हेल्‍दी रहने के लिए हमारे बुजुर्ग हमें रोजाना 1 कटोरी दाल खाने की सलाह देते हैं। यहां तक भी डॉक्‍टर भी हेल्‍दी रहने के लिए दाल खाने की सलाह देते हैं, क्‍योंकि दाल में प्रोटीन के अलावा बहुत अधिक मात्रा में पोषक तत्‍व होते हैं। आज हम आपको हरी मूंग की दाल के बताने जा रहे है। यह दाल सेहत के लिए अच्‍छी माना जाती है। इसका इस्‍तेमाल कई लोग स्‍प्राउट के रूप में भी करते हैं। इस दाल में हेल्‍थ के लिए जरूरी फ्लेवोनोइड्स, फेनोलिक एसिड, कार्बनिक एसिड, अमीनो एसिड, कार्बोहाइड्रेट और लिपिड जैसे पोषक तत्वों पाए जाते है। इसके अलावा, इसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटीमाइक्रोबियल, एंटीइंफ्लेमेटरी, एंटीडायबिटिक गुण भी पाए जाते हैं, जो कई बीमारियों को दूर करने में मददगार होते हैं। मूंग दाल को डाइट में शामिल करने से मसल्स मजबूत होते हैं और एनीमिया दूर होता है। आइए इसके फायदों के बारे में विस्‍तार से जानें। 

मूंग दाल हमारे लिए कैसे हेल्‍थ के लिए कैसे फायदेमंद हो सकती हैं यह जानने के लिए हमने शालीमार स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की सिमरन सैनी से बात की तब उन्‍होंने हमें इसके फायदों के बारे में बताया। आइए जानें उन्‍होंने क्‍या कहा? 

इसे जरूर पढ़ें: दवाओं से नहीं इन 3 आयुर्वेदिक टिप्‍स से करें अपनी डायबिटीज कंट्रोल

mong dal health benefits Inside

सिमरन सैनी जी का कहना हैं कि ''पोटेशियम, मैग्नीशियम, फोलेट, विटामिन बी 6, आयरन और फाइबर जैसे हेल्‍दी पोषक तत्वों से भरपूर दाल, हमारी बॉडी के लिए हेल्‍दी पोषक तत्वों का एक बहुत अच्छा स्रोत है। पचने में आसान होने के कारण इससे पेट फूलने से बचता है और हरी मूंग की दाल हमारे डाइजेशन के लिए अच्छी होती है। साथ ही एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण यह हमारी बॉडी में किसी भी सूजन और इंफेक्‍शन के होने की संभावना को कम करने में हेल्‍प करती है। हरे मूंग में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट Vitexin और Isovitexin हमारे दिल की रक्षा करने में हेल्‍प करते हैं। इसके अलावा हाई फाइबर का लेवल "खराब" एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में हेल्‍प करता है, हृदय रोग के जोखिम को कम करता है और डायबिटीज जैसी स्वास्थ्य स्थितियों के जोखिम को कम करता है।''

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर

मूंग दाल में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। साथ ही मूंग की दाल में कुछ फ्लेवोनॉयड्स पाए जाते हैं। ये गुण ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को दूर करने में हेल्‍प करते है। स्‍ट्रेस से बचने के लिए अपनी डाइट में दाल को शामिल करें।

डायबिटीज कंट्रोल करें

diabetes control

डायबिटीज की समस्या ब्‍लड में मौजूद शुगर के लेवल बढ़ने के कारण होती है। इस समस्या से बचने के लिए मूंग दाल का सेवन किया जा सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें: Ladies के लिए किसी magic से कम नहीं है ये 5 तरह की दालें

डाइजेशन में सुधार

मूंग में फाइबर और प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है, जो डाइजेशन को ठीक रखने के लिए जरूरी है।

 

कोलेस्‍ट्रॉल को कम करें

हाई फाइबर का लेवल "खराब" एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में हेल्‍प करता है। यह कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकने के साथ ही इसके लेवल को कम करने में फायदेमंद होता है! 

प्रेग्‍नेंसी में फायदेमंद

pregnancy inside

प्रेग्‍नेंसी के दौरान महिलाओं को भरपूर मात्रा में फोलेट खाने की सलाह दी जाती है क्‍योंकि फोलेट की कमी होने से मां और शिशु दोनों को समस्या हो सकती है। वहीं, भूण के विकास के लिए भी फोलेट जरूरी है। मूंग की हरी दाल में फोलेट भरपूर मात्रा में पाया जाता है। 

यह फायदे पाने के लिए आप भी अपनी डाइट में 1 कटोरी दाल शामिल करें। ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हर जिंदगी से जुड़े रहें।