आप जो भी भोजन करते हैं वह आपके संपूर्ण स्वास्थ्य और फिटनेस के लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जिस तरह से जंक फूड्स और ज्यादा तेल मसाले से भरपूर खाने की सामग्रियां सेहत को नुकसान पहुंचा सकती हैं उसी तरह से संतुलित आहार आपको मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए आपके शरीर और दिमाग को आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करने में मदद करते हैं। यह शरीर के वजन को नियंत्रित रखने के अलावा पाचन में भी सुधार करते हैं। 

ऐसे ही पौष्टिक आहारों में से हैं दालें। डालें हमारे स्वास्थ्य के लिए मुख्य रूप से फायदेमंद हैं। जहां दालों को आहार में शामिल करने से कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं वहीं दाल का पानी भी कई तरह से सेहत के लिए रामबाण है। इसलिए एक्सपर्ट्स नियमित आहार में दाल का पानी शामिल करने की सलाह देते हैं। आइए इस लेख में नई दिल्ली की जानी मानी डॉक्टर आकांक्षा अग्रवाल (BHMS) से जानें दाल का पानी पीने के कुछ ऐसे हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में जिन्हें जानकर आप भी इसे अपनी नियमित डाइट का हिस्सा जरूर बनाएंगे। 

पाचन को सुचारू रखे दाल का पानी 

dal ka pani digestion

दाल के पानी में मौजूद फाइबर तत्व पाचन तंत्र को सुचारू बनाए रखने में मदद करते हैं। ये उन लोगों के लिए भी फायदेमंद है जिन्हें कब्ज और गैस की समस्या है। यह शरीर की कब्ज की समस्या को दूर करके मल त्याग की प्रक्रिया को आसान बनाने में मदद करते हैं। इसलिए पेट संबंधी कोई भी समस्या होने पर अपनी डाइट में दाल का पानी जरूर शामिल करें। 

इसे जरूर पढ़ें:उपवास के समय दिनभर शरीर में रहेगी ताकत, व्रत के लिए बेस्ट हैं ये 5 चीज़ें

प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है दाल का पानी 

दाल का पानी अमीनो एसिड से भरपूर होता है जो उन्हें प्रोटीन का समृद्ध स्रोत बनाता है। प्रोटीन हमारे शरीर की समग्र शक्ति को बढ़ाने और इसकी मरम्मत और रखरखाव शक्ति में सुधार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसलिए, यदि आप रोजाना बहुत अधिक शारीरिक गतिविधि करते हैं, तो अपने आहार में दालों का पानी जरूर शामिल करें।  

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर दाल का पानी 

दालें, बीन्स और दाल में पॉलीफेनोल्स प्रचुर मात्रा में होते हैं, जो उन्हें अच्छा एंटीऑक्सीडेंट बनाते हैं। चयापचय के दौरान उप-उत्पाद के रूप में उत्पादित मुक्त कणों के खिलाफ आपके शरीर की कोशिकाओं की रक्षा के लिए एंटीऑक्सीडेंट आवश्यक हैं। एंटीऑक्सीडेंट की अनुपस्थिति में शरीर खराब स्वास्थ्य का शिकार हो सकता है। इसलिए एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर दाल का पानी कई तरह से शरीर की बीमारियों से सुरक्षा करता है। 

डायबिटीज के खतरे को कम करे दाल का पानी 

control diabetes

दालों और फलियों को ग्लाइसेमिक इंडेक्स में कम स्थान दिया गया है, जिसका अर्थ है कि वे आपके रक्त शर्करा के स्तर में न्यूनतम वृद्धि का कारण बनते हैं। इसलिए जो लोग नियमित रूप से दाल और उसके पानी का सेवन करते हैं उन्हें मधुमेह होने की संभावना कम हो सकती है और यदि आपको पहले से ही डायबिटीज है, तो आप रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए अपने दैनिक आहार में दालों के पानी को शामिल कर सकती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:रात को सोने से पहले पिएं हल्दी वाला दूध और पाएं खिला-खिला चेहरा

पोषक तत्वों से भरपूर दाल का पानी 

सभी तरह की दालें  जैसे अरहर दाल, मूंग दाल, मसूर दाल या फिर राजमा कई पोषक तत्वों जैसे प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम आदि का एक समृद्ध स्रोत होती हैं। दालें शरीर में आयरन, जिंक, फोलेट और मैग्नीशियम जैसे खनिजों की भी आपूर्ति करती हैं इसलिए आपके आहार में किसी भी रूप में इन्हें शामिल करना स्वस्थ जीवन शैली जीने में मदद कर सकता है। जब हम दाल के पानी की बात करते हैं तब ये शुरुआती उम्र से ही शरीर के लिए लाभदायक होती हैं। दाल का पानी इन सभी पोषक तत्वों के साथ प्रोटीन से भरपूर होता है। यह पचने में आसान होने के साथ किसी भी उम्र के लोगों के लिए प्रभावी रूप से काम करता है। प्रतिदिन दाल के पानी का सेवन करने से शरीर को सभी तरह के आवश्यक विटामिन और खनिज तत्व मिलते हैं। 

वजन नियंत्रित करे दाल का पानी 

weight control dal pani

दालों में फाइबर और प्रोटीन की भरपूर मात्रा होरी है, जो शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्व होते हैं। वे शरीर के लिए आवश्यक स्टार्च की आपूर्ति करते हैं और संतुष्टि की भावना पैदा करते हैं। यह किसी व्यक्ति की भूख को नियंत्रित करने में मदद करता है और अधिक खाने से रोकता है, जो बदले में मोटापे के जोखिम को कम करता है। अपने दैनिक आहार में दालों के पानी को शामिल करना वजन घटाने का एक बेहतरीन तरीका है। जब आप एक गिलास दाल के पानी का सेवन करती हैं तब यह बहुत देर तक पेट को भरा महसूस कराता है जिससे भूख का एहसास नहीं होता है। 

Recommended Video

कैसे बनाएं दाल का पानी 

इसके लिए आप जो भी दाल बना रही हैं जैसे मूंग, मसूर या अरहर की दाल, उसे अच्छी तरह से धोकर 30 मिनट के लिए साफ़ पानी में भिगोकर रख दें। 30 मिनट बाद इसे पकाने के लिए आवश्यकता से थोड़ा ज्यादा पानी डालें और दाल को पकने के लिए गैस में रख दें। जब दाल पक जाए तब उसमें से पानी अलग कर लें और इसका नियमित रूप से सेवन करें। ये पानी वास्तव में कई स्वास्थ्य लाभों से भरपूर होता है। 

उपर्युक्त सभी कारणों से आपको अपनी नियमित डाइट में दाल का पानी जरूर शामिल करना चाहिए लेकिन स्वास्थ्य संबंधी कोई अन्य समस्या होने पर इसके सेवन से पहले विशेषज्ञ की सलाह लेना न भूलें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik