शहद और हल्दी के कॉम्बिनेशन को आमतौर पर 'गोल्डन हनी' के रूप में जाना जाता है, यह आयुर्वेदिक चिकित्सा में वर्षों से इस्तेमाल किया जाने वाला उपाय है। हल्दी और शहद को हीलिंग पावरहाउस माना जाता है क्‍योंकि इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण प्रचुर मात्रा में होते हैं। यह आपकी हेल्‍थ के लिए बहुत अच्‍छा होता है। शहद और हल्दी दोनों का उपयोग कोल्‍ड और कफ, पाचन संबंधी समस्याओं, कटने, घाव, मसल्‍स और मोच के साथ-साथ कई अन्य हेल्‍थ और त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए किया जाता है। शहद और हल्‍दी का एक साथ सेवन करने से हमारी हेल्‍थ को क्‍या फायदे हो सकते हैं? इस बारे में हमें शालीमार बाग स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की सिमरन सैनी जी बता रही हैं।  

सिमरन सैनी जी का कहना है, ''हल्दी किचन में मौजूद एक मसाला है जिसमें असाधारण एंटीबायोटिक गुण हैं। करक्यूमिन से भरपूर होने के कारण इसमें तंत्रिका-तंत्र की रक्षा करने की क्षमता और एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीवायरल, एंटी-फंगल, एंटी-सेप्टिक गुण होते हैं जो रोग पैदा करने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करते हैं और हमारे शरीर की इम्‍यूनिटी को बढ़ाते हैं। साथ ही शहद हमारे पाचन तंत्र के लिए बहुत अच्छा होता है और प्राकृतिक एंटीबायोटिक की तरह काम करता है। यह एक प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट की तरह भी है और हमारी त्वचा और बालों की बनावट में सुधार करता है। इस प्रकार हल्दी और शहद मिलकर हमारे स्वास्थ्य के लिए गोल्‍डन अमृत का काम करते हैं।''

honey with turmeric benefits inside  

खांसी-जुकाम में फायदेमंद

शहद और हल्दी का सेवन न केवल खांसी को शांत करने में मदद करता है बल्कि कोल्‍ड और खांसी को भी दूर रख सकता है। हल्दी में करक्यूमिन होता है। यह एक ऐसा यौगिक है जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल और एंटीवायरल गुण होते हैं। थोड़ी सी काली मिर्च के साथ करक्यूमिन का सेवन करने से करक्यूमिन को ब्‍लड फ्लो में बेहतर तरीके से अवशोषित करने में मदद मिल सकती है। हल्दी बलगम के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करती है जो आपके श्वसन पथ को बंद करने वाले और संक्रमण से लड़ने वाले रोगाणुओं को बाहर निकालने में मदद करती है।

इसे जरूर पढ़ें:रोजाना हल्‍दी वाला पानी पीएंगी तो ये 5 समस्‍याएं हमेशा रहेंगी दूर 

अर्थराइटिस और सूजन के दर्द से राहत

हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो अर्थराइटिस के कारण होने वाले दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं, क्योंकि सूजन अर्थराइटिस के मुख्य कारणों में से एक है। शहद हल्दी दूध में काली मिर्च पाउडर के साथ पीने से इस समस्या में मदद मिल सकती है।

honey with turmeric inside

बेहतर नींद का वरदान

सोने से पहले हल्दी और शहद का दूध पीने से नींद अच्छी आती है। हल्दी में तनाव कम करने और मूड को बेहतर बनाने के गुण होते हैं। नींद की गुणवत्ता में सहायता के लिए इसका व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। शहद आपके शरीर में मेलाटोनिन के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है। मेलाटोनिन स्वाभाविक रूप से शरीर द्वारा निर्मित होता है और यह हार्मोन नींद-जागने के चक्र (सर्कैडियन लय) को विनियमित करने में मदद करता है। मेलाटोनिन आपको सोने नहीं देता है, लेकिन आपके शरीर को आराम की स्थिति में रखकर और आराम का एहसास कराकर नींद को बढ़ावा देता है।

हेल्‍दी और ग्‍लोइंग त्वचा के लिए

हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो त्वचा को फिर से जीवंत करने और उसे ग्‍लो देने में मदद करते हैं। शहद एक एक्सफोलिएटर के रूप में काम कर सकता है और त्वचा को नमीयुक्त रख सकता है। इसमें एंटीसेप्टिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं जो मुंहासे और ब्रेकआउट को रोकने में मदद करते हैं।

honey with turmeric drink inside

शहद हल्दी का ड्रिंक

सामग्री

  • गर्म पानी- 1 कप
  • आर्गेनिक हल्‍दी पाउडर- 1/2 छोटा चम्मच 
  • काली मिर्च- चुटकी भर
  • आर्गेनिक शहद

बनाने और लेने का तरीका

  • एक गिलास गुनगुने पानी में हल्दी पाउडर और शहद मिलाएं। 
  • इसे अच्छी तरह से मिक्‍स करें। 
  • इस मिश्रण का सेवन नाश्ते से आधा घंटा पहले खाली पेट लेना चाहिए।

हल्दी और शहद का फेस पैक

सामग्री

  • ऑर्गेनिक शहद- 1 बड़ा चम्मच 
  • ऑर्गेनिक हल्दी पाउडर- ½ छोटा चम्मच

बनाने और लगाने का तरीका

  • एक बाउल में शहद और हल्दी पाउडर डालकर अच्छी तरह मिला लें और एक महीन पेस्ट बना लें।
  • अपना चेहरा धो लें और इस मिश्रण को अपने चेहरे पर 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर पानी से धो लें और टॉवल से सुखा लें।

आप भी यह सभी फायदे पाने के लिए शहद और हल्‍दी के कॉम्बिनेशन का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। लेकिन हर किसी की बॉडी की तासीर अलग होती है इसलिए इसे इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार एक्‍सपर्ट से सलाह जरूर लें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।