इस महामारी के दौर में हर इंसान अपने स्वास्थ्य को लेकर परेशान है। उनके मन में अपने स्वास्थ्य को लेकर कई जिज्ञासाएं हैं और उन जिज्ञासाओं को लेकर लोग पैनिक होते नज़र आ रहे हैं। लेकिन किसी को पैनिक होने की ज़रूरत नहीं है थोड़ी सी सावधानी बरतने से हम खुद को इस महामारी से सुरक्षित रख सकते हैं। इस वक्त हमारे शरीर के सभी अंगों का प्रॉपर काम करना बहुत ज़रूरी है। हेल्दी रहने के लिए ज़रूरी है हमारे फेफड़े अच्छी तरह काम करें। क्योंकि हमारे पूरे शरीर में ऑक्सीजन फेफड़ों से फिल्टर होने के बाद ही पहुंचती हैं। 

ऐसे समय में हमारे फेफड़े सही ढंग से काम करें तो ज़रूरी है हम लंग्स का खास ख्याल रखें। अगर हमारे फेफड़े सही ढंग से काम नहीं करेंगे तो हमें कोरोना संक्रमण के साथ-साथ अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, निमोनिया, टीबी, कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियां हो सकती हैं। ये बीमारियां सीधे हमारे लंग्स पर अटैक करती हैं जिससे सांस लेने में दिक्कत हो सकती है। तो ज़रूरी है हम अपने खानपान में कुछ बदलाव करें और उन चीज़ों से परहेज़ करें जो हमारे फेफड़ों के लिए नुकसानदेह है। इस विषय को लेकर हमने न्यूट्रिशनिस्ट और डाइट एक्सपर्ट स्वाति बथवाल से बात की। स्वाति ने बताया 'दैनिक जीवन में कुछ ऐसी चीज़े हम आसानी से इस्तेमाल कर तो रहें हैं लेकिन ये हम नहीं जानते कि वे किस हद तक हमारे फेफड़ों को नुकसान पहुंचाने का काम कर रही हैं।' तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि किन चीज़ों से परहेज़ कर कैसे हम अपने फेफड़ों को स्वस्थ रख सकते हैं। 

अल्कोहल

inside  achohol

अल्कोहल हमारी सेहत के लिए ठीक नहीं है। अल्कोहल का अधिक मात्रा में सेवन करने से ना सिर्फ हमारे फेफड़े बल्कि हमारा लिवर भी काफी हद तक डैमेज हो जाता है। क्योंकि अल्कोहल में सल्फाइट अधिक मात्रा में पाया जाता है। जो हमारे फेफड़ों को कमज़ोर करता है। साथ ही अगर कोई व्यक्ति फेफड़े संबंधी बीमारी से जूझ रहा है तो उसके लिए अल्कोहल का अधिक मात्रा में सेवन करना नुकसानदायक है। इसको लेकर स्वाति ने कहा 'इस महामारी के दौर में लोगों में ये मिथ भी फैला हुआ है कि शराब का सेवन करने से कोरोना संक्रमण नहीं होगा, जो गलत है। हमें अल्कोहल के सेवन से केवल कैलोरी मिलती हैं जिससे हमारा वज़न तेज़ी से बढ़ता है। जो हमारे फेफड़ों के लिए सही नहीं है इसलिए हमें अल्कोहल से परहेज़ करना चाहिए।' 

स्मोकिंग से रहें दूर

inside  smoking

बीड़ी, तंबाकू या धूम्रपान हमारे फेफड़ों के लिए बहुत हानिकारक है। क्योंकि लगातार धूम्रपान करने से हमारे शरीर के विभिन्न अंग प्रभावित तो होते हैं, साथ में शरीर में विटामिन-सी की मात्रा में भी कमी आती है। इसको लेकर स्वाति ने कहा 'एक शोध में पाया गया है कि जब आप पूरी एक सिगरेट खत्म करते हैं तो आपके शरीर में 25 मिलीग्राम विटामिन-सी कम हो जाता है।' तो ज़ाहिर है अगर आप दिन में 4 या उससे अधिक सिगरेट पीते हैं तो आपके शरीर से उतनी ही तेज़ी से विटामिन-सी की मात्रा घटेगी। स्वाति ने ये भी बताया ' हमारे शरीर को लगभग 75 मिलीग्राम विटामिन-सी चाहिए ही होता है।' ऐसे में कोरोना संक्रमण होने की संभावना और अधिक बढ़ जाएगी। तो अगर आप कोरोना वायरस से बचना चाहते हैं तो सिगरेट पीने से बचें। 

इसे ज़रूर पढ़ें- Expert Tips: पेट फूलने की समस्‍या में राहत पहुंचाएंगे ये 5 घरेलू नुस्‍खे

रासायनिक चीज़ों (फूड कलर) से करें परहेज़ 

inside  fppd colour

आज के दौर में रंगीले चटपटे जंक फूड खाने का चलन बहुत बढ़ गया है। किसी की पार्टी हो या शादी हर जगह रासायनिक चीज़ों का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या आपको पता है कि ये हमारे स्वास्थ्य के लिए कितने हानिकारक है? अगर आपके रंगीले चटपटे जंक फूड फेवरेट है तो आज ही इसका सेवन बंद कर दें। क्योंकि अब हर फूड और पेय में आर्टिफिशियल स्वाद देने के लिए रासायनिक चीज़ों का इस्तेमाल किया जा रहा है। तो हमें पैकेट की चीज़ों जैसे चिप्स, जैम, जेली, फ्रोज़ेन फूड, आइसक्रीम, चॉकलेट, पेय, पैक दूध के उत्पाद, स्वास्थ्य पेय, ऊर्जा पेय आदि से परहेज़ करना चाहिए। 

Recommended Video

बैड (अनहेल्दी) फैट्स को कहें ना 

inside  bad fats

हम अपनी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में बैड (अनहेल्दी) फैट्स यानी रिफाइंड तेल जिसे वेजिटेबल ऑयल  भी बोलते हैं जैसे सफोला, वनस्पति ऑयल आदि का अधिक सेवन करने लगे हैं। जो हमारी सेहत के लिए खतरनाक है। बैड फैट्स खाने से हमारा वज़न बहुत तेज़ी से बढ़ता है। अनहेल्दी फैट को लेकर स्वाति का कहना है ' ये फैट हमारे शरीर के लिए हानिकारक है इसकी जगह आप हेल्दी फैट्स जैसे मूंगफली का तेल,सरसों का तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। जिससे आपको न्यूट्रिशन मिलेगा और आपके फेफड़े मज़बूत रहेंगे।' साथ ही आप घी भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 

इसे ज़रूर पढ़ें-Expert: कोविड-19 संक्रमण के बीच डिलीवरी के बाद बरतें ये सावधानियां

 

मोटापे से बनाएं दूरी 

inside  fATS

हमारी गलत खानपान की वजह से लगभग हर दूसरा व्यक्ति मोटापे का शिकार है। मोटापा की वजह से हमें कई समस्याएं जैसे सांस लेने में दिक्कत या सांस का फूलना जैसी शिकायत  होने लग जाती है। मोटापे को लेकर स्वाति कहती हैं ' हमारे पेट के आसपास जमी चर्बी के कारण हमारी बॉडी ऊपर की तरफ पुश होती है। जिसका असर हमारे फेफड़ों पर पड़ता है।' इसलिए हमें अपने खानपान में ऐसी चीज़ों को शामिल करना चाहिए जो पौष्टिकता से भरपूर हो। 

कोरोना महामारी के दौर में अगर आप अपने फेफड़ों को फिट रखना चाहते हैं तो आप अपने दैनिक जीवन में इन चीज़ों का इस्तेमाल करना बंद कर दें। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image credit-freepik