आज के समय में बढ़ती व्यस्तता और खान-पान में लापरवाही की वजह से असमय ही बहुत सारी बीमारियां घेर लेती हैं। आरामतलबी वाले लाइफस्टाइल और रात में देरी से सोने की वजह से हमें अपनी डाइट से पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाता। बहुत सी महिलाएं तसल्ली से खाने के लिए भी पर्याप्त वक्त नहीं निकाल पातीं। अच्छी डाइट ना सिर्फ आपकी हेल्थ इंप्रूव करती है, बल्कि इससे आपका एनर्जी लेवल भी मेंटेन होता है, आप दिनभर पॉजिटिव फील करती हैं और अपने रोजमर्रा के कामों पर बेहतर तरीके से फोकस कर पाती हैं। अगर महिलाएं अपनी और अपने परिवार की सेहत बरकरार रखना चाहती हैं तो एक्टिव लाइफस्टाइल अपनाने के साथ-साथ अपनी डाइट इंप्रूव करने पर भी ध्यान देने की जरूरत होती है। आइए जानें ऐसी 5 डाइट ट्रिक्स, जिनके जरिए आप अपने और अपने परिवार की हेल्थ मेंटेन कर सकती हैं -

बनाएं अपना डाइट प्लान

डाइट प्लान एक तरह का टाइम-टेबल है, जिसके तहत आप यह प्लान करती हैं कि आप दिन के कौन से पहर में कौन सा फूड आइटम लेंगी, फ्रूट्स और खाने के बीच में कितना गैप रखेंगी, सुबह और रात के समय में क्या-क्या चीजें शामिल करेंगी। अच्छे डाइट प्लान में कई तरह के फूड आइटम शामिल होते हैं और इससे आपको कई तरह के पोषक तत्व मिलते हैं।

अपना डाइट प्लान ना सिर्फ बनाएं, बल्कि उस पर अमल भी करें। इसमें आपको काफी अनुशासित रहने की जरूरत होगी। बीच में स्नैक्स लेना अवॉइड करें, क्योंकि इससे आपकी भूख प्रभावित होती है, जिसकी वजह से पर्याप्त न्यूट्रिशन शरीर को नहीं मिल पाता।

इसे जरूर पढ़ें: शहद और सेब से किस तरह से आसानी से कर सकती हैं वेट लॉस, जानिए 

अपनी डाइट में कम करें सैच्युरेटेड फैट्स  

सैच्युरेटेड फैट्स बैड फैट के तौर पर भी जाने जाते हैं, क्योंकि इनकी वजह से कार्डियोवेस्कुलर डिजीज जैसे कि ओबिसिटी, डायबिटीज, हाइपरटेंशन, हार्ट अटैक जैसी समस्याएं हो सकती हैं। चिप्स, पिज्जा, बर्गर, फ्रेंच फ्राइज, पास्ता आदि में सैच्युरेटेड फैट ज्यादा मात्रा में होते हैं, इसलिए इन्हें सीमित मात्रा में लेना ही बेहतर है। इससे आपकी हेल्थ बहुत हद तक अच्छी रहेगी। 

संतुलित आहार लेने से रहेंगी सेहतमंद

eat balance diet inside

कोशिश करें कि अपनी डाइट में हर तरह के फूड आइटम शामिल करें। बैलेंस डाइट में तीन मैक्रोन्यूट्रिएंट होने जरूरी हैं-कार्बोहाइट्रेड्स, प्रोटीन और विटामिन्स। ये तीनों ही जरूरी हैं और सही मात्रा में लिए जाने चाहिए। अगर ये न्यूट्रिएंट्स कम मात्रा में लिए जाएं तो इससे कुपोषण की समस्या हो सकती है। इसके लिए आप न्यूट्रिशनिस्ट की मदद ले सकती हैं और उनकी सलाह पर अपना डाइट प्लान बना सकती हैं। 

लिक्विड डाइट ज्यादा लें

tricks to stay healthy have liquid diet inside

हमारे शरीर की मेटाबॉलिक एक्टिविटी बनाए रखने के लिए शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा जाना बेहद जरूरी है। इसके लिए कोशिश करें कि ज्यादा मात्रा में लिक्विड डाइट लें। सूप, रसीली सब्जी, सांभर, दाल, खिचड़ी जैसी चीजें इस लिहाज से काफी अच्छी हैं। इसके अलावा दिन में 7-8 गिलास पानी भी पिएं। पानी खाना खाने के कुछ देर बाद पिएं और धीरे-धीरे पिएं। इससे आपका शरीर पानी को बेहतर तरीके से एब्जॉर्ब कर पाएगा। इसके अलावा आप जूस और ड्रिंक्स भी ले सकती हैं, जिससे शरीर की पानी की कमी पूरी होती है। 

नमक और चीनी की मात्रा पर रखें काबू

अगर डाइट में नमक और चीनी का संतुलन ना हो तो इससे भी आप कई तरह की लाइफस्टाइल डिजीज की शिकार हो सकती हैं। चीनी में disaccharide पाया जाता है, जो एक तरह का कार्बोहाइट्रेड्टस है, वहीं नमक एक मिनरल है, जो शरीर के लिए महत्वपूर्ण है। ज्यादा चीनी लेने से डायबिटीज हो सकती है, जबकि ज्यादा नमक लेने से हाइपरटेंशन और दूसरी कार्डियोवेस्कुलर डिजीज हो सकती है।  

इन आसान और स्मार्ट ट्रिक्स को अपनाने से आप अपनी डाइट को काफी हद तक बेहतर बना सकती हैं। डाइट का खयाल रखने के साथ-साथ स्पोर्ट्स या दूसरी फिजिकल एक्टिविटी में भी शामिल होना चाहिए, इससे आप हेल्थ और हैप्पी लाइफ जी सकती हैं।