आजकल सब लोग ऑनलाइन गेम्स, ऑडियो, वीडियो, शॉपिंग और ऑनलाइन एजुकेशन के माध्यम से अपने स्मार्टफोन, लैपटॉप आदि के साथ और ज्यादा व्यस्त हो गए है। बिज़ी शेड्यूल और लगातार गलत तरीके से बैठे रहने की वजह से लोगों के शरीर का पोस्चर बिगाड़ रहा है। अगर हमारे बैठने का तरीका ठीक नहीं होता है, तो हमारे शरीर की मुद्रा खराब होने लगती है, जो दिखने में भी बहुत खराब लगती है। साथ ही, एक खराब मुद्रा (शरीर का पोस्चर) विभिन्न स्वास्थ्य चिंताओं को भी जन्म दे सकती है। आजकल बहुत से लोग खराब मुद्रा की समस्या का सामना कर रहे हैं। इसलिए इसे जल्द से जल्द ठीक करना महत्वपूर्ण है, पर कैसे? 

आप परेशान ना हो क्योंकि इस विषय को लेकर हमने एक्सपर्ट डॉक्टर हितेश खुराना से बात की। आपको बता दें कि डॉ. हितेश खुराना कायरोप्रैक्टिक, एर्गोनोमिक विशेषज्ञ और वरिष्ठ फिजियोथेरेपिस्ट हैं। इन्होंने हमें खराब मुद्रा के प्रभावों और खराब मुद्रा को कैसे ठीक करें, के बारे में विस्तार से बताया, जो हम आपके साथ इस लेख के माध्यम से साझा कर रहे हैं। इसके अलावा, हम आपको यह भी बता रहे हैं कि बॉडी के पोस्चर को ठीक करने के लिए कौन-से वर्कआउट या योगासन उपयोगी हैं। 

खराब पोस्चर के स्वास्थ्य नुकसान 

Dr Hitesh Khurana

शरीर की खराब मुद्रा ना सिर्फ दिखने में खराब लगती है बल्कि कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं भी पैदा कर सकती है लेकिन वह समस्याएं क्या हो सकती हैं? हम एक्सपर्ट के द्वारा बताए गए कुछ नुकसान के बारे में विस्तार से बता रहे हैं..... 

पीठ दर्द

यदि आप सही मुद्रा नहीं अपनाते हैं तो आपकी पीठ के निचले हिस्से और ऊपरी पीठ पर वांछित तनाव के कारण पीठ दर्द होने की संभावना बनी रहती है। गलत तरीके से झुकना या बैठना इसका एक बड़ा कारण हो सकता है और इसे ठीक करने के लिए आपको अपनी पीठ की मांसपेशियों को समतल करने की जरूरत है। यदि आप ठीक से नहीं बैठते हैं, तो आपकी गर्दन और टेलबोन क्षेत्र के नीचे दर्द होने की संभावना अधिक हो सकती है। 

खराब पाचन-तंत्र 

गलत पोस्चर आपके पाचन तंत्र पर भी नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। यदि आप लगातार गलत पोस्चर का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो यह आपके अंगों को संकुचित कर सकता है। साथ ही, स्वस्थ पाचन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए उन्हें ठीक से काम भी नहीं करने देता है। इससे पेट की समस्या हो सकती है।

नींद ना आने की समस्या 

कभी-कभी, खराब मुद्रा नींद ना आने का कारण बन सकती है क्योंकि यह मुद्रा आपको रात में पूरी तरह से आराम करने में असमर्थ बना देती है और आपको सही से नींद नहीं आ पाती। साथ ही, आप हमेशा खुद को शांत नींद की स्थिति में पाएंगे।

रीढ़ की हड्डी (वक्र) पर प्रभाव 

इस मुद्रा से आपकी रीढ़ की हड्डी पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। हमारा प्राकृतिक वक्र "S" आकार का होता है और समय बीतने के साथ यह एक अलग आकार में बदल जाता है। यह समस्या गलत मुद्रा के कारण या अत्यधिक दबाव के कारण होती है क्योंकि हमारी रीढ़ की हड्डी में झटके को सहने की क्षमता तो होती है लेकिन अगर आप लगातार गलत मुद्रा में रहते हैं, तो इससे गंभीर चोट लगने का खतरा अधिक हो सकता है। इसमें सुधार के लिए आप कुछ व्यायाम और खिंचाव (स्ट्रेच) आसन को नियमित रूप से कर सकते हैं।

गर्दन दर्द और सिरदर्द

उपर्युक्त समस्या के अलावा, खराब मुद्रा आपके पीछे की मांसपेशियों पर अधिक दबाव डालती है, जो आगे चलकर आपकी गर्दन पर नकारात्मक प्रभाव डालता है क्योंकि जब आपके कंधे आगे की ओर झुके हुए होते हैं या आपका सिर सही स्थिति में नहीं होता है तो यह इन मांसपेशियों की जकड़न से आपकी गर्दन पर अधिक दबाव डालता है। मांसपेशियों में खिंचाव होने के कारण आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। 

एक्सपर्ट के अनुसार कुछ लोगों को सर्वाइकल पेन की भी समस्या हो जाती है। इसलिए आप कोशिश कीजिए कि शरीर के पोस्चर को ठीक करने वाले योग को अपने रूटीन में शामिल करें। डॉ. हितेश खुराना ने कुछ योगासन हमारे साथ साझा किए हैं, जिसे हम आपके साथ साझा कर रहे हैं। 

मार्जरी आसन

marjariasana for good

मार्जरी आसन की उत्पत्ति "मार्जार" नाम के शब्द से हुई है क्योंकि इस आसन की मुद्रा बिल्ली की मुद्रा के समान होती है और बिल्ली को मार्जार भी कहा जाता है। इसलिए इसे "मार्जरी आसन" नाम से जाना जाता है। यह कमर की हड्डी को मजबूत और बॉडी को फुर्तीला बनाता है। साथ ही, यह योग शरीर की मुद्रा को भी ठीक करने के लिए उपयोगी है क्योंकि इसमें कमर पूर्ण तरीके से सीधी होती है। अगर आप नियमित रूप से इस योग को करते हैं, तो आपको बहुत फायदा होगा। 

कैसे करें?

1- इसे करने के लिए आप बिल्ली की मुद्रा यानी हाथ और पैरों के बल आ जाएं। 

2- अब सांस छोड़ते हुए सिर को सीने की तरफ लेते हुए कमर को ऊपर की तरफ ले जाएं। 

3- इसे करने से आपकी पीठ और बॉडी में स्ट्रेच आएगा। 

4- साथ ही, बॉडी का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होगा। आप अच्छा महसूस करेंगे। 

भुजंगासन

Bhajangasana for good ]

आप कोबरा पोज़ को अपनी एक्सरसाइज रूटीन में शामिल कर सकते हैं। ये योग दिमाग को शांत और बॉडी को आराम दिलाता है जिससे आप थका हुआ महसूस नहीं करते हैं। साथ ही, यह कमर को सीधा करने के लिए भी बहुत उपयोगी है। अगर आप घंटों बैठे रहते हैं, तो बीच-बीच में यह योग जरूर करें क्योंकि इससे आपको बॉडी में लचीलापन आएगा। 

कैसे करें? 

1- कोबरा पोज़ करने के लिए आप पेट के बल लेट जाएं। 

2- फिर अपने दोनों हाथों को सीने के पास लेकर आएं। 

3- इस दौरान आप अपनी कोहनियां को पसलियों की तरफ ही रखें।  

4- ऐसा करने के बाद आप अपने सीने को ऊपर की तरफ उठाएं और गहरी सांस लें। 

5- फिर आप कंधों को घूमते हुए सिर को पीछे की तरफ ले जाएं। 

6- अंत में सांस को छोड़ते हुए अपने सीने को नीचे की तरफ ले जाएं। 

7- इस प्रक्रिया को दोहराया जाएं। 

बालासन 

Childpose

ये आसन शरीर को आराम देने का काम करता है। इसे नियमित रूप से करने से शरीर का सारा दर्द खत्म हो जाता है। साथ ही, यह योग शरीर के पोस्चर को ठीक करने के लिए भी बहुत उपयोगी है क्योंकि जब आप बालासन की मुद्रा में होते हैं, तो कमर पूरी तरह से स्ट्रेच होती है और कमर को एक अच्छा पोस्चर मिलता है। इसके अलावा, इसे करना बहुत आसान है। इसलिए यह आसन आपके लिए बेस्ट हो सकता है। 

कैसे करें? 

1-इसको करने के लिए आप वज्रासन की मुद्रा में बैठ जाएं।

2- दोनों हाथ को सिर की सीध में ऊपर की तरफ ले जाएं। ध्यान रहे, दोनों हाथों को मिलाना नहीं हैं।

3- अब सांस छोड़ते हुए आगे की तरफ जाते हुए हथेलियां जमीन की तरफ लेकर जाएं। बस सिर को भी ज़मीन पर रखें और ये मुद्रा दोहराएं। 

इसे ज़रूर पढ़ें-जिम से नहीं, घर पर इन 3 एक्‍सरसाइज से हाउसवाइफ्स करें वजन कम

ताड़ासन 

Tadasana

ताड़ासन शरीर के पोस्चर को ठीक करने के लिए बहुत उपयोगी है। क्योंकि इसे करने से मांसपेशियों में खिंचाव आता है और शरीर के पोस्चर में भी सुधार होने लगता है। इसका रिजल्ट पाने के लिए आप रोज़ नियमित रूप से ताड़ासन कर सकती हैं। इसके अलावा, यह बॉडी को वार्म-अप करने का भी काम करता है। 

Recommended Video

कैसे करें 

1- ताड़ासन करने के लिए सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं। 

2- फिर अपनी एड़ियों को एक-दूसरे के साथ मिला कर रखें।

3- इसके बाद अपने दोनों हाथों को बगल की सीध में रखें।

4- फिर अपनी दोनों हथेलियों को आपस में मिलाएं और ऊपर तरफ उठाएं। 

5- अब सांस लेते हुए, अपने दोनों पंजों के बल होते हुए शरीर को ऊपर की ओर खीचें।

6- इस position में थोड़ी देर रहे फिर धीरे-धीरे सांस को छोड़ते हुए सामान्य हो जाएं। 

7-  आप इसे अपनी क्षमता के अनुसार दोहरा सकती हैं

इसे ज़रूर पढ़ें-महिलाओं को पतला बनाते हैं ये योगासन, हफ्ते में 3 बार जरूर करें

ऊपर बताए गए आसन को शुरुआत में एक से तीन बार अभ्यास करके देखें फिर उसके बाद नियमित रूप से करें। इसके अलावा, आप प्लैंक एक्सरसाइज को भी कर सकते हैं क्योंकि एक्सपर्ट के अनुसार इसे करने से न सिर्फ शरीर के पोस्चर ठीक होता है बल्कि पेट की चर्बी भी कम की जा सकती है। साथ ही, बॉडी को फिट भी रखा जा सकता है। इसलिए आप प्लैंक एक्सरसाइज को अपने डेली रुटीन में शामिल करें और स्वस्थ रहें। आपको लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही, ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik