो यह आपके लिए अपने आहार पर ध्यान देने का समय है। इसके अलावा अपने रूटीन में कुछ योगासन को शामिल करें। इन योगासन के बारे में हमें योगा मास्टर, फिलांथ्रोपिस्ट, धार्मिक गुरू और लाइफस्टाइल कोच ग्रैंड मास्टर अक्षर जी बता रहे हैं।

मास्टर अक्षर जी का कहना है, ''इन आसनों को दिन में दो बार सुबह और एक बार शाम को करने की कोशिश करें। अपनी श्वास पर ध्यान दें और इन आसनों को करते हुए अपनी श्वास पर जागरूकता का अभ्यास करने का प्रयास करें। प्रत्येक आसन को 5 बार दोहराएं और सर्वोत्तम परिणामों के लिए इस पूरे सेट को दिन में दो बार करें।''

संतुलनासन - प्लैंक पोज

Santolanasana for arm fat  insiddE

  • इसे करने के लिए पेट के बल लेट जाएं।
  • अपनी हथेलियों को कंधों के नीचे रखें और ऊपरी शरीर, पेल्विक और घुटनों को ऊपर उठाएं।
  • फर्श को पकड़ने के लिए अपने पैर की उंगलियों का प्रयोग करें और घुटनों को सीधा रखें।
  • सुनिश्चित करें कि आपके घुटने, पेल्विक और रीढ़ एक सीध में हो। 
  • आपकी कलाइयों को कंधों के ठीक नीचे रखा जाना चाहिए और आपकी बाहें सीधी रखी जानी चाहिए।
  • अंतिम मुद्रा में थोड़ी देर रुकें। 
  • अपने शरीर को फर्श से ऊपर उठाते हुए श्वास लें। 
  • यदि आप आसन को अधिक देर तक रोके रखते हैं तो सामान्य रूप से श्वास लें और छोड़ें।

चतुरंगा दंडासन

Chaturanga Dandasana inside

  • इसे करने के लिए तख़्त मुद्रा से शुरू करें।
  • जैसे ही आप सांस छोड़ते हैं, अपने शरीर को आधा पुश-अप में नीचे करें, जैसे कि ऊपरी बाहें फर्श के समानांतर हो।
  • कोहनी के टेढ़ेपन में 90 डिग्री का कोण बनाए रखने के लिए जब आप खुद को नीचे करते हैं तो आपकी कोहनी आपकी पसलियों के किनारों को छूनी चाहिए।
  • आपके कंधों को अंदर की ओर खींचा जाना चाहिए।
  • आपकी कलाई और कोहनी फर्श से लंबवत होनी चाहिए और आपके कंधे आपके शरीर के अनुरूप होने चाहिए।
  • आसन को 10-15 सेकंड के लिए रोककर रखें।

वशिष्ठासन

Vashishtasana for arm fat inside

  • संथोलानासन (प्लैंक) से शुरुआत करें।
  • अपनी बायीं हथेली को जमीन पर मजबूती से रखते हुए, अपने दाहिने हाथ को फर्श से हटा दें।
  • अपने पूरे शरीर को दाहिनी ओर मोड़ें और दाहिने पैर को फर्श से उठाकर अपने बाएं पैर के ऊपर रखें।
  • अपनी दाहिनी भुजा को ऊपर उठाएं और अपनी उंगलियों को आकाश की ओर रखें।
  • सुनिश्चित करें कि आपके दोनों घुटने, एड़ी और पैर एक दूसरे के संपर्क में हैं।
  • दोनों हाथ और कंधे एक सीधी रेखा में हों।
  • अपना सिर घुमाएं और अपने दाहिने हाथ को देखें। 
  • आसन को कुछ देर रुकें।
  • बाईं ओर भी ऐसा ही दोहराएं। 

यदि अधिक वजन होने का कारण अधिक भोजन करना और उचित आहार का पालन नहीं करना है तो धीमा करें और अपनी वर्तमान जीवन शैली में एक विराम लाएं। वजन घटानेऔर विशेष रूप से बाहों के आस-पास टोनिंग का अनुभव करने के लिए इन अभ्यासों को अपनी नियमित दिनचर्या में शामिल करें।

आप भी बाजुओं के फैट को कम करने के लिए इन योगासन को रोजाना कर सकती हैं। फिटनेस से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।