जिमीकंद, जिसे कुछ लोग सूरन के नाम से भी जानते हैं, दक्षिण एशिया में पाई जाने वाली एक बहुत ही लोकप्रिय सब्जी है। भारत के धार्मिक महाकाव्यों में इसका उल्लेख है। राम, सीता और लक्ष्मण के निर्वासन के समय के दौरान उनके पोषण और भोजन के प्रमुख स्रोत के रूप में इसका उपयोग किया जाता था। जिमिकंद केवल एक सामान्य जड़ सब्जी नहीं है बल्कि यह एक बहुमूल्य जड़ीबूटी है जो सभी को स्वस्थ एवं निरोग रखने में मदद करती है। इसके हेल्‍थ से जुड़े कई फायदे हैं। यह विटामिन्‍स, मिनरल्‍स, फाइबर और हेल्‍दी फैटी एसिड का एक समृद्ध स्रोत है।

यह पोटेशियम और मैग्नीशियम से भरपूर होता है जो फास्फोरस, कैल्शियम, आयरन, कॉपर, सेलेनियम और जिंक के रूप में मिनरल्‍स का एक अच्छा स्रोत है। जिमीकंद एंटीऑक्सीडेंट और पॉलीफेनोल का एक समृद्ध स्रोत है जो फ्री रेडिकल्‍स गिरावट और ऑक्सीकरण को रोकने में बायोलॉजिकल रूप से सकारात्मक प्रभाव डालता है। इसमें विटामिन बी 6, विटामिन सी, और ए हाई लेवल में होते हैं। यह विटामिन बी 1 और बी 2 का एक अच्छा स्रोत है। यह ओमेगा 3 फैटी एसिड और आणविक हार्मोन डायोसजेनिन का एक मध्यम स्रोत है, जिसका एंटी-कैंसर प्रभाव होता है। क्‍या सच में जिमिकंद हमारी हेल्‍थ के लिए इतना फायदेमंद हो सकता है, इस बारे में हमें MY22BMI की न्‍यूट्रिशनिस्‍ट और फाउंडर Ms.Preety Tyagi जी बता रही हैं।

वेट लॉस में मददगार

yam for weight loss inside

जिमीकंद का इस्‍तेमाल आप वजन कम करने के लिए कर सकती हैं। जी हां जिमीकंद में मौजूद फ्लेवोनॉयड अपने एंटी-ओबेसिटी गुणों के लिए जाना जाता है जो मोटापा और फैट को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा जिमीकंद में फाइबर और कार्बोहाइड्रेट की भरपूर मात्रा होती है और कैलोरी बहुत कम होती है। इसलिए इसे खाने के बाद लंबे समय तक भूख नहीं लगती है।

इसे जरूर पढ़ें:महिलाओं के लिए सुपरफूड है मेथी का पराठा, सर्दियों में खाने से मिलते हैं कई फायदे

खून की कमी दूर करें

शरीर में आयरन और फोलेट की कमी एनीमिया का कारण बनती है। ऐसे में आपको अपनी डाइट में जिमीकंद को शामिल करना चाहिए। जिमीकंद आयरन के साथ-साथ फोलेट से भी भरपूर होता है और शरीर में इन दो खास पोषक तत्वों की पूर्ति इस फूड की मदद से पूरी की जा सकती है।

तनाव दूर करें

yam for stress inside

जिमीकंद को तनाव दूर करने का अच्‍छा घरेलू उपाय माना जाता है क्‍योंकि इसमें तनाव विरोधी गुण होते हैं। साथ ही इसमें विटामिन ए और पोटेशियम व आयरन होता है जो शरीर को एनर्जी देता है और आपके मूड में बदलाव करता है। साथ ही यह थकान दूर करने में भी मदद करता है। 

एंटीऑक्सीडेंट गुण 

जिमीकंद में एंटीऑक्सीडेंट के साथ-साथ एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो शरीर को कई बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं। जिमीकंद एंटीऑक्सीडेंट रक्षा प्रणाली को बढ़ावा देकर और सूजन को कम करके कोलन कैंसर से बचाव कर सकता है।

डायबिटीज में सहायक

yam for diabetes inside

डायबिटीज के रोगियों के लिए जिमीकंद बहुत फायदेमंद होता है। इसमें कुछ ऐसे तत्‍व पाए जाते हैं जो ब्‍लड शुगर के लेवल को कम करने में मदद करते हैं। जिमीकंद लिपिड प्रोफाइल को सुधारने के साथ ही ब्लड शुगर को कंट्रोल करके डायबिटीज से बचाव में फायदेमंद हो सकता है। इसके अलावा इसमें फाइबर की भी अच्छी मात्रा होती है और यह लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स की श्रेणी में आता है।

कैंसर से बचाव

yam for cancer inside

कैंसर से बचाव के लिए जिमीकंद का उपयोग किया जा सकता है। कैंसर एक खतरनाक बीमारी है जिसका अगर सही समय पर इलाज न किया जाए तो इंसान की जान भी जा सकती है। कैंसर के ट्यूमर को बनने से रोकने के लिए जिमीकंद फायदेमंद साबित हो सकता है। जिमीकंद में फाइबर और एंटी ऑक्‍सीडेंट बहुत अधिक मात्रा में होता है जो कैंसर सेल्‍स की सुरक्षा करता है। इसके अलावा जिमीकंद में एल-अर्जिनिन यौगिक होता है जो इम्‍यूनिटी को बढ़ाकर कैंसर की रोकथाम में अहम योगदान देता है। लेकिन इस बात को हमेशा ध्‍यान में रखें कि जिमीकंद कैंसर का इलाज नहीं है।

इसे जरूर पढ़ें: घर पर आसान तरीके से कैसे बनाएं सूरन का अचार, जानें इसकी रेसिपी

Recommended Video

स्किन और बालों के लिए अच्‍छा   

जिमीकंद हेल्‍थ के साथ-साथ त्‍वचा के लिए भी बहुत अच्‍छा होता है। जिमीकंद में विटामिन-ए और नियासिन होते हैं। ये दोनों पोषक तत्व त्वचा को हेल्‍दी रखने में सहायक माने जाते हैं। जिमीकंद का सेवन बालों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि इसमें विटामिन-बी6 पाया जाता है। विटामिन-बी6 के सेवन से बालों की स्थिति में सुधार होता है।

जिमीकंद खाने का तरीका

jimikand benefits for weight loss inside

  • इसकी सब्जी बनाकर सेवन किया जा सकता है।
  • अचार बनाकर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • पकौड़े बनाकर आप इसे आसानी से खा सकती हैं।

आप भी इसे अपनी डाइट में शामिल करके हेल्‍थ से जुड़ी कई समस्‍याओं को दूर कर सकती हैं। आपको यह आर्टिकल कैसे लगा? हमें कमेंट करके जरूर बताएं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image credit: Freepik.com