• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial

एक्सपर्ट से जानिए, किन लोगों को नहीं करनी चाहिए कीटो डाइट

ऐसे कई लोग होते हैं, जिन्हें कीटो डाइट ना करने की सलाह दी जाती है। जानिए इस लेख में।   
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -07 May 2022, 10:36 ISTUpdated -07 May 2022, 10:36 IST
Next
Article
Keto Diet side effects m

आज के समय में लोग अपना वजन कम करने के लिए तरह-तरह की डाइट को फॉलो करते हैं और इन्हीं पॉपुलर डाइट में से एक है कीटो डाइट। यह एक हाई फैट और लो कार्ब डाइट है, जिसमें आप अपने खाने से करीबन 75 प्रतिशत फैट, 5-10 कार्ब्स और 20 प्रोटीन लेते हैं। इस डाइट में कार्ब की मात्रा कम होने पर शरीर अपनी एनर्जी के लिए फैट निर्भर होता है।

अधिक फैट डाइट में लेने से शरीर में धीरे-धीरे कीटोन्स बनने लग जाते हैं। यह कीटोन्स आपके शरीर में मौजूद फैट को बर्न करके आपको एनर्जी देते हैं, जिससे धीरे-धीरे वजन कम होना शुरू हो जाता है। पिछले कुछ वक्त में पूरी दुनिया में लोगों ने वजन कम करने के लिए कीटो डाइट का सहारा लिया है। लेकिन हर किसी के लिए कीटो डाइट सही नहीं होती है। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डायटीशियन रितु पुरी आपको बता रही हैं कि किन लोगों को कीटो डाइट फॉलो नहीं करनी चाहिए-

प्रेग्नेंट और स्तनपान करवाने वाली महिलाएं

, Keto Diet side effects

अगर आप गर्भवती हैं या फिर हाल ही प्रसव के बाद स्तनपान करवा रही हैं, तो ऐसे में आपको वेट लॉस के लिए कीटो डाइट को फॉलो नहीं करना चाहिए। दरअसल, जब आप गर्भवती होती हैं, तो आपके गर्भ में शिशु ग्रोइंग एज में होता है।

वहीं, अगर आप इस दौरान लो कार्ब डाइट लेती है, तो शरीर में पर्याप्त मात्रा में एनर्जी पैदा नहीं हो पाती है। साथ ही, कीटो डाइट से जब शरीर में कीटोन्स बनते हैं और फैट ब्रेकडाउन होता है, तो उसका सीधा असर बच्चे की ग्रोथ पर पड़ता है। अगर महिला के शरीर में कार्ब के कारण कम कैलोरी होगी, तो इससे बच्चे की ग्रोथ सही तरह से नहीं होगी। इतना ही नहीं, इससे बच्चे को जन्म के समय से ही कुछ हेल्थ इश्यूज भी हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः महिलाएं प्रेग्‍नेंसी और पीरियड्स के दौरान कर सकती हैं ये 3 योग

हेल्थ सर्जरी करवाने के बाद ना करें कीटो डाइट

अगर आपको कोई हेल्थ इश्यूज है और उसके लिए आपने कोई सर्जरी करवाई है, तो उसके तुरंत बाद भी कीटो डाइट फॉलो करने से बचें। दरअसल, जब आप कोई सर्जरी करवाते हैं, तो आपके शरीर को स्पीडी रिकवरी की जरूरत होती है। जिसके कारण आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैलोरी, विटामिन्स, मिनरल्स प्रोटीन, फैट आदि की जरूरत होती है।

लेकिन जब आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में सपोर्ट नहीं मिलेगा तो इससे आपकी बॉडी की सही तरह से रिकवरी नहीं होगी। इसलिए, अगर आपकी सर्जरी हुई है, तो ऐसे में आपको कम से कम तीन महीने के बाद ही कीटो डाइट को शुरू करना चाहिए। साथ ही, किसी भी डाइट को शुरू करने से पहले आपको एक बार अपने डॉक्टर से भी अवश्य सलाह लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़ेंः 'प्रेग्नेंट बॉलीवुड एक्ट्रेस' जिनकी प्रेगनेंसी की गलत खबरों ने बटोरी सुर्खियां

18 साल से कम उम्र के बच्चे ना करें कीटो डाइट

, Keto Diet side effects ()

18 साल से कम उम्र के बच्चों को भी कीटो डाइट फॉलो करने की सलाह दी जाती है। दरअसल, 18 साल से कम उम्र के बच्चे अपनी ग्रोइंग एज में होते हैं और इसलिए उन्हें बैलेंस्ड कार्ब्स, प्रोटीन व फैट आदि की जरूरत होती है। ऐसे में अगर वह कार्ब्स आदि को लेकर खुद को प्रतिबंधित करते हैं, तो इससे उनकी ग्रोथ पर विपरीत असर पड़ता है। (हेल्दी और स्ट्रॉन्ग रहने के लिए अपना सकती हैं ये डाइट ट्रिक्स)

वहीं, अगर बच्चे ओवरवेट हैं, तब भी उन्हें कीटो डाइट या अन्य किसी डाइट को फॉलो नहीं करना चाहिए। हालांकि, वह अपने वजन को मेंटेन करने के लिए लो-कैलोरी बैलेंस्ड डाइट ले सकते हैं। लेकिन कीटो डाइट या लो कार्ब डाइट आदि उन्हें फॉलो नहीं करनी चाहिए।

Recommended Video

डायबिटीज से पीड़ित व्यक्ति ना करें कीटो डाइट

, Keto Diet side effects ()

अगर किसी व्यक्ति को टाइप 1 डायबिटीज है या किसी को टाइप 2 डायबिटीज है और वह शुगर को कण्ट्रोल करने के लिए इंसुलिन ले रहे हैं, उन्हें भी कीटो डाइट फॉलो नहीं करनी चाहिए। यूं तो मधुमेह पीड़ित व्यक्ति की डाइट लो कार्ब डाइट होती है। फिर भी उन्हें शरीर की सही तरह से फंक्शनिंग के लिए फाइबर रिच कार्ब्स या कॉम्पलैक्स कार्ब की जरूरत होती है। अगर ऐसे लोग कीटो डाइट फॉलो करते हैं, तो उन्हें कई तरह के हेल्थ इश्यूज हो जाते है। ऐसे लोग हाई प्रोटीन डाइट, लो कार्ब डाइट ले सकते हैं, लेकिन उन्हें कीटो डाइट नहीं लेनी चाहिए।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

Image Credit- freepik

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।