सरसोप फ्रूट जिसे हिंदी में हनुमान फल या लक्ष्मण फल कहा जाता है। ये फल दिखने में लगभग शरीफा जैसा दिखता है। हालांकि अपने औषधीय गुणों की वजह से यह फल दूसरे फलों से काफी अलग है। फल के अलावा इसके पत्ते, जड़ें, और छाल का भी इस्तेमाल औषधी के रूप में किया जाता है। रिसर्च के मुताबिक इस फल में 212 फाइटोकेमिकल्स शामिल है, जिसमें एल्कलॉइड, फ्लेवनॉल ट्राइग्लिसराइड, और फेनोलोक्स जैसे तत्व शामिल हैं। 

वहीं यह सभी तत्व एंटीकैंसर, एंटी-इन्फ्लामेट्री, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीमाइक्रोबियल, और एंटीडायबिटिक तंत्र के लिए जरूरी माने जाते हैं। यह फल बाहर से जितना सख्त दिखता है अंदर से उतना ही टेस्टी और सुगंधित होता है। हालांकि इस फल के बीजों का सेवन कम किया जाता है। इसके अलावा हनुमान फल कैल्शियम, आयरन, मैग्निशियम, पोटैशियम, जिंक, और विटामिन सी आदि जैसे पोषक तत्वों से भरपूर है।

एंटी कैंसर गुण

soursop fruit cures cancer

हनुमान फल में कैंसर रोधी गुण होते हैं, जिसमें साइट टॉक्सिसिटी, नेक्रोसिस और विभिन्न प्रकार के कैंसर जैसे स्तन, प्रोस्टेट, कोलोरेक्टल आदि के खिलाफ प्रसार को रोकते हैं। इस फल में मौजूद फाइटोकेमिकल्स जैसे एसिटोजेनिन मुख्य रूप से कैंसर कोशिकाओं की वृद्धि में कमी और उनकी रोकथाम के लिए जिम्मेदार है। 

गठिया का दर्द

arthrities

गठिया के दर्द के इलाज के लिए भी हनुमान फल का उपयोग किया जाता है। गठिया के दर्द को दूर करने के लिए यह एक नेचुरल तरीका है, क्योंकि इसमें एंटी-इन्फ्लामेट्री गुण होते हैं। हनुमान फल का पौधा गठिया के दर्द से संबंधित उत्तेजनाओं को कम करने में मदद करती है, और सूजन की समस्या से भी निजात दिलाने में मदद करती है।

स्ट्रेस होगा दूर

picture of a soursop fruit

हनुमान फल डिप्रेशन और तनाव जैसी अन्य समस्याओं के उपचार के लिए बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है। वहीं अस्थमा या फिर सांस से जुड़ी बीमारियों से निजात पाने के लिए आप हनुमान पौधे के पत्तों का इस्तेमाल कर सकती हैं। रेस्पिरेटरी हेल्थ के लिए यह बेहद कारगर तरीका है।

मलेरिया का इलाज

treat maleria

हनुमान फल की पत्तियों में एंटी प्लाज्मोडियम एजेंट होता है जो रोगजनक परजीवियों पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं। रिसर्च के अनुसार हनुमान फल के पत्तों में मलेरिया फैलाने वाले प्रोटोजोआ परजीवी के खिलाफ एंटीमैरिलियल प्रभाव दिखाता है। अगर आप मलेरिया से पीड़ित है तो हनुमान फल के पत्तों का इस्तेमाल कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: बैड कोलेस्ट्रॉल कम करने में मददगार हैं पपीते के बीज, जानें इसके अचूक फायदे

ब्लड प्रेशर को करें मैनेज

high blood pressure

हाई ब्लड प्रेशर की वजह से हार्ट संबंधी बीमारियां होने का रिस्क बढ़ जाता है। हाई ब्लड प्रेशर की वजह से शरीर के अन्य अंगों पर भी प्रभाव पड़ता है। वहीं हनुमान फल में अच्छे पोषक तत्व होते हैं, जो शरीर में हाई ब्लड प्रेशर के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: पुई का साग खाने से दूर होगी आयरन की कमी, नियमित सेवन से होते हैं ये 5 फायदे

Recommended Video

हनुमान फल का ऐसे करें सेवन

how to eat a soursop fruit

हनुमान फल का सेवन आप डायरेक्ट कर सकती हैं। इसके लिए फल को दो हिस्सों में काट दें और उसके बीज को बाहर निकाल दें। चम्मच की मदद से इसका सेवन कर सकती हैं। इसके अलावा आप चाहें तो इसकी स्मूदी भी बना सकती हैं। वहीं सरसोप के पत्तों का इस्तेमाल आप चाय या फिर काढ़े के रूप में भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

आपको यह आर्टिकल अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें साथ ही साथ ही इसी तरह फैशन से जुड़े और आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।