कम से कम दिन में दो बार तो आप रो़टी जरूर खाती होंगी। लेकिन क्या आप जानती हैं कि रोटी हेल्दी या नहीं आपको रोटी खाने से कौन से और कितने nutrition मिल रहे हैं। अगर नहीं तो ये बात आपको जरूर पता होनी चाहिए कि आपकी एक रोटी में क्या है? सभी कहते हैं यहां तक की डॉक्टर्स का भी यही कहना है कि रोटी आपकी सेहत के लिए अच्छी होती है। लेकिन रोटी में ऐसा क्या है जो ये आपकी सेहत के लिए इतनी फायदेमंद है। अगर आप इस सावल का जवाब जानना चाहती हैं तो आपको ये जरूर पढ़ना चाहिए कि एक रोटी में क्या है। 

इसे जरूर पढ़ें- क्या आप जानती हैं कि परफेक्ट गोल रोटी कैसे बनाते हैं?

गेहूं के आटे से बनी 7 इंच की एक रोटी के इस nutrition चार्ट को देखिये

roti nutrition facts chart

सबसे पहले तो आप ये जान लीजिए की रोटी में Saturated, Polyunsaturated,Monounsaturated, Trans और Cholesterol नहीं होता। मतलब ये कि ये आपको गेहूं से बनी रोटी में ज़ीरो मिलेगा। 1 रोटी जिसका आकार 7 इंच जितना होता है उसमें 682 कैलोरी होती हैं। 2,306 mg सोडियम होता है, कुल फेट 4 ग्राम होता है और 1 रोटी से आपको 139 ग्राम कार्ब्स मिलते हैं। इसमें प्रोटीन की मात्रा भी अच्छी होती है। 1 रोटी से आपको 26 ग्राम प्रोटीन मिलता है। पोटेशियम 292mg और शुगर 7 ग्राम मिलता है। इसके अलावा आपको रोटी से विटामिन A और C भी मिलता है। इसमें 11 प्रतिशत कैल्शियम होता है और 18 प्रतिशत आयरन। 

इसे जरूर पढ़ें- रातभर फ्रिज में रखे आटे की नहीं बनानी चाहिए सुबह रोटियां

ये जानने के बाद अब आप एक रोटी की ताकत जान चुकी होंगी। रोटी खाना आपके लिए कितना जरूरी है और आपको एक रोटी खाने से कितना nutrition मिलाता है और उससे आपको क्या फायदा होता है ये आपकी समझ में जरूर आ गया होगा। आप दिनभर में नाशते से लेकर डिनर तक हर वक्त रोटी खा सकती हैं। रोटी खाने का कोई फिक्स टाइम नहीं होता लेकिन ये बात ध्यान रखनी चाहिए कि अगर आप रोटी खाने वाली हैं तो उससे एक घंटा पहले और उसके एक घंटे बाद तक कुछ ना खाएं इससे आपको रोटी से मिलने वाले nutrition का पूरा फायदा मिलेंगा। 

गेहूं दुनियाभर में उगाई जाने वाली दूसरी सबसे बड़ी फसल है। चीन के बाद भारत विश्व का दूसरा सबसे ज्यादा गेहूं उगाने वाला देश है। गेहूं के आटे से सिर्फ रोटी ही नहीं बनती बल्कि इससे ब्रेड, कुकीज, केक, दलिया, पास्ता, रस, सिवईं, नूडल्स जैसी कई और चीज़े भी बनती हैं। इसके अलावा गेहूं का किण्वन कर बियर, शराब, वोद्का और जैवईंधन भी बनाया जाता है।

रोटी खाने के बारे में लोगों की कई तरह की राय है लेकिन डॉक्टर राखी का कहना है कि खाना हमेशा तीन चीज़ों को ध्यान में रखकर खाना चाहिए- उम्र, व्यवसाय और आपको कितनी कैलोरी की जरुरत है। BMR पर भी आपके खाने की आदत निर्भर करती है। BMR का मतलब होता है Basal metabolic rate अगर आपका BMR ज्यादा है तो आपको ज्यादा भूख लगेगी और अगर कम है तो आप कम खाना खाते हैं।