क्या सीढ़ियां चढ़ते वक्त आप हांफने लगती है? क्या थोड़ा सा काम करते ही आप थक जाती हैं या फिर एक्सरसाइज करते हुए आपकी सांसें फूलने लगती है? इसका मतलब है कि आपको अपना स्टैमिना बूस्ट करने की जरूरत है। लंबे समय तक एक्टिव रहने के लिए स्टैमिना महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। एक्सरसाइज और सही खानापन के जरिए आप अपने स्टैमिना को बढ़ा सकती हैं। एक्सरसाइज लंबे समय तक स्टैमिना और एनर्जी के लेवल को बढ़ाता है। रनिंग, साइकलिंग, जॉगिंग, जैसे कार्डियोवैस्कुलर व्यायाम उस एफिशियंसी को बढ़ाते हैं जिसके कारण आपकी मसल्स में ऑक्सीजन की आपूर्ति होती है।

स्क्वाट

Squats for stamina

स्क्वाट करने से आपकी कई मसल्स भी काम करती हैं। यह सिर्फ आपकी बॉडी के लिए एक वर्कआउट नहीं, बल्कि यह आपके टिशूज और लिगामेंट्स को मजबूती देता है। इसके लिए अपने पैरों में एक डिस्टेंस रखते हुए सीधे खड़े हो जाएं। इसके बाद घुटनों को मोड़ते हुए, हिप्स को पीछे की तरफ लेकर जाएं। अपने हाथों को सामने की तरफ रखें और फिर वापस ऊपर आएं। इसे करते हुए ध्यान दें कि सक्वाट करते वक्त आपकी स्पाइन पर कोई दबाव न पड़े। इसे शुरुआत में 10 बार दोहराएं। इससे धीरे-धीरे आपकी स्ट्रेंथ बिल्ड हो जाएगी।

लंजेस

lunges for stamina

यह सिंगल एक्सरसाइज ही आपकी पीठ, हिप्स, हैमस्ट्रिंग, क्वाड्स, एब्स और ग्लूट्स को एक साथ मजबूती देती है। लंजेस करने के लिए स्क्वाट वाली पोजिशन में खड़े हो जाएं। अब अपने दाहिने पैर को आगे बढ़ाएं और अपने हिप्स को मोड़ें ताकि आपके दोनों घुटने 90-डिग्री का कोण बना लें। आपका दाहिना घुटना आपके टखने से आगे नहीं बढ़ना चाहिए और आपका बायां घुटना, जो मुड़ा हुआ होगा, जमीन को नहीं छूना चाहिए। इसमें लगभग 10 काउंट तक रुकें और इसे 5 बार दोहराएं। ऐसा दोनों पैरों के साथ करें।

इसे भी पढ़ें :रुजुता दिवेकर की तरह Squats और Lunges करने से शरीर होगा मजबूत, वेट लॉस का फायदा भी मिलेगा

पुश-अप

pushups for stamina

पुश-अप करना बहुत मुश्किल नहीं है। हां, अगर आप पहली बार इसे कर रही हैं, तो शुरुआत वॉल पुश-अप के साथ करें और फिर इसे करें। यह आपकी अपर बॉडी और कोर को मजबूत करती है। चूंकि इसमें आपकी पूरी बॉडी इंवॉल्व होती है, इसलिए यह चेस्ट, बाइसेप्स, ट्राइसेप्स, शॉल्डर, बैक और पैरों के कोर को स्ट्रॉन्ग करती है। इसके लिए फर्श पर, पेट के बल लेट जाएं, हथेलियां छाती के पास रखें। हथेली पर सारा दबाव डालते हुए अपने शरीर को ऊपर उठाएं। 10 सेकंड के लिए इसी पोजिशन में रहें। इस एक्सरसाइज को 5 बार करें और धीरे-धीरे गिनती बढ़ाएं।

इसे भी पढ़ें :पैर की एक्सरसाइज आपको कई बीमारियों से रखती है दूर, जानें इसके फायदे

जंपिंग जैक

jumping jacks for stamina

जंपिंग जैक एक इंटेंस फिजिकल वर्कआउट है। जंपिंग जैक बोन डेंसिटी और बोन हेल्थ को बेहतर बनाने के लिए एक अच्छी एक्सरसाइज है।  साथ ही इसे करने से मसल्स स्ट्रेंग्थ बढ़ती है। जंपिंग जैक करने से आपकी बॉडी की फ्लेक्सिबिलिटी में सुधार करने में हेल्‍प मिलती है। अगर आपकी लाइफ एक्टिव नहीं है और आप लंबे समय तक बैठकर काम करती है तो इस एक्‍सरसाइज को करना शुरू कर दें। इसे करने के लिए अपने पैरों में एक अच्छा-खासा डिस्टेंस रखकर खड़े हो जाएं। अब जंप करते हुए अपने पैरों और हाथों को एक ही समय पर फैलाएं।  इसे बार-बार दोहराएं।

Recommended Video

चेयर डिप्स

chair dips for stamina

चेयर डिप्स को ट्राइसेप डिप्स भी कहा जाता है क्योंकि ये ऊपरी बांहों के पीछे ट्राइसेप्स मसल्स पर काम करते हैं। कुछ विशेषज्ञ बताते हैं कि मांसपेशी के लिए यह एक्सरसाइज सबसे प्रभावी है। इससे शरीर का बैलेंस बनाने में काफी मदद मिलती है। बेंच डिप्स करने के लिए कुर्सी या बेंच पर बैठें और अपनी पीठ को सीधा रखें।  पैरों को कंधे की चौड़ाई बराबर फैला लें। धीरे-धीरे शरीर को उठाने के लिए अपनी हथेलियों को दबाएं और आगे की ओर बढ़ें। पांच काउंट तक इसी पोजिशन में रहें फिर वापस पहली पोजिशन में आ जाएं।

बोट पोज

boat pose for stamina

 

यह एक्सरसाइज कर और पेट की मांसपेशियों के लिए अच्छी है। इसे नौकासन कहा भी जाता है। यह एक्सरसाइज आपके संतुलन और पाचन में सुधार करती है। साथ ही आपकी स्पाइन और हिप फ्लेक्सर्स को मजबूती देती है। इसके लिए पीठ के बल लेट जाएं और पैरों को जोड़ लें। हाथों को शरीर से चिपका लें। एक गहरी सांस लें और सांस छोड़ते हुए हाथों को पैरों की तरफ खींचें और पैरों को बोट की पोजिशन पर ले जाएं। इस पोजिशन पर 30 सेकेंड्स तक रहें। फिर वापिस पहली पोजिशन पर आ जाएं। रिलैक्स करें और कम से कम पांच बार इसे करें।

 

अगर आप भी स्टैमिना बढ़ाना चाहती हैं, तो इन एक्सरसाइज को अपने रूटीन में जरूर शामिल करें। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो हमारे फेसबुक पेज पर कमेंट करके हमें बताएं। ऐसे अन्य आर्टिकल्स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी के साथ।

 

Image Credit : Freepik images