भोजन शरीर के लिए ईंधन के समान है। इसके सेवन से सिर्फ आपके शरीर को उर्जा ही नहीं मिलती, बल्कि यह पोषक तत्वों का यह एक मुख्य स्त्रोत है। इसलिए यह कहा जाता है  कि खाने के लिए हमेशा हेल्दी ऑप्शन का चयन करना चाहिए। मसलन, एक पका हुआ लाल सेब मीठे चॉकलेट केक के टुकड़े की तुलना में अधिक हेल्दी विकल्प है। यह एक बेहद कॉमन सेंस हैं। लेकिन अगर आप अपनी हेल्थ को नेक्स्ट लेवल पर ले जाना चाहती हैं तो आपको हेल्दी फूड को भी healthiest तरीकों से खाना सीखना होगा। मसलन, आप अपने हेल्दी फूड ऑप्शन का सेवन कुछ इस तरह करें कि आपको अधिकतम पोषक तत्वों की प्राप्ति हो। दरअसल, ऐसे कई फूड होते हैं, जिन्हें कच्चा खाना ही सबसे अच्छा माना जाता है। 

कच्चे खाद्य पदार्थ मुख्य रूप से अनप्रोसेस्ड, प्लांट बेस्ड, आर्गेनिक फूड होते हैं। ऐसा कहा जाता है कि किसी भी व्यक्ति की डाइट में कम से कम तीन-चौथाई आहार uncooked food ही होना चाहिए।  अधिक मात्रा में कच्चे खाद्य पदार्थ खाना वास्तव में हेल्दी फूड ऑप्शन माना जाता है। वैसे कुछ लोग वजन कम करने के लिए भी कच्चे फूड को अपनी डाइट में शामिल करते हैं। लेकिन uncooked food खाने के लाभ इससे कहीं अधिक है। ऐसे फूड से आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्वों की प्राप्ति होती है। तो चलिए आज मैक्स हेल्थ केयर की चीफ न्यूट्रीशनिस्ट रितिका समादार आपको बता रही हैं कि आपको किन फूड्स को कच्चा ही खाना चाहिए-

इसे भी पढ़ें: Celebrity Nutritionist रुजुता दिवेकर ने बताए रामफल के फायदे, आप भी जानिए

फल व सब्जियां

foods should be consumed raw for their health benefits inside `

फल व सब्जियों को हम सभी कच्चा व पकाकर दोनों रूपों में खाते हैं। लेकिन जिन फल व सब्जियों को आप कच्चा खा सकते हैं, उन्हें कच्चा ही खाया जाना चाहिए। जैसे मूली, गाजर, खीरा, टमाटर, संतरा, आदि को आप आसानी से यूं ही खा सकती हैं। फल व सब्जियों को जब भी उबालकर या पकाकर खाया जाता है तो उनके पोषक तत्व कहीं ना कहीं कम होने शुरू हो जाते हैं। एक थ्योरी farm to plate theory शरीर के लिए काफी अच्छी मानी जाती है। अर्थात आप फार्म से फल-सब्जियों को जितना जल्दी प्लेट में डालकर खाएंगी, वह हेल्थ के लिए उतना ही अच्छा है। इस थ्योरी का मूल सार यह है कि फल सब्जियों को अगर बिना पकाकर खाती है तो उसके पोषक तत्व यूं ही बने रहते हैं। हालांकि फल व सब्जियों को कच्चा खाते समय आपको एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि आप इनका सेवन करने से पहले अच्छी तरह वॉश करें, ताकि किसी भी तरह के संक्रमण की संभावना ना हो। क्या आप जानती हैं कि आपकी 7 इंच की 1 रोटी में क्या है?

Recommended Video


नट्स व सीड्स

foods should be consumed raw for their health benefits inside

नट्स व सीड्स को भी प्राकृतिक रूप में खाना काफी अच्छा माना जाता है। कुछ महिलाएं मखानों को घी में भूनकर व नमक डालकर खाती हैं या फिर काजू की प्यूरी बनाकर उसे सब्जी में डालकर पकाकर खाती हैं। नट्स व सीड्स को इस तरह खाना हेल्दी ऑप्शन नहीं है। हालांकि इस तरह नट्स व सीड्स को खाने में कोई बुराई नहीं है। लेकिन इन चीजों को बेहद आसानी से कच्चा खाया जा सकता है और इसलिए इन्हें कच्चा खाना ही बेहतर है। Super Foods: छोड़ि‍ए अब संतरे का पीछा और ट्राई करें ये फूड्स जिनमें है विटामिन-सी का भंडार


इसे भी पढ़ें: इन 7 वेजिटेरियन फूड्स में है अंडे और मीट से ज्‍यादा प्रोटीन, इन्‍हें हर रोज खाएं

स्प्राउट्स

foods should be consumed raw for their health benefits inside

आमतौर पर दाल या अनाज को कच्चा खाना काफी मुश्किल है। लेकिन जब किसी भी अनाज या दाल को जब पानी में भिगोकर स्‍प्राउट बनाया जाता है, तब उसे कच्चा खाया जा सकता है। स्प्राउट्स वास्तव में सेहत से भरे होते हैं। इनमें कई तरह विटामिन, मिनरल , प्रोटीन व अन्य कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। ऐसे में अगर आप उन सभी पोषक तत्वों को प्राप्त करना चाहती हैं तो आपको उन्हें कच्चा ही खाना चाहिए।

Image Credit:(@all image-freepik)