खाने में नमक न हो तो उसका स्‍वाद फीका लगने लगता है। नमक खाने का स्‍वाद ही नहीं बढ़ाता बल्कि इसे सेहत से जोड़ कर भी देखा जाता है। ऐसे में नमक का शुद्ध और सेहतमंद होना बेहद जरूरी है। बाजार में आपको नमक की कई वैरायटी देखने को मिल जाएगी। आप अलग-अलग तरह से नमक की इन सभी वैरायटी का प्रयोग कर सकती हैं। मगर बात जब डेली रूटीन की आती हैं तो आपको अपने आहार में सेंधा नमक को शामिल करना चाहिए। इसे रॉक सॉल्‍ट भी कहते हैं। अमूमन घरों में सेंधा नमक को केवल व्रत के खाने में इस्‍तेमाल किया जाता है। मगर आप इसे नियमित रूप से अपनी हर मील का हिस्‍सा बना सकती हैं। 

यह हम नहीं कह रहे हैं बल्कि न्‍यूट्रिशनिस्‍ट डॉक्‍टर शिखा शर्मा ने इससे जुड़ी एक पोस्‍ट अपने इंस्‍टाग्राम पेज पर शेयर की है। वह लिखती हैं, ' लोग अपनी सेहत को दुरुस्‍त रखने के लिए अपनी डाइट में पौष्टिक आहार और हर्ब्‍स को शामिल करते हैं, मगर नमक एक बहुत ही जरूरी मसाला है, जिसे आहार में शामिल करना जरूरी है। मगर डाइट में हमेशा सेंधा नमक को ही शामिल करें। इसके कई फायदे हैं।'

डॉक्‍टर शिखा रॉक सॉल्‍ट के अद्भुत फायदे भी बताती हैं- 

how to use rock salt

ऐंठन की समस्‍या होती है दूर 

कई लोगों को रात में सोते वक्‍त या उठते-बैठते हाथ , पैर और पीठ में ऐंठन की समस्‍या हो जाती है। यह कमजोर मांसपेशियों की वजह से होता है। अगर आपके शरीर को इलेक्‍ट्रोलाइट बैलेंस्‍ड नहीं है तो आपको शरीर में ऐंठने की समस्‍या हो सकती है। ऐसे में अगर आप अपनी डाइट में नियमित रूप से सेंधा नमक का इस्‍तेमाल करती हैं तो इस समस्‍या से बच सकती हैं क्‍योंकि सेंधा नमक में इलेक्‍ट्रोलाइट होता है। 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: रोज पीएंगी नारियल पानी तो बॉडी में होंगे 5 बड़े सुधार

 

ब्‍लड शुगर लेवल को रखता है कंट्रोल 

शुगर के मरीजों के लिए शरीर में सोडियम के स्‍तर को बैलेंस रखना अति आवश्‍यक होता है। ऐसे में सेंधा नमक खाने से आपकी शुगर नियंत्रित रहती है। सेंधा नमक खाने से हाई ब्‍लड प्रेशर वालों को भी फायदा होता है। अगर आप हार्ट के मरीज हैं तो सही मात्रा में यदि आप सेंधा नमक का सेवन करेंगे तो हार्ट स्‍ट्रोक के खतरे को भी टाला जा सकता है। 

Uses of Sendha Namak

त्‍वचा के लिए होता है फायदेमंद 

त्‍वचा के लिए भी सेंधा नमक किसी वरदान से कम नहीं है। खासतौर पर अगर आपको मुंहासों की समस्‍या है तो आपको नियमित रूप से अपने हर वक्‍त के भोजन में सेंधा नमक को ही इस्‍तेमाल करना चाहिए। आप चाहें तो सेंधा नमक का स्‍क्रब तैयार कर के त्‍वचा को एक्‍सफोलिएट भी कर सकती हैं क्‍योंकि यह डेड स्किन सेल्‍स को रिमूव करता है। 

पाचन तंत्र के लिए होता है अच्‍छा 

यदि खना अच्‍छे से न पचे तो ब्‍लोटिंग, बदहजमी, एसिडिटी और फूड पॉइजनिंग तक हो सकती है। यह सभी समस्‍याएं पेट से जुड़ी हैं। इसलिए बहुत जरूरी है कि आप पौष्टिक आहार का सेवन करें, जिसमें सही मात्रा में अच्‍छा नमक पड़ा हो, जिसमें सभी जरूरी पोषक तत्‍व हों। ऐसे में सेंधा नमक से बेहतर और क्‍या हो सकता है क्‍योंकि इसमें इलेक्‍ट्रोलाइट्स, विटामिन्‍स, मिनरल्‍स आदि सभी कुछ होता है। 

इसे जरूर पढ़ें: सुबह उठ कर सबसे पहले मलाइका पीती हैं ये खास पानी, जानें हेल्‍थ बेनिफिट्स

rock salt nutrition

गले की खराश होती है दूर 

बदलते मौसम और ठंडी चीजों का ज्‍यादा सेवन करने पर गले में खराश हो जाती है। दरअसल गले में बैक्‍टीरिया के पनपने और कफ होने के कारण ऐसा होता है। वैसे तो गले की खराश को खत्‍म करने के बहुत सारे उपाय हैं, मगर इसका सबसे आसान और सस्‍ता उपाय है सेंधा नमक के गरम पानी से गरारे करना। इससे गले की बहुत अच्‍छी सिकाई होती है। सेंधा नमक एंटी-बैक्‍टीरियल होता है और यह गले में मौजूद खराश पैदा करने वाले बैक्‍टीरिया को भी नष्‍ट करता है। साथ ही यह एंटी-इंफ्लेमेंटरी होता है और गले में यदि कोई सूजन है तो उसे भी खत्‍म कर देता है।  

Recommended Video

नोट- सेंधा नमक में आयरन कम होता है इसलिए उसकी भरपाई के लिए आपको अपने आहर में आयरन की मात्रा को बढ़ाना होगा वरना आयोडीन की कमी से आपके शरीर को नुक्‍सान पहुंच सकता है।  

यह जानकारी आपको अच्‍छी लगी हो तो आर्टिकल को शेयर और लाइक करें। साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स देखने के लिए पढ़ती रहें हरजिंदगी। 

Image credit: Freepik